दीवारों पर उकेर रहे घना की खूबसूरती

दीवारों पर उकेर रहे घना की खूबसूरती

raghuveer singh | Publish: Apr, 24 2016 07:42:00 AM (IST) Bharatpur, Rajasthan, India

कोटा रेल मण्डल में सवाईमाधोपुर के बाद भरतपुर स्टेशन पर पेटिंग्स बनाने का काम शुरू हो गया है। कुछ पेटिंग बनकर तैयार हो चुकी है, जो देखते बरबस यात्रियों को अपनी तरफ खींच रही हैं।

कोटा रेल मण्डल में सवाईमाधोपुर के बाद भरतपुर स्टेशन पर पेटिंग्स बनाने का काम शुरू हो गया है। कुछ पेटिंग बनकर तैयार हो चुकी है, जो देखते बरबस यात्रियों को अपनी तरफ खींच रही हैं।


 इनमें विश्व प्रसिद्ध केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान के वन्यजीव को उकेरा जा रहे हैं। स्टेशन की दीवार पर बनाई एक पेटिंग घना से लुत्फ हो चुके साईबेरियन क्रेन के जोड़े का है।


ज्ञात रहे कि गत रेल बजट में रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने देश के कुछ चुनिंदा रेलवे स्टेशनों पर राष्ट्रीय उद्यान व टाइगर रिजर्व पार्कों का प्रचार-प्रसार करने के उद्देश्य से पेटिंग्स बनाने की योजना रखी थी।


इसमें रेलवे ने कोटा मण्डल के सवाईमाधोपुर स्टेशन को चुना, जहां गत दिनों टाइगर रिजर्व पार्क की सुन्दरता और बाघ के कई चित्र यहां स्टेशन की दीवारों पर बनाए थे।


 इस चित्रकारी का जिम्मा डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के माध्यम से रणथम्भौर स्कूल ऑफ आर्ट सोसासटी सवाईमाधोपुर के पेंटर संभाल रहे हैं।


कई स्थानों पर बनेंगी पेटिंग
स्टेशन पर ये पेटिंग बाहरी व अंदर प्लेटफॉर्म की दीवारों पर बनाई जाएगी। इसके अलावा वेटिंग रूम और प्रवेश द्वार व फुट ओवरब्रिज पर भी घना के पक्षी और जंगल की खूबसूरती यहां दीवारों पर दिखाई देगी। कुछ दिन पहले ही पेंटरों ने यहां स्टेशन पर काम शुरू किया था। धीरे-धीरे पेटिंग उभर कर सामने आने लगी हैं तो लोग यकायक देखकर यहां ठहर जाते हैं।


दस लाख रुपए का आएगा खर्चा
पेंटिग पर करीब दस लाख रुपए खर्चा आएगा। इसके लिए पिछले दिनों ही नगर सुधार न्यास की ओर से स्वीकृति जारी की गई थी। ये पेटिंग स्टेशन पर करीब 370 वर्ग मीटर क्षेत्र में बनाई जाएगी। इन स्थानों पर चयन पिछले दिनों जिला कलक्टर रवि जैन सहित अन्य अधिकारियों ने स्टेशन के भ्रमण के दौरान चिह्नित किया था। डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के भटनागर ने बताया कि पेटिंग के जरिए घना की खूबसूरती दिखाना मुख्य उद्देश्य है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned