scriptHalf-burnt unidentified body found in the forest, fear of strangulatio | जंगल में मिला अधजला अज्ञात का शव, गला घोंटकर हत्या की आशंका | Patrika News

जंगल में मिला अधजला अज्ञात का शव, गला घोंटकर हत्या की आशंका

डीग थाना कोतवाली के गांव बहज के जंगल में गुरुवार सुबह अधजले अज्ञात शव के मिलने से सनसनी फैल गई। शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर शिनाख्तगी के लिए अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है।

भरतपुर

Published: December 23, 2021 09:28:09 pm

भरतपुर. डीग थाना कोतवाली के गांव बहज के जंगल में गुरुवार सुबह अधजले अज्ञात शव के मिलने से सनसनी फैल गई। शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर शिनाख्तगी के लिए अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। सूचना पर एएसपी बुगलाल मीणा, सीओ प्रजापत व थानाधिकारी राजेश पाठक मौके पर पहुंचे और अज्ञात शव का मौका मुआयना कर कुछ साक्ष्य जुटाए। भरतपुर से एसएफएल टीम के साथ डॉग स्क्वायड टीम भी पहुंची जिन्होंने शव के पास ही पड़ी चप्पल के साथ मृतक के चश्मे के फ्रेम को अपने कब्जे में ले लिया है।
एएसपी मीणा ने बताया कि गुरुवार सुबह थाना कोतवाली पर सूचना मिली कि एक अधजला शव बहज की सीमा में पड़ा हुआ है। जिस पर वह स्वयं मौके पर पहुंचे और शव का मौका मुआयना किया। उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया शव किसी पुरुष का लगता है जिसकी उम्र 30 से 40 वर्ष हो सकती है। मृतक के गले में स्वापी मिली है जिससे लगता है शायद उसकी हत्या गला घोंटकर की गई है। शव को लेकर यहां लाकर पटका गया है। शव के जले होने से शिनाख्त नहीं हो पाई है। फिलहाल शव को शिनाख्तगी के लिए चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवा दिया है। गौरतलब है कि कुछ वर्ष पूर्व इस तरह की घटनाएं डीग के मालीपुरा रोड पर भी हुई थी जिनका अब तक कोई खुलासा नहीं हो पाया है।
जंगल में मिला अधजला अज्ञात का शव, गला घोंटकर हत्या की आशंका
जंगल में मिला अधजला अज्ञात का शव, गला घोंटकर हत्या की आशंका

बैक कर्मी बनकर साढ़े तीन हजार खाते से किए पार

बयाना. क्रेडिट कार्ड को चालू कराने का झांसा देकर एक ठग ने ग्रामीण के करीब साढे तीन हजार रुपए तीन-चार बार में ऑनलाइन उड़ा दिए। पीडि़तों को मोबाइल पर राशि निकलने का मैसेज आया तो पीडि़त ने पुलिस व बैंक को इसकी सूचना दी। जिस पर पुलिस ने पीडि़त के खाते को होल्ड कर दिया। कोतवाली के हैड कांस्टेबल सुरेशचंद मीणा ने बताया कि पुलिस को गांव ईटखेड़ा निवासी सुगरसिंह पुत्र मूला ने तहरीर दी है कि उसके मोबाइल पर एक ठग का फोन आया और उसने कहा कि आपका एसबीआई का क्रेडिट कार्ड बन्द हो गया है। उसे चालू कराने के लिए एटीएम कार्ड का नम्बर बताओ जिस पर पीडि़त ने नम्बर बता दिया। इसके बाद ओपीडी नम्बर भेजा उसको भी बता दिया। इस पर साइबर ठग ने पीडि़त के खाते से चार बाद में साढ़े तीन हजार रुपए ऑनलाइन पार कर दिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.