16 मई से शुरू होगी 16वीं जनगणना

भारत की 16 वीं जनगणना 2021 के लिए एडीएम प्रशासन एवं जिला जनगणना अधिकारी नरेश कुमार मालव की अध्यक्षता में सोमवार को कलक्ट्रेट सभागार में बैठक हुई।

By: rohit sharma

Published: 06 Jan 2020, 10:48 PM IST

भरतपुर. भारत की 16 वीं जनगणना 2021 के लिए एडीएम प्रशासन एवं जिला जनगणना अधिकारी नरेश कुमार मालव की अध्यक्षता में सोमवार को कलक्ट्रेट सभागार में बैठक हुई। एडीएम प्रशासन मालव ने कहा कि समस्त पंचायत समिति क्षेत्र के लिए तहसीलदार को चार्ज अधिकारी के रूप में पदस्थपित किया गया है जिनकी जनगणना कार्य को पूर्ण रूप से सम्पादित कराने की सम्पूर्ण जिम्मेदारी रहेगी। इसका प्रमाण पत्र भी इनको देना होगा।

उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त विशेष क्षेत्राधिकार प्रतिबंधित क्षेत्रों के लिए अलग से चार्ज अधिकारी उन क्षेत्र विशेष के अधिकारियों को नियुक्त किया जाएगा इसमें समस्त क्षेत्रफल एवं व्यक्तियों को समाहित करने के उद्देश्य से जनगणना 2021 के पश्चात समस्त क्षेत्राधिकार परिवर्तन को शामिल करते हुए ग्रामीण एवं नगरीय ढांचे को अद्यतित किया गया। इसके तहत तहसील वार ग्राम सूची एवं नगर क्षेत्रों के वार्डों को अद्यतन करते हुए अन्तिम रूप दिया गया है। इस अंतिम सूची के अनुसार ही जनगणना ब्लॉकों की गणना कर जनगणना कार्य कराया जाएगा। आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के उपनिदेशक मानसिंह ने बताया कि मकान सूची करण, मकान गणना एवं राष्ट्रीय जनगणना रजिस्टर की अद्यतन करने का कार्य 16 मई से 30 जून 2020 तक प्रथम चरण में किया जाएगा। इस कार्य को सम्पन्न करने के लिए सभी जनगणना चार्ज अधिकारियों को अनुमानित संख्या से अवगत कराते हुए उनका डेटाबेस एकत्रित कर 21 जनवरी तक जनगणना निदेशायलय को आवश्यक रूप से भिजवाने के निर्देश दिए गए। साथ ही ऐसे प्रतिबंधित क्षेत्र जिसमेें प्रवेश प्रतिबंधित है, ऐसे क्षेत्रों के लिए विशेष चार्ज क्षेत्र शीघ्र प्रस्तावित किए जाने बाबत निर्देशित किया गया। सभी जनगणना चार्ज अधिकारियों की अपने कार्यालय में जनगणना प्रकोष्ठ का गठन कर भिजवाने के निर्देश दिए गए।

rohit sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned