राहत के बाद आफत...अब दुबारा से कच्चा परकोटा में नियमन के लिए आंदोलन

-झूठा निकला आश्वासन, समिति ने बैठक कर लिया निर्णय

By: Meghshyam Parashar

Published: 04 Oct 2021, 02:04 PM IST

भरतपुर. राजस्थान सरकार की ओर से प्रशासन शहरों के संग अभियान में कच्चा परकोटा में नियमन का आश्वासन झूठा निकल गया है। ऐसे में यह बात संघर्ष समिति के लिए भी राहत के बाद आफत से कम नहीं है। क्योंकि अब तक समिति को आश्वासन दिया जा रहा था कि इस बार पट्टे अवश्य मिल जाएंगे। इसको लेकर पिछले दो दशक से आंदोलन किया जा रहा है। सर्वे आदि की रिपोर्ट सबमिट हो चुकी है। तत्कालीन नगर निगम आयुक्त की ओर से भी तथ्यपरक रिपोर्ट भेजन को लेकर काफी विवाद हुआ था।
गाइडलाइन में शहर के कच्चे परकोटे को शामिल नहीं करने के विरोध में कच्चा परकोटा नियमन संघर्ष समिति की कोर कमेटी की बैठक रविवार को शाम चार बजे संयोजक जगराम धाकड़ की अध्यक्षता में उनके निवास परकी गई। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि राज्य सरकार की ओर से विगत 40-50 वर्षों से परम्परागत सघन आबादी के रूप में काबिज लोगों को पट्टे देने के लिए गाइड लाइन में शामिल नहीं करने के विरोध में संघर्ष समिति नगर निगम के सामने धरना एवं रैली निकालकर अपना विरोध प्रदर्शन करेगी। आन्दोलन से पूर्व स्थानीय मंत्री को चार को भरतपुर प्रवास के दौरान नगर निगम पहुंचकर ज्ञापन देगी। इसके बाद पांच अक्टूबर को जयपुर पहुंचकर मुख्यमंत्री एवं स्थानीय निकाय राजस्थान के निदेशक को प्रतिनिधि मण्डल की ओर से कच्चे परकोटे की गाइड लाइन पुन: शामिल करने का ज्ञापन दिया जाएगा। इस पर भी कार्यवाही नहीं हुई तो लोग शहर भर के निवासी धरना प्रदर्शन, रैली निकालकर जिला प्रशासन एवं राज्य सरकार से पट्टे देने की मांग करेंगे। यह भी निर्णय लिया गया कि इस संघर्ष में ज्ञापन देने के उपरांत कोई भी पट्टे देने की कार्यवाही नहीं की तो सभी परकोटे निवासी आन्दोलन के लिए सभी दलों के नेताओं को मंच पर लाकर आन्दोलन को गति देंगे। बैठक को किसान नेता यदुनाथ दारापुरिया, कैप्टन प्रताप सिंह, पार्षद भूपेंद्र शर्मा उर्फ चंदा पण्डा, गोपीकांत, पार्षद चतुर सिंह सैनी, हरिसिंह कश्यप, आरएन तिवारी, श्रीकृष्ण कश्यप, भागमल वर्मा, राजवीर सिंह चौधरी, नगर निगम के पूर्व नेता प्रतिपक्ष इन्द्रजीत भारद्धाज भूरा, सुरेश शर्मा आदि ने विचार रखे। बैठक में सभी भरतपुर शहर के सभी गेटों के निवासियों ने भाग लिया। संचालन श्रीराम चन्देला उप संयोजक कच्चा परकोटा नियमन संघर्ष समिति ने किया।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned