अब ईएनटी रोगियों की माइक्रोस्कोप मशीन से हो सकेगी सर्जरी

-राज्यमंत्री डॉ. सुभाष के प्रयासों से भामाशाह ने सौंपा दो लाख रुपए का चेक

भरतपुर. अब मेडिकल कॉलेज में आने ईएनटी रोगियों को सर्जरी के लिए रैफर नहीं करना पड़ेगा। क्योंकि जल्द ही माइक्रोस्कोप मशीन अस्पताल में आएगी। इसके लिए चिकित्सा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग के प्रयासों से जिलेे के ऋषि किरण लोजिस्टिक्स प्रालि तथा किरण ग्रुप गांधीधाम की ओर से चिकित्सालय की ईएनटी शाखा को माइक्रोस्कोप मशीन उपलब्ध कराने के लिए शुक्रवार को राजस्थान मेडिकल रिलीफ सोसायटी के चेयरमैन एवं जिला कलक्टर नथमल डिडेल को दो लाख रुपए का चेक सौंपा गया। आरबीएम अधीक्षक डॉ. नवदीप सिंह सैनी ने बताया कि पूर्व में भी इन्हीं भामाशाह रमेश चंद गुप्ता की ओर से पूर्व जिला प्रमुख द्वारका प्रसाद गोयल के माध्यम से आरबीएम तथा जनाना अस्पताल की समस्याओं को दृष्टिगत रखते हुए शिशु वार्ड के लिए सात वार्मर दिए तथा शुक्रवार को भामाशाह गुप्ता ने आरबीएम की ईएनटी शाखा के लिए माइक्रोस्कोप मशीन उपलब्ध कराने के लिए जिला कलक्टर नथमल डिडेल को चेक सौंपा। उल्लेखनीय है कि ऋषि किरण ग्रुप के चेयरमैन रमेश चंद गुप्ता ने राजस्थान के स्थानीय प्रतिनिधि व छौंकरवाड़ा कलां निवासी द्वारका प्रसाद गोयल को भरतपुर अस्पताल के अधीक्षक डॉ. नवदीप सिंह सैनी एवं ईएनटी विभागाध्यक्ष डॉ. प्रियंका अग्रवाल से मुलाकात की जिन्होंने ईएनटी शाखा के ऑपरेशन थियेटर में माइक्रोस्कोप मशीन का अभाव बताया। डॉ. प्रियंका अग्रवाल ने बताया कि माइक्रोस्कोप मशीन के अभाव में प्रतिदिन 15 से 20 ईएनटी रोग से संबंधित मरीज जयपुर रैफर किए जाते हैं। माइक्रोस्कोप मशीन उपलब्ध होने पर ऐसे मरीजों का उपचार स्थानीय स्तर पर ही सम्भव हो जाएगा और रोगियों को भरतपुर से जयपुर के लिए रैफर नहीं करना पड़ेगा। डॉ. सैनी ने बताया कि ऋषि किरण लोजिस्टिक्स प्रालि तथा किरण ग्रुप गांधीधाम के चेयरमैन रमेश चंद गुप्ता ने जनाना अस्पताल के शिशु वार्ड को 7 वार्मर दिए जिसकी कुल कीमत दो लाख 24 हजार है।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned