बगैर स्वीकृति लिए स्कीम नंबर 13 के आवेदन, अब राज्यमंत्री ने जताई नाराजगी

-बैठक में उठा मुद्दा, शहर की जनता लंबे समय से परेशान कि कब निकलेगी लॉटरी

By: Meghshyam Parashar

Published: 25 Nov 2020, 02:32 PM IST

भरतपुर. संभाग की सबसे बड़ी आवासीय योजना स्कीम नंबर 13 फुटबॉल बनी हुई है। कभी चुनावी समय पर इसे लांच कर दिया जाता है तो कभी इसे कुछ कारण बताकर रोक दिया जाता है। हकीकत यह है कि यह योजना शहर की जनता के लिए राजनीति का अखाड़ा बनकर रह गई है। बताते हैं कि पूर्व में वाइल्ड लाइफ की स्वीकृति के बिना ही आवेदन लिए गए थे। उस समय स्वीकृति को लेकर भी दावा किया गया था। अब मंगलवार को भरतपुर शहर की विकास योजनाओं की प्रगति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए तकनीकी एवं संस्कृत शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग संबधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे तो इस योजना का भी मुद्दा उठ गया। ऐसे में उन्होंने आरबीएम चिकित्सालय के पास नगर विकास न्यास की स्कीम 10 को चिकित्सालय विस्तार के लिए आरक्षित रखने के निर्देश दिए और कहा कि न्यास के अधिकारी इस पर गम्भीरता से विचार करें। बैठक में नगर विकास न्यास की स्कीम 13 की भूमि को बिना स्वीकृति के अवाप्त करने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि इस स्कीम की खामियों को शीघ्र दूर करें ताकि इस स्कीम में प्लाटों का आवंटन किया जा सके।
राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने सीवरेज के द्वितीय चरण का कार्य रही एलएण्डटी कम्पनी को निर्देश दिए हैं कि सम्पूर्ण कार्य आगामी अप्रेल माह तक पूरा करें और सीवरेज कनेक्शन के कार्य में नगर निगम व नगर विकास न्यास का सहयोग लें। उन्होंने कहा कि सीवरेज लाइन का जो रिवाइज एस्टिमेट तैयार कराया गया है उसे रूडसीको एवं नगर निगम आपसी समन्वय के साथ स्वीकृत कराएं। साथ ही भरतपुर शहर के शेष क्षेत्र में सीवरेज लाइन के लिए डीपीआर तैयार कराएं। उन्होंने कहा कि सीवरेज कनेक्शनों के लिए मकान मालिकों को समझाइश कर कनेक्शन के लिए आवेदन भरवाएं। बैठक में बताया गया कि एलएण्डटी कम्पनी ने शहर के बाहरी क्षेत्र में सीवरेज लाइन बिछाने का लगभग 90 प्रतिशत कार्य पूरा कर लिया है किन्तु भूमिगत जलस्तर ऊंचा होने के कारण कार्य में बाधा आ रही है। उन्होंने निर्देश दिए कि सीवरेज लाइन बिछाने के बाद सड़कों की मरम्मत के कार्यों में गति लाएं ताकि आमजन को परेशानी का सामना न करना पड़े। उन्होंने निर्देश दिए कि सीवरेज लाइन की कार्ययोजना बनाने वाली कम्पनी की ओर से गलत तथ्य प्रस्तुत करने पर उसे ब्लैकलिस्ट करें।
डॉ. गर्ग ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता को निर्देश दिये कि आगरा रोड से मथुरा रोड के लिए बनने वाले बाइपास रोड की कार्ययोजना शीघ्र तैयार कर स्वीकृति के लिए भिजवाएं ताकि इसे स्वीकृत कराकर कार्य प्रारम्भ कराया जा सके। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि राष्ट्रीय राजधानी परियोजना क्षेत्र में कार्य स्वीकृत कराने के लिए योजना बनाकर भिजवाएं साथ भरतपुर शहर से गन्दे एवं वर्षाजल की निकासी के लिए बनाए जा रहे प्लान को स्वीकृति के लिए भिजवाएं। बैठक में जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने कहा कि सीवरेज लाइन के कार्य को पूरा करने के नगर निगम एवं कार्यकारी एजेन्सी के अधिकारी आपसी समन्वय रखकर कार्य को गति दिलाएं। उन्होंने विश्वास दिलाया कि सीवरेज लाइन के रिवाइज एस्टीमेट को शीघ्र स्वीकृत करा दिया जाएगा। इस बैठक में नगर निगम के मेयर अभिजीत कुमार, जिला कलक्टर नथमल डिडेल, नगर विकास न्यास के सचिव राजेश गोयल, नगर निगम आयुक्त नीलमा तक्षक आदि उपस्थित थे।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned