जाटों ने भरी हुंकार, अब 25 दिसंबर से डाला जाएगा महापड़ाव

-भरतपुर व धौलपुर जिले के जाटों को केंद्र में ओबीसी वर्ग में आरक्षण का मामला

By: Meghshyam Parashar

Updated: 15 Dec 2020, 02:00 PM IST

भरतपुर. भरतपुर व धौलपुर जिले के जाटों को केंद्र में ओबीसी वर्ग में आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन किया जाएगा। 25 दिसंबर से महापड़ाव डाला जाएगा। भरतपुर संस्थापक महाराजा सूरजमल का बलिदान दिवस भी इसी दिन है जिसे जाट समाज बलिदान दिवस व संघर्ष दिवस के रूप में मनाने जा रहा है। सोमवार को पत्रकार वार्ता करते हुए भरतपुर-धौलपुर जाट आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक नेम सिंह फौजदार ने कहा कि भरतपुर और धौलपुर जिले के जाटों को केंद्र में ओबीसी वर्ग में आरक्षण की मांग काफी समय से की जा रही है और इस मांग के लिए 20 दिन पहले जाट महापंचायत आयोजित की गई।

इसमें सरकार को 20 दिन का समय दिया गया था लेकिन उसके बाद भी राज्य सरकार ने दोनों जिलों के जाटों को केंद्र में आरक्षण दिलाने के लिए आज तक केंद्र को सिफारिश चि_ी नहीं भेजी है। इससे लगता है कि सरकार सिर्फ आंदोलन की भाषा ही समझती है। पहला महापड़ाव आगरा जयपुर नेशनल हाइवे के पास शुरू किया जाएगा। उसके बाद जिले में कई जगह महापड़ाव शुरू होगा। जाट नेताओं ने कहा है कि महापड़ाव शुरू कर सभी जगह आंदोलन शुरू होगा।

इसमें रेल मार्ग व सभी प्रकार के नेशनल व स्टेट हाइवे जाम किए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि विगत महापंचायत के बाद पूरे जिले में गांव-गांव में नुक्कड़ सभाएं आयोजित की गई है और समाज के लोगों को आंदोलन के लिए एकजुट रहने की अपील की है। इस अवसर पर विजयसिंह फौजदार कौंरेर, बृजेश कुमार सरपंच, कमल सिह इंदौलिया, ईश्वर सिंह बल्लभगढ़, कप्तान सरपंच, जगदीश सरसेना, सुनील सरपंच नोहरदा, अन्नू ठाकुर आदि उपस्थित थे।

यह है मामला

जाट नेताओं ने बताया कि 2017 में हुए जाट आंदोलन समझौता के दौरान राज्य सरकार ने जाटों को वायदा किया था कि दोनों जिलों के जाटों को केंद्र में आरक्षण के लिए राज्य सरकार चि_ी लिखेगी व दर्ज मुकदमों को वापस लिया जाएगा। चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति दी जाएगी लेकिन सरकार ने इन मांगों को अभी तक पूरा नहीं किया है। समाज ने सरकार को 20 दिन का समय दिया था मगर सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया है इसलिए अब जाट समाज सरकार के साथ आर पार की लड़ाई लड़ेगा।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned