कामां में भाजपा व भुसावर में कांग्रेस में बगावत, बाड़ेबंदी में हुआ हंगामा

-आठ में से सात बोर्ड कांग्रेस के बनना संभव, हालांकि भाजपा में दो नपाओं में घमासान
-18 प्रत्याशियों ने भरे 26 नामांकन, डीग में सिर्फ कांग्रेस के एक प्रत्याशी ने भरा नामांकन

By: Meghshyam Parashar

Published: 16 Dec 2020, 02:00 PM IST

भरतपुर. नगरपालिका अध्यक्ष पद के लिए अब बगावत का खेल शुरू हो गया है। कामां में भाजपा के शहर मंडल अध्यक्ष प्रदीप गोयल ने बगावत करते हुए पत्नी सीमा गोयल का निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन पत्र दाखिल कराया। जबकि भुसार में कांग्रेस में बगावत हुई है। मंगलवार को दूसरे दिन 18 प्रत्याशियों ने भरे 26 नामांकन पत्र भरे हैं। बयाना में दो, भुसावर में तीन, डीग में एक, कामां में तीन, कुम्हेर में दो, नदबई में तीन, नगर में तीन, वैर में दो प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र भरे हैं। अब बोर्ड की बात करें तो कांग्रेस का सात नगरपालिकाओं में बोर्ड बनना तय माना जा रहा है तो एक नगरपालिका में अभी असमंजय की स्थिति बनी हुई है। बताते हैं कि वहां भी कांग्रेस में आंतरिक कलह भले ही सामने आ रही है, लेकिन बोर्ड को लेकर भी असमंजस है।
भाजपा शहर मंडल अध्यक्ष बोले: गैर मौजूदगी में निकाली लॉटरी
कामां. कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में वार्ड संख्या 22 से पार्षद गीता खण्डेलवाल तथा भाजपा की ओर से वार्ड संख्या 12 से पार्षद पुष्पा गोयल ने नामाकंन दाखिल किया। भाजपा से बगावत कर भाजपा शहर मण्डल अध्यक्ष प्रदीप गोयल की पत्नि वार्ड संख्या 21 से पार्षद सीमा गोयल ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामाकंन निर्वाचन अधिकारी के समक्ष पेश किया। कांग्रेस प्रत्याशी की बाड़ेबंदी के लिए स्थानीय विधायक जाहिदा खान को जहां भारी मशक्कत करनी पड़ रही थी। केवल तीन कांग्रेस के प्रत्याशी व कुछ निर्दलीय का सहयोग से बोर्ड बनाने में नाकामयाब हो रही थी। अब भाजपा में मंगलवार को बगावत होने से उन्हें कांग्रेस का बोर्ड आसानी मिल सकती है। भाजपा की बाड़ेबंदी में करीब बीस से बाइस पार्षदों बोर्ड बनाने के लिए जुगाड़ पूरा था। इनको उत्तर प्रदेश के वृन्दावन के आनंद रिसोर्ट में रोका गया था। जहां पार्टी बड़े नेताओं ने पुष्पा गोयल व सीमा गोयल के बीच आपसी सहमति नहीं बनने पर अध्यक्ष पद के लिए अपना प्रत्याशी बनाने के लिए लॉटरी सिस्टम अपनाया। जहां पुष्पा गोयल के नाम से अध्यक्ष पद की लॉटरी में नाम आया। जिसपर भाजपा शहर मण्डल अध्यक्ष प्रदीप गोयल ने एतराज जताते हुए कहा कि मेरी बिना अनुपस्थिति में लॉटरी निकाल बड़े नेताओं ने जानबूझ कर धोखा दिया है। जबकि मुझसे व्यवस्था के तौर पर नगदी भी जमा करा ली थी। उनके समर्थकों ने डांग विकास बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष जवाहर सिंह बेढ़म व भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रवीन्द्र जैन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

नदबई: कांग्रेस का बोर्ड बनना तय, तीन प्रत्याशियों ने भरे नामांकन
नदबई. तीन उम्मीदवारों की ओर से चार नामांकन दाखिल किए गए हैं। इनमें सबसे पहले नामांकन दाखिल किया। भाजपा प्रत्याशी व निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में दो नामांकन दाखिल किए। कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में वार्ड नंबर 31 से कांग्रेस की उम्मीदवारी पर जीती हरबती देवी ने नामांकन दाखिल किया। अंत में वार्ड नंबर एक से विजयी रही अर्चना देवी ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अध्यक्ष पद हेतु नामांकन दाखिल किया। हालांकि वर्तमान में विधायक के निर्देशन में कांग्रेस का बोर्ड बनना तय नजर आ रहा है, परंतु परिणाम से सबकुछ तय होगा।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने खोला मोर्चा, लगाए आरोप
भुसावर. नगर पालिका के चेयरमैन पद के लिए सुनीता प्रकाश चंद जाटव व चिरमोलीराम जाटब व भाजपा से इंदरमल पहाडिय़ा ने अपना नामांकन फार्म जमा कराए। सुनीता जाटव व चिरमोली राम जाटव ने दो-दो नामांकन फार्म जमा कराए हैं। जबकि इंदर मल पहाडिय़ा ने केवल एक ही फार्म दाखिल किया। वैर विधायक व राज्य मंत्री भजन लाल जाटव भी नगर पालिका भुसावर पहुंचे। जहां पर सुनीता प्रकाश चंद जाटव के फार्म जमा कराते समय मौजूद रहे । नगरपालिका अध्यक्ष पद हेतु चिरमोलीराम जाटव को कांग्रेस की ओर से दरकिनार कर निर्दलीय से जीतकर आई सुनीता को कांग्रेस का टिकट देने पर बगावत हो गई। जाटव ने राज्यमंत्री पर भी आरोप लगाए।


कांग्रेस ने की बयाना में बोर्ड बनाने की तैयारी
बयाना. कांग्रेस से प्रबल दावेदार विनोद कुमार बट्टा के बाद अब मंगलवार को निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में भाजपा के सिंबल पर जीते पार्षद कुमर पटेल ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन जमा कराया है। अब पालिका अध्यक्ष पद के लिए दोनों ही दावेदारी कर रहे हैं। कुमर पटेल भाजपा के सिंबल पर चुनाव जीते हैं वार्ड संख्या 16 से लेकिन भाजपा ने कोई प्रत्याशी पालिकाध्यक्ष पद के लिए नहीं उतारा है और यह पार्षद भी निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन जमा कराकर गए हैं। वहीं कांग्रेस के प्रत्याशी विनोद कुमार बट्टा को योग दावेदार मान रहे हैं बताया जा रहा है कि अब उनके पास बाड़े बंदी में करीब 30 पार्षद मौजूद हैं जबकि कुमर पटेल भी। हालांकि मंगलवार को करीब 2.45 बजे नामांकन जमा कराने पहुंचे।

