168 दिनों बाद जिला में फिर मिले रिकार्ड संक्रमित, 320 पॉजिटिव, दो ने तोड़ा दम

जिला में लॉकडाउन नहीं तो नाइट कफ्र्यू लगाना होगा.

By: Abdul Salam

Published: 19 Mar 2021, 10:34 PM IST

भिलाई. जिला में शुक्रवार को रिकार्ड 320 नए संक्रमित मिले हैं। इसके पहले 2 अक्टूबर 2020 को 373 पॉजिटिव मरीज मिले थे। 168 दिनों बाद फिर एक बार संक्रमितों की संख्या शीर्ष की ओर बढ़ रही है। प्रियदर्शनी परिसर, नेहरू नगर में रहने वाले एक ही परिवार के चार सदस्य संक्रमित मिले हैं। संक्रमितों की संख्या जिस तरह से बढ़ रही है, उसको देखते हुए अब आम लोग खुद कहने लगे हैं कि जिला में लॉक डाउन नहीं तो कम से कम नाइट कफ्र्यू लगाने की जरूरत है। जिससे कोरोना वायरस की बढ़ती संख्या नियंत्रित हो सके।

30 हजार से अधिक हुए संक्रमित
जिला में अब तक 30093 लोग संक्रमित हो चुके हैंं। जिसमें से 27477 मरीज ठीक हो चुके हैं। एक्टिव केस बढ़कर 1953 हो चुका है। अब तक 662 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। सेक्टर-1 में रहने वाले एक ही परिवार के तीन सदस्य संक्रमित हुए हैं। शिवाजी नगर सुपेला में रहने वाले एक ही परिवार के तीन सदस्य संक्रमित मिले हैं। कोहका में रहने वाले एक ही परिवार के तीन सदस्य संक्रमित हुए हैं। उमदा में रहने वाले एक ही परिवार के दो सदस्य संक्रमित हुए हैं। पद्मनाभपुर, दुर्ग रहने वाले एक ही परिवार के दो सदस्य संक्रमित हुए हैं।

दो की मौत
भिलाई में रहने वाली 60 साल की बुजुर्ग महिला को 11 मार्च 2021 को डीसीएच शंकराचार्य हॉस्पिटल में दाखिल किए। तब उनको बुखार, ब्रेथलेसनेस, गले में खराश, कमजोरी थी। इसके अलावा उनको हाईपरटेंशन, डायबीटिज, शरीर के आधे भाग का पक्षाघात पहले से था। उनकी शुक्रवार को मौत हो गई। चरोदा में रहने वाली 53 साल की महिला को सिम्म, कोविड केयर सेंटर, जुनवानी में दाखिल किए। उनको बुखार, ब्रेथलेसनेस, कफ, कमजोरी की वजह से अस्पताल में दाखिल किए। इसके अलावा उनको हाईपरटेंशन व डायबीटिज की शिकायत थी। उनकी भी गुरुवार को मौत हो गई।

बेटी की शादी में मां, बाप हुए संक्रमित
चरोदा में रहने वाला एक परिवार 6 मार्च 2021 को अपनी बेटी का विवाह करवाया। जिसके बाद मां और बाप में कोरोना के लक्षण नजर आए। दोनों ने जांच करवाया, रिपोर्ट पॉजिटिव आया। जिसके बाद दोनों को कोरोना केयर सेंटर, दुर्ग में दाखिल किए। जहां गुरुवार को मां ने दम तोड़ दिया। जिस घर में 12 दिन पहले शादी की खुशियां थी, वहां मातम पसरा है। कोरोना ने इस तरह से कई घरों की खुशियों को उजाड़ा है।

महाराष्ट्र से जुड़ रहे हैं कोरोना के तार
चरोदा में रहने वाले रेलवे कर्मी ड्यूटी करने नागपुर गए थे। वहां से लौटने पर कोरोना का लक्षण नजर आया, तो जांच करवाए। जांच रिपोर्ट में पॉजिटिव बताया गया। वे कोविड केयर सेंटर, शंकराचार्य, जुनवानी में दाखिल हो गए। इसके बाद परिवार के शेष सदस्यों ने जांच करवाया तो और तीन सदस्य संक्रमित निकले। इस तरह से महाराष्ट्र से लौट रहे लोगों को पहले ही कोरोना जांच करवा लेना चाहिए। अगर वे विलंब करते हैं तो संक्रमित हो सकते हैं।

COVID-19
Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned