scriptList of leases issued from the corporation online | घोटाले के डेढ़ माह बाद ऑनलाइन की निगम से जारी पट्टों की सूची | Patrika News

घोटाले के डेढ़ माह बाद ऑनलाइन की निगम से जारी पट्टों की सूची

-जिन्हें पट्टे मिल चुके, वे देख सकते हैं सूची

भरतपुर

Published: September 14, 2022 12:06:56 pm

भरतपुर. अब नगर निगम की ओर से पट्टों की सूची को ऑनलाइन कर दिया गया है, इससे कोई भी व्यक्ति वेबसाइट पर जाकर पट्टों की सूची को देखकर यह पता लगा सकता है कि उसका पट्टा फर्जी है या असली। हालांकि यह प्रक्रिया जनवरी माह में ही हो जानी चाहिए थी, लेकिन नगर निगम की लापरवाही के कारण ऐसा संभव नहीं हो सका। इसी लापरवाही के कारण फर्जी पट्टा जारी करने वाले गिरोह को लाभ मिल गया। उल्लेखनीय है कि एकमात्र राजस्थान पत्रिका ने 29 जुलाई के अंक में फर्जी पट्टा प्रकरण का खुलासा किया था। उसी के बाद से नगर निगम के नाम से जारी फर्जी पट्टा घोटाले को प्रमुखता से उठाया जा रहा है।
नगर निगम से जारी पत्र में कहा है कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार सम्पूर्ण राज्य में दो अक्टूबर 2021 से प्रशासन शहरों के संग अभियान 2021 प्रारंभ किया गया। प्रशासन शहरों के संग अभियान 2021 के तहत नगर निगम की ओर से स्टेट ग्रान्ट एक्ट/कच्ची बस्ती नियमन/नगर पालिका अधिनियम 2009 की धारा 69-क एवं कृषि भूमि नियमन के पट्टे जारी किए गए हैं। नगर निगम से पट्टा जारी होने के उपरान्त पट्टाधारक की ओर से जारी पट्टे का उप पंजीयक कार्यालय से पंजीयन कराया जाता है। कार्यालय नगर निगम के नाम से जारी कूटरचित एवं फर्जी पट्टों का प्रकरण संज्ञान में आने पर निगम की ओर से जिस व्यक्ति के नाम से फर्जी पट्टा जारी किया गया है। उसके विरुद्ध पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराई गई हैं। आमजन के ध्यान में यह निवेदन किया जाता है कि फर्जी व कूटरचित पट्टों में महापौर, आयुक्त, कनिष्ठ अभियन्ता, सहायक अभियन्ता एवं सीनीयर ड्राफ्टमैन के फ र्जी व कूटरचित हस्ताक्षर किए गए हैं तथा फ र्जी व कूटरचित रसीद जारी करके आमजन के साथ धोखाधड़ी की गई है। पट्टाधारकों के सुलभ अवलोकन के लिए कार्यालय नगर निगम की ओर से स्टेट ग्रान्ट एक्ट/कच्ची बस्ती नियमन/धारा 69-क के अन्तर्गत एवं कृषि भूमि नियमन के तहत जारी किए गए पट्टों की सूची तैयार कर बेवसाइट पर ऑनलाइन अपलोड कर दी गई है।
घोटाले के डेढ़ माह बाद ऑनलाइन की निगम से जारी पट्टों की सूची
घोटाले के डेढ़ माह बाद ऑनलाइन की निगम से जारी पट्टों की सूची
सीबीआइ से कराई जाए फर्जी पट्टा प्रकरण की जांच

-भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष गिरधारी तिवारी बोले
भारतीय जनता पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष गिरधारी तिवारी ने फर्जी पट्टा प्रकरण को लेकर कांग्रेस सरकार के नुमाइंदों पर हमला करते हुए कहा है कि जिस प्रकार की तिलमिलाहट मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग के व्यवहार में देखी जा रही है उससे लगता है कि इस प्रकरण की सुई कहीं न कहीं उनके नजदीक तक भी पहुंच रही है। इसीलिए प्रशासन पर दबाव बनाकर प्रकरण को जमींदोज करने का कुत्सित प्रयास किया जा रहा है। मंत्री गर्ग भरतपुर की आम जनता को गुमराह करने के लिए दिखावे के रूप में फर्जी पट्टा प्रकरण की जांच एसओजी को सौंपने की बात कर रहे हैं जबकि सच तो यह है कि एसओजी सरकार के इशारों पर कार्य कर रही है जिसका सबूत कुछ ही दिन पूर्व शिक्षा के अब तक के सबसे बड़े घोटाले रीट में चीट को लेकर देखा गया है कि किस तरह एसओजी ने असली घोटालेबाजों तक न पहुंच कर केवल छोटे अपराधियों को पकड़कर अपने कार्य की इतिश्री कर ली। पूर्व जिलाध्यक्ष ने आगे कहा कि अगर मंत्री महोदय इतने ही पाक साफ हैं और अपना दम खम रखते हैं तो मुख्यमंत्री से सिफारिश कर इस प्रकरण की जांच सीबीआई या किसी अन्य सेन्ट्रल एजेन्सी से करवाए। ताकि दूध का दूध और पानी का पानी जनता के सामने आ जाएगा।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Swachh Survekshan 2022: लगातार छठी बार देश का सबसे साफ शहर बना इंदौर, सूरत दूसरे तो मुंबई तीसरे स्थान परअब 2.5 रुपये/किलोमीटर से ज्यादा दीजिए सिर्फ रोड का टोल! नए रेट लागूकांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए KN त्रिपाठी का नामांकन पत्र रद्द, मल्लिकार्जुन खड़गे और शशि थरूर में मुकाबला41 साल के शख्स को 142 साल की जेल, केरल की अदालत ने इस अपराध में सुनाई यह सजाBihar News: बिहार में और सख्त होगी शराबबंदी, पहली बार शराब पीते पकड़े गए तो घर पर चस्पा होंगे पोस्टर, दूसरी और तीसरी बार में मिलेगी ये सजास्वच्छता अभियान 2022 शुरू, 100 लाख किलो प्लास्टिक जमा करने का लक्ष्यसैनिटरी पैड के लिए IAS से भिड़ने वाली बिहार की लड़की को मुफ्त मिलेगा पैड, पढ़ाई का खर्च भी शून्यएयरपोर्ट पर 'राम' को देख भावुक हो गई बुजुर्ग महिला, छूने लगी अरुण गोविल के पैर, आस्था देख छलके आंसू
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.