कांग्रेस और भाजपा के प्रत्याशियों ने भरे नपा अध्यक्ष के पर्चे
कुम्हेर. नगर पालिका के अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस औऱ भाजपा ने उम्मीदवारों ने एसडीएम कार्यालय में पर्चे दाखिल किए। एसडीएम के पीए महेंद्र शर्मा ने बताया कि कांग्रेस की ओर से राजीव को भाजपा की ओर से प्रतापसिंह को नगर पालिका अध्यक्ष का प्रत्याशी बनाया गया। कस्बे में नगर पालिका के अध्यक्ष को लेकर दिनभर चर्चाओं का दौर जारी रहा। इस दौरान कस्बे में पार्षदो के खरीदफरोख्त की चर्चा भी आम लोगो में रही। अध्यक्ष पद के लिए दाबेदारी करने वालो के समर्थकों ने नवनिर्वाचित पार्षदो के परिजनों को भी प्रलोभन देने की भी चर्चा रही।
वैर में भी कांग्रेस ने चली सियासी चाल, बोर्ड बनना तय
वैर. वार्ड 18 से निर्दलीय पार्षद बने विष्णु कुमार ने अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस व निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में 2 नामांकन पत्र दाखिल किए है। वहीं नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन सुनील कुमार वार्ड 20 से निर्दलीय पार्षद बने है और अध्यक्ष पद के लिए निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन पत्र दाखिल किया है। इससे कांग्रेस व निर्दलीय के बीच सीधा मुकबला होने के आसार है। हालांकि कांग्रेसियों के अनुसार कांग्रेस खेमे में 18 पार्षद बताए जा रहे हैं। पूर्व चेयरमैन सुनील कुमार ने बताया कि कांग्रेस का टिकट मांगा था। उन्हें कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया है। इसलिए निर्दलीय चुनाव लड़ रहा हूं। विष्णु महावर वार्ड 18 से निर्दलीय पार्षद बने है। जबकि पूर्व चैयरमैन सुनील कुमार वार्ड 20 से निर्दलीय पार्षद बने है। वहीं कांग्रेस के टिकट पर वार्ड 16 से पार्षद बनी कृपा को कांग्रेस की ओर से चेयरमैन पद का प्रत्याशी नहीं बनाया जाना चर्चा का विषय बना हुआ है।

भाजपा के साथ फिर हुआ विश्वासघात, कांग्रेस का बोर्ड बनना लगभग तय
नगर. नगर पालिका में भाजपा की ओर से बोर्ड बनाने के दावे पर एक फिर पानी फिरता नजर आ रहा है। हालांकि भाजपा की ओर से भी अध्यक्ष पद के लिए उम्मीदवार मैदान में उतारा है। भाजपा के साथ हुए विश्वासघात से दुबारा से कांग्रेस का बोर्ड बनना लगभग तय हो गया है। राज्य मंत्री सुभाष गर्ग और विधायक वाजिब अली ने भाजपा में सेंध लगाकर एक बार फिर से भाजपा के टिकट पर जीत कर आए पार्षद रामावतार मितल को कांग्रेस से अध्यक्ष पद के लिए उम्मीदवार बनाया है। जबकि भाजपा ने वार्ड नौ से एक वोट से जीती रूपवती को अपना प्रत्यासी बनाया है। वहीं कांग्रेस से पूर्व में पालिका अध्यक्ष रहे प्रकाश कुमार ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर आवेदन किया है।

निरंजन टकसालिया को डीग नगरपालिका का निर्विरोध अध्यक्ष चुनना तय
डीग. नगरपालिका अध्यक्ष पद के लिए मंगलवार को कांग्रेस प्रत्याशी निरंजन टकसालिया ने निर्वाचन अधिकारी एसडीएम हेमंत कुमार के समक्ष नामांकन पत्र दाखिल किया। अन्य किसी उम्मीदवार की ओर से नामांकन पत्र नहीं भरे जाने के चलते टकसालिया का डीग नगरपालिका का अध्यक्ष चुना जाना निश्चित है। टकसालिया इससे पृर्व भाजपा के मंडल अध्यक्ष और भाजपा की ओर से डीग नगर पालिका के उपाध्यक्ष रह चुके है। वे इस बार कस्बे की वार्ड 38 से निर्विरोध पार्षद निर्वाचित हुए है । चुनाव परिणाम आने के बाद से ही वह अपने समर्थक करीब 15 पार्षदों के साथ भरतपुर विधायक विश्वेंद्र सिंह के पास पहुंच गए थे। जबकि अन्य एक दर्जन पार्षदों का गुट भी विधायक सिंह के संरक्षण में भरतपुर में इनके साथ ही एक रिसोर्ट में रुका हुआ था विधायक सिंह ने सभी पार्षदों की राय जानने के बाद निरंजन टकसालिया का नाम अध्यक्ष पद के लिए घोषित किया। जिस पर वहां मौजूद सभी पार्षदों ने सहमति जताई इसके बाद अनिरुद्ध भरतपुर के नेतृत्व में निरंजन टकसालिया को अध्यक्ष पद का नामांकन दाखिल करने के लिए डीग भेजा गया।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned