भरतपुर के इतिहास की सबसे बड़ी होगी रीट की परीक्षा

-एक ही दिन में दो पारियों में 51,743 अभ्यर्थी देंगे परीक्षा, इस बार तहसील मुख्यालयों पर भी बनाए परीक्षा केंद्र, अब प्रवेश पत्र का इंतजार

By: Meghshyam Parashar

Published: 13 Sep 2021, 08:58 AM IST

भरतपुर. अब तक भरतपुर के इतिहास में दो या तीन दिन में 35 हजार से 40 अभ्यर्थियों की परीक्षा हुई है, लेकिन ऐसा पहली बार होगा कि इतिहास की सबसे बड़ी रीट परीक्षा होगी। इसमें 51 हजार 743 अभ्यर्थी एक ही दिन दो पारियों में परीक्षा देंगे। इसके लिए शहर समेत जिलेभर में 199 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।
जिला कोर्डिनेटर सह आचार्य अशोक कुमार अग्रवाल 199 परीक्षा केंद्रों पर 51 हजार 743 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। भरतपुर शहर में 94, कुम्हेर में 12, डीग में 17, कामां में पांच, नदबई में 16, नगर में 11, रूपवास में 14, बयाना में 17, वैर में 13 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इधर, राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा 2021 के लिए अब युवाओं को परीक्षा प्रवेश पत्र का इंतजार है। इससे वो वहां जाने का इंतजाम कर सकें। इस परीक्षा के प्रवेश पत्र अब तक आ जाने चाहिए थे, लेकिन अब संभावना है कि मंगलवार तक प्रवेश पत्र आ जाएंगे। तीन साल बाद हो रही इस परीक्षा को लेकर युवाओं में भी काफी उत्साह है। जिले के ग्रामीण इलाकों में भी इस परीक्षा को लेकर अधिक उत्साह देखने को मिल रहा है। इसकी अधिक तैयारी युवतियां कर रही है। इसमें भी शादी के बाद भी तैयारी करने वाली महिला अभ्यर्थियों की संख्या अधिक है। शिक्षक की नौकरी महिलाओं के लिए अधिक उपयुक्त भी मानी जाती है। इसके कारण इसकी तैयारी भी युवतियां अधिक कर रही हैं।

आभूषण भी नहीं पहन सकेंगे, पानी की बोतल ले जा सकेंगे

रीट परीक्षा में घड़ी, अंगूठी, गले की चेन, कान की रिंग और किसी प्रकार का आभूषण नहीं पहन सकेंगे। इसके अतिरिक्त परीक्षा में पर्स, हैंड बैग और डायरी भी नहीं ले जा सकते हैं। परीक्षा के दौरान मोबाइल, ब्लूटूथ और कैलकुलेटर का इस्तेमाल प्रतिबंधित रहेगा। इस प्रवेश परीक्षा में केवल पानी की बोतल लाने की छूट दी गई है। यह परीक्षा दो पारियों में होगी। इसका समय लेवल टू पहली पारी में सुबह 10 बजे से साढ़े 12 बजे तक तथा ढाई बजे से शाम छह बजे तक होगी। परीक्षा केंद्र के बाहर अनुचित साधनों के प्रयोग करने पर जेल जाने की चेतावनी के पोस्टर लगाए जाएंगे। इसमें परीक्षार्थी केवल मात्र प्रवेश पत्र, नीला या काले रंग का पैन, मान्य पहचान पत्र और इसकी स्वप्रमाणित छाया प्रति साथ में ले जा सकेंगे। इस परीक्षा को बहुत संवेदनशील समझा जाता है इसके हिसाब से ही अधिक तैयारी की जाती है। इससे इसकी सुरक्षा और गोपनीयता बनी रह सके।

मास्क की होगी विशेष जांच

हाल में ही परीक्षा को लेकर मास्क में ब्लूटूथ आदि लगाकर नकल कराने की कोशिश के मामले सामने आने के बाद अब प्रबंधन भी सजग हो गया है। ऐसे में अगर कोई भी अभ्यर्थी विशेष तरह का मास्क पहन कर आता है तो उसकी जांच की जाएगी। इसको लेकर अगले दो-चार दिन में परीक्षा संचालन समिति की ओर से विशेष गाइडलाइन भी जारी की जा सकती है। चूंकि समिति का मानना है कि राजस्थान की सबसे बड़ी परीक्षा में कोई भी गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके साथ सभी एजेंसियों व पुलिस को भी परीक्षा विवाद रहित कराने के लिए अलर्ट कर दिया गया है।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned