scriptThe attendants coming to get medicine themselves are getting sick | बेदर्द व्यवस्था : दवा दिलाने आ रहे तीमारदार खुद हो रहे बीमार | Patrika News

बेदर्द व्यवस्था : दवा दिलाने आ रहे तीमारदार खुद हो रहे बीमार

- दवा से पहले हो रहा दर्द से वास्ता
- तपती धूप में घंटों कतार में जूझने को विवश

भरतपुर

Published: March 26, 2022 08:48:33 am

भरतपुर . मार्च में तपती दुपहरी के बीच आरबीएम अस्पताल आ रहे मरीजों बदइंतजामी की पीर सहनी पड़ रही है। यहां मरीजों का दवा से पहले दर्द से पाला पड़ रहा है। ऐसे में मरीज और उनके तीमारदार हलकान हो रहे हैं। दवा काउंटरों के बाहर खुले आसमां के नीचे लाइन में पिसते मरीजों के तीमारदार खुद बीमार हो रहे हैं, लेकिन अस्पताल प्रशासन इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है।
मार्च माह में ही तापमान तेजी से दौड़ लगा रहा है। नए अस्पताल के निर्माण कार्य के दौरान अस्पताल प्रशासन ने दवा काउंटर पुरानी बिल्डिंग में खोल दिए हैं। यहां छाया के कोई इंतजाम नहीं है। ऐसे में मरीजों को तेज धूप के बीच खड़ा रहकर दवा लेने को विवश होना पड़ रहा है। कई मरीज तेज धूप के बीच लगातार खड़े होने के कारण गश खा रहे हैं, लेकिन अस्पताल प्रशासन मरीज एवं उनके तीमारदारों की पीर को अनदेखा कर रहा है। कई मर्तबा लोगों ने इस संबंध में अपनी फरियाद आरबीएम अस्पताल प्रशासन को सुनाई है, लेकिन अब तक नतीजा सिफर ही रहा है। हालांकि अस्पताल प्रशासन ने यहां टिनशैड प्रस्तावित कर रखी है। इसके लिए खंभे भी गढ़ गए हैं, लेकिन अभी तक टिनशैड डलने का काम नहीं हो सका है। इसके चलते मरीजों को खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है।
बेदर्द व्यवस्था : दवा दिलाने आ रहे तीमारदार खुद हो रहे बीमार
बेदर्द व्यवस्था : दवा दिलाने आ रहे तीमारदार खुद हो रहे बीमार
दो घंटे में आ रहा नंबर

दवा काउंटर के बाहर खड़ी भरतपुर निवासी सुनीता ने बताया कि तेज धूप में खड़ा नहीं रहा जाता है। करीब एक घंटे से तेज धूप में पल्लू सिर पर ढंककर खड़ी हूं, लेकिन अभी तक नंबर नहीं आ सका है। ज्यादा देर तक धूप में खड़े रहने के कारण चक्कर से आने लगते हैं। वहीं मरीज कोमल ने बताया कि उनके परिजन काफी देर से धूप में खड़े हैं, जो पसीने-पसीने हो रहे हैं, लेकिन अभी तक दवा लेने का नंबर नहीं आ सका है। छाया नहीं होने से और परेशानी बढ़ रही है। तेज धूप में लगातार खड़े रहने के कारण उनके साथ परिजन भी बीमार हो रहे हैं।
यूं भी बढ़ रही परेशानी

आरबीएम अस्पताल की पुरानी बिल्डिंग को तोडऩे का काम तेजी से चल रहा है। ऐसे में पुरानी दवा काउंटर पुराने बिल्डिंग की ओर ही संचालित हो रहे हैं, लेकिन यहां न छाया के इंतजाम हैं और न पानी के। कई बार फार्मासिस्ट सीट छोड़कर पानी पीने चले जाते हैं तो मरीजों की तकलीफ और बढ़ जाती है। पेयजल के नाम पर नई बिल्डिंग की ओर जाते समय एक प्याऊ लगी है, जो वहां से दूर पड़ती है। इसके अलावा यहां दवा काउंटरों के पास टॉयलेट आदि की भी व्यवस्था नहीं है। ऐसे में मरीजों के साथ फार्मासिस्ट भी परेशानी झेलते हैं।
मौसम बदलते ही बढ़े मरीज

मौसम में तल्खी आने के साथ ही अस्पताल में मरीजों की भीड़ बढ़ गई है। मुख्य रूप से सर्दी, जुकाम-खांसी एवं वायरल के मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। इसके चलते आउटडोर के मरीज खूब बढ़ गए हैं। इसके अलावा चर्म रोग से संबंधी मरीज भी खूब अस्पताल पहुंच रहे हैं। चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. सुरेखा ने बताया कि चर्म रोग के मरीजों की ओपीडी इन दिनों 200 के आसपास चल रही है। मौसम बदलने के साथ मरीजों की संख्या बढ़ी है।डॉ. सुरेखा ने बताया कि हालांकि अभी यह कम है। मौसम में उमस बढऩे पर रोगियों की संख्या में और इजाफा होगा।
इनका कहना है

मरीजों की परेशानी को देखते हुए जल्द ही टिनशैड का निर्माण कराया जाएगा।
- के.के. गोयल, सचिव यूआईटी भरतपुर

इनका कहना है

टिनशैड का काम यूआईटी की ओर से होना है। इसके लिए अस्पताल की ओर से कई बार कह दिया गया है।
- डॉ. जिज्ञासा शाहनी, अधीक्षक आरबीएम अस्पताल भरतपुर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.