scriptGangaur ride turned out to be a splendid...Watch Video | ठाठ-बाट से निकली गणगौर की सवारी...देखिए वीडियो | Patrika News

ठाठ-बाट से निकली गणगौर की सवारी...देखिए वीडियो

शहर में निकली मां गणगौर की सवारी, झूमते चले श्रद्धालु
- जगह-जगह हुआ स्वागत, कई झांकियां रहीं शामिल

भरतपुर

Updated: April 04, 2022 09:24:53 pm

भरतपुर . कोरोना काल के बाद सोमवार को शहर में गणगौर माता की शोभायात्रा निकाली गई। इसमें श्रद्धालु झूमते हुए चले। शोभायात्रा का शहर में जगह-जगह स्वागत किया गया। शोभायात्रा में माता गणगौर के साथ हनुमानजी, गणेशजी, चौदह शिवलिंग, देवी मां एवं राधा-कृष्ण की झांकियां शामिल रहीं।
शहर में सनातन धर्म सभा की ओर से सनातन धर्म विश्राम गृह में गणगौर महोत्सव के दौरान हनुमान प्रसाद एडवोकेट ने पत्नी के साथ पूजा-अर्चना की। इसमें अन्य पदाधिकारी भी शामिल रहे। गणगौर शोभायात्रा लक्ष्मण मंदिर से शुरू हुई, जो कोतवाली, अनाह गेट बाजार होते अटलबंध गणेश मंदिर, बुद्ध की हाट गंगा मंदिर होते हुए चौबुर्जा के बाद लक्ष्मण मंदिर पर पहुंची। यहां शोभयात्रा का समापन हुआ। इस दौरान मंत्री निरंजन सिंह लवानियां, राकेश सर्राफ, राकेश सिंह एडवोकेट, सुरेश मुद्गल, अजय सर्राफ, यज्ञदत्त शर्मा, श्यामसुंदर शर्मा, अशोक कुमार शर्मा, हरिमोहन मित्तल, देवेन्द्र नाथ गुप्ता एडवोकेट, हरीशंकर शर्मा एडवोकेट आदि मौजूद रहे। इससे पहले सुबह महिलाओं ने मिट्टी की बनी गणगौर की गुना आदि से पूजा-अर्चना की।
ठाठ-बाट से निकली गणगौर की सवारी...देखिए वीडियो
ठाठ-बाट से निकली गणगौर की सवारी...देखिए वीडियो
यह है मान्यता

मान्यता हे कि मां पार्वती होली के दूसरे दिन अपने पीहर जाती हैं और आठ दिन बाद भगवान शिव उन्हें वापस लेने जाते हैं। इसलिए गणगौर का त्योहार होली की प्रतिपदा से आरंभ होता है। इस दिन सुहागिन महिला एवं कुंवारी कन्या मिट्टी के शिव को गण एवं माता पार्वती को गौर बनाकर उनका पूजन करती हैं। इसके बाद चैत्र शुक्ल तृतीया को गणगौर की विदाई की जाती है। इस गणगौर तीज भी कहा जाता है। यह पर्व नवविवाहिताओं के लिए खास होता है। चैत्र शुक्ल द्वितीया को किसी नदी, तालाब या सरोवर पर पूजी हुई गणगौर को पानी पिलाया जाता है। चैत्र शुक्ल पक्ष की तृतीया को शाम को गणगौर का विसर्जन किा जाता है। गणगौर तीज पर सुहागिनें अपने पति की लंबी आयु और अविवाहित युवतियां अच्छे वर की प्राप्ति के लिए व्रत रखती हैं।
पहले पूजन, फिर निकाली गणगौर की सवारी

अन्र्तराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन की महिला इकाई ने स्थानीय सनातन धर्म सभा विश्राम गृह में गणगौर पूजन कार्यक्रम किया। महामंत्री शोभा कंसल ने बताया कि गणगौर पूजन का विधिवत पूजन कार्यक्रम श्रीसनातन धर्म विश्राम गृह में गणमान्य नागरिकों एवं महिला इकाई अध्यक्षा सीमा मंगल की ओर से शाम चार बजे किया गया। इसमें महिला इकाई की 32 महिलाएं मौजूद रहीं। विधिवत पूजन उपरांत सभी ने गणगौर की सवारी में शामिल होकर सभी शहरवासियेां को अपनी संस्कृति से जुड़े रहने का संदेश दिया। इस कार्यक्रम में सरोज लोहिया, नीतू गर्ग, सुदेश गुप्ता, शशि सिंघल, अंजना बंसल आदि महिलाओं की विशेष भागीदारी रही। कार्यक्रम उपरांत महिला इकाई ने सभी को प्रसाद वितरण किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: पावर प्ले में बैंगलोर ने बनाए 1 विकेट के नुकसान पर 46 रनपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.