scriptVoices of protest now raised amid political comment | सियासी कमेंट के बीच अब उठे विरोध के स्वर | Patrika News

सियासी कमेंट के बीच अब उठे विरोध के स्वर

-महिला आरएएस नीलिमा तक्षक के सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने का मामला

भरतपुर

Published: November 18, 2021 12:14:02 pm

भरतपुर. नगर निगम की तत्कालीन आयुक्त नीलिमा तक्षक की ओर से मुख्यमंत्री के शिक्षकों से जुड़े कार्यक्रम को लेकर एक पोस्ट पर टिप्पणी करने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। आश्चर्य की बात यह है कि पिछले कुछ माह पूर्व में तक्षक के नगर निगम में कार्यकाल के दौरान जो पार्षद उनके समर्थन में आंदोलन कर रहे थे, उन्हीं में से तीन पार्षद अब उनके विरोध में खड़े नजर आए। साथ ही जो उनका विरोध कर रहे थे, उनमें से भी कुछ पार्षद इस गुट में नजर आए। उल्लेखनीय है कि 16 नवंबर को भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. शैलेष दिगंबर सिंह की फेसबुक आईडी से डाली गई पोस्ट में लिखा कि 'अशोक गहलोत जी शिक्षकों से - ट्रांसफर के पैसे तो नहीं देने पड़ते? शिक्षक- देने पड़ते हैं। इस पोस्ट पर बहुतेरे कमेंट आए, लेकिन आरएएस अधिकारी एवं नगर निगम की तत्कालीन आयुक्त नीलिमा तक्षक ने एक कमेंट में पार्षद सतीश सोगरवाल को लेकर गंभीर आरोप जड़ दिए। इसके साथ उन्होंने एक और कमेंट में आशु गर्ग और ठेकेदार बिकेन्दर उर्फ बीके पर भी आरोप जड़े। इसमें यह भी कहा कि बाकी तो इनके आका के आंख पर पट्टी बंध रखी है।
सेवर पंचायत समिति सभागार में पंचायत समिति सदस्य, सरपंच एवं नगर निगम के पार्षदों की संयुक्त बैठक हुई। इसमें सेवर पंचायत समिति की प्रधान शकुन्तला एवं नगर निगम के मेयर अभिजीत कुमार भी मौजूद थे। इसमें सर्वसम्मति से तक्षक की ओर से की गई टिप्पणी की भत्र्सना की गई और निर्णय लिया गया कि तक्षक को निलम्बित करने के लिए मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा जाएगा। बैठक के बाद आयोजित पत्रकार वार्ता में पार्षद सतीश सोगरवाल की पत्नी एवं सेवर पंचायत समिति की प्रधान शकुंतला ने उनके पति एवं परिवार पर तक्षक की ओर से लगाए गए झूठे आरोपों की भत्र्सना करते हुए कहा कि उन्होंने उनके परिवार की छवि खराब करने के लिए ये आरोप लगाए हैं। पार्षद सतीश सोगरवाल ने कहा कि उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से उनको एवं उनके परिवार की छवि को भारी नुकसान पहुंचाया है। उन्होंने बताया कि भरतपुर से जाने के बाद तक्षक से कोई वार्ता तक नहीं हुई और भरतपुर में कार्य करते समय कोई मनमुटाव भी नहीं हुआ बल्कि उनके कार्य में सहयोग अवश्य किया। सरपंच संघ के अध्यक्ष रणधीर सिंह ने इस कृत्य के विरोध में आंदोलन किया जाएगा।
सियासी कमेंट के बीच अब उठे विरोध के स्वर
सियासी कमेंट के बीच अब उठे विरोध के स्वर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां

बड़ी खबरें

Mizoram Earthquake: मिजोरम में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर रही 5.6 तीव्रताराष्ट्रीय युद्ध स्मारक में विलय की गई अमर जवान ज्योति की लौ; देखें VIDEO'हिजाब' पर कर्नाटक के शिक्षा मंत्री के बयान पर बवाल! जानिए क्या है पूरा मामलापंजाब विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने जारी की पहली लिस्ट, 34 उम्मीदवारों को दिया टिकटदिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारBJP की दूसरी लिस्ट जारी: 85 प्रत्याशियों में 15 महिलाएं, अदिति सिंह रायबरेली, रामवीर उपाध्याय को सादाबाद से टिकट, IPS असीम को मिला कन्नौजकोरोना की रफ्तार से ऑफलाइन हो सकती है 12वीं-10वीं की बोर्ड परीक्षा! CGBSE ने की ये तैयारीBHU के रजत जयंती से जुड़ी गांधी की स्मृतियों को NSUI ने किया याद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.