विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद गैंगस्टर लॉरेंस को सता रहा फेक एनकाउंटर का डर

केन्द्रीय कारागार सेवर में बंद गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई को उत्तरप्रदेश में बदमाश विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद स्वयं को एनकाउंटर होने का डर सताने लगा है।

By: rohit sharma

Published: 12 Jul 2020, 04:04 AM IST

भरतपुर. केन्द्रीय कारागार सेवर में बंद गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई को उत्तरप्रदेश में बदमाश विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद स्वयं को एनकाउंटर होने का डर सताने लगा है। गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई ने शुक्रवार को चंडीगढ़ की जिला अदालत में एक याचिका दायर की है। याचिका में उसने चंडीगढ़ पुलिस पर उसका फेक एनकाउंटर करने का अंदेशा जताया है। साथ ही उसने शराब कारोबारी अरविंद सिंगला के घर पर और सेक्टर-9 के ठेके पर चली गोली के मामलों में भी कोर्ट से अग्रिम जमानत मांगी है। प्रकरण में कोर्ट ने पुलिस को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। इस मामले में अग्रिम सुनवाई 13 जुलाई को होगी। गैंगस्टर के वकील तरमिंदर सिंह ने बताया कि पिछले महीने सेक्टर-33 में शराब कारोबारी अरविंद सिंगला के घर पर गोली थी। कुछ दिनों बाद सेक्टर-9 में शराब के ठेके पर भी फायरिंग हुई थी। इन घटनाओं में लॉरेंस का नाम सामने आया और पुलिस उससे पूछताछ के लिए प्रोडक्शन वारंट लेने की तैयारी में है।


दो साल से जेल में बंद है लॉरेंस

गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई करीब दो साल से सेवर जेल में बंद है। जोधपुर जेल में विवाद होने पर लॉरेंस को भरतपुर सेन्ट्रल जेल में शिफ्ट कर दिया था। गत दिनों जेल में उसकी बैरक की औचक जांच करने पर उसके पास से मोबाइल व ईयर फोन मिला था। जिस पर उसके खिलाफ सेवर पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। ताजा मामले में लॉरेंस के वकील ने पुलिस पर उसे केस में फंसाने की आशंका जताई है। उनका कहना है कि पुलिस प्रोडक्शन वारंट पर लॉरेंस को लेकर उसका फर्जी एनकाउंटर कर सकती है।


गैंगस्टर के फेसबुक एकाउंट से दी थी धमकी

जेल में बंद गैंगस्टर गत दिनों तब सुर्खियों में आया जब उसके कथित सोशल मीडिया के एक एकाउंट से धमकी दी थी। यह धमकी चुरू जिले के राजगढ़ में सीआई विष्णु दत्त की आत्महत्या को लेकर है। लॉरेंस विश्नोई नाम से कथित फेसबुक एकाउंट पर एक पोस्ट में कहा गया है कि विष्णुदत्त की मौत से उसका कोई लेनादेना नहीं है। उसकी मौत के लिए जिम्मेदार नेता मौत की तैयारी कर लेने की धमकी दी है। हालांकि, इससे पहले भी लॉरेंस के नाम से चल रहे एकाउंट से कथित पोस्ट अपडेट होती रही हैं। गत दिनों चण्डीगढ़ में हुए मर्डर के बाद इसी तरह एकाउंट पर बताया गया था। यह पोस्ट गत 26 मई को डाली गई है।
गौरतलब रहे कि सीआई की मौत की खबर के बाद उस दिन देर रात केन्द्रीय कारागार में गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई की सेल की पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने जांच की थी। मौके से दो मोबाइल व अन्य सामान मिला था। इसको लेकर सेवर थाने में मुकदमा भी दर्ज कराया गया है।

rohit sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned