परिक्रमा मार्ग कर रखा था अतिक्रमण, जेसीबी ने ध्वस्त किए 15 पक्के निर्माण

डीग उपखण्ड के गांव सावई में गुरुवार को एसडीएम हेमंत कुमार के निर्देश पर कार्यवाहक तहसीलदार सीमा बघेल के नेतृत्व में ग्राम पंचायत प्रशासन ने पुलिस के दस्ते की मौजूदगी में जेसीबी की सहायता से ब्रज चौरासी परिक्रमा मार्ग में आने वाले 15 पक्के अतिेक्रमण ध्वस्त कर दिए गए।

By: rohit sharma

Published: 08 Oct 2020, 09:15 PM IST

भरतपुर. डीग उपखण्ड के गांव सावई में गुरुवार को एसडीएम हेमंत कुमार के निर्देश पर कार्यवाहक तहसीलदार सीमा बघेल के नेतृत्व में ग्राम पंचायत प्रशासन ने पुलिस के दस्ते की मौजूदगी में जेसीबी की सहायता से ब्रज चौरासी परिक्रमा मार्ग में आने वाले 15 पक्के अतिेक्रमण ध्वस्त कर दिए गए।

ग्राम विकास अधिकारी कीर्ति जोशी ने बताया है कि ग्राम पंचायत सामई मे ब्रज चौरासी कोस परिक्रमा मार्ग का निर्माण इसके बीच में आ रहे 32 पक्के अतिक्रमण के चलते कार्य काफी समय से रुका पड़ा था। ग्राम पंचायत सामई उक्त लोगों को नोटिस जारी कर निर्माण को हटाने के लिए पाबंद किया था जिस पर 16 जनों ने स्वेच्छा से अपने निर्माण हटा लिए थे। इसके बाद गुरुवार को ग्राम पंचायत ने कार्रवाई कर ब्रज चौरासी कोस परिक्रमा मार्ग से 15 पक्के अतिक्रमणों को हटाया। एक अतिक्रमण को आधा ध्वस्त करने के दौरान उसके मालिक छत्तर पुत्र धर्मी शर्मा द्वारा अपने शेष अतिक्रमण को स्वयं हटाने का भरोसा दिलाते हुए शुक्रवार दोपहर 12 बजे तक का समय ग्राम पंचायत प्रशासन से मांगा। जिस पर उसे मोहलत देते हुए कार्रवाई रोक दी गई।

मिनी ट्रक की चपेट में आने से बालक की मौत

पड़ोसी जिले मथुरा के थाना मगोर्रा के गांव रसूलपुर के पास अनियंत्रित मिनी ट्रक की चपेट में आने से एक सात बालक की मौत हो गई।
ग्राम रसूलपुर में कृष्णा पुत्र पवन कुमार शाम को अपने घर से बाहर खेलने जा रहा था। इस बीच भरतपुर की ओर से आ रहे अनियंत्रित मेटाडोर ने टक्कर मार दी। जिसमें उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। एसओ मगोर्रा शशिपाल शर्मा ने बताया कि ट्रक की चपेट में आने से बालक की मौत हो गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवाया है। पिता ने ट्रक चालक के खिलाफ तहरीर दी है।

rohit sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned