कोरोना के रेड जोन जिले में पहले दिन 3 करोड़ के शराब का कारोबार, भीड़ देख पुलिस और प्रशासन के छूटे पसीने

जिले में 42 दिनों बाद शराब दुकानें खुली तो मदिरा पीने वालों की ऐसी भीड़ उमड़ी जैसे किसी सिनेमा घर में टिकट लेने के लिए दर्शकों की उमड़ती है। (liquor shop open in chhattisgarh)

By: Dakshi Sahu

Updated: 05 May 2020, 01:27 PM IST

भिलाई/दुर्ग. जिले में 42 दिनों बाद शराब दुकानें खुली तो मदिरा पीने वालों की ऐसी भीड़ उमड़ी जैसे किसी सिनेमा घर में टिकट लेने के लिए दर्शकों की उमड़ती है। सुबह 8 बजे से ही शराब खरीदने के लिए दुकानों के सामने लंबी-लंबी कतार लग गई थी। शुरूआत में पहुंचे लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते दिखे पर 9 बजे जैसे ही दुकानें खुली सारी तैयारी धरी रह गई। सोशल डिस्टेंसिंग को तो भूल ही गए।

Read more: दुर्ग जिले में कोरोना के 5 कंटेनमेंट जोन, 100 मीटर का एरिया सील, 8 संक्रमितों के संपर्क में आने वाले 32 लोग क्वारंटाइन .....

पुलिस ने लहराई लाठियां
पुलिस और आबकारी विभाग असहाय हो गया। लोग शराब के लिए भरी दोपहरी चिलचिलाती धूप में पसीने से तरबतर खड़े रहे। शराब खरीदकर निकलने वाले के चेहरे का भाव ऐसा होता जैसे कोई जंग जीत कर निकल रहा है। पुलिस के जवान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने की कोशिश करते रहे पर कोई सुनने वाला नहीं था। पोटिया व नयापारा नदी रोड दुर्ग की शराब दुकानों नें भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठियां लहरानी पड़ी।

Read more: अमृत मिशन का सुपरवाइजर कोरोना पॉजिटिव, गोंदिया से लौटा था, संपर्क में आए 16 लोग होम क्वारंटाइन .....

भीड़ देखकर अधिकारी रह गए हैरान
आबकारी विभाग के अधिकारी भी भीड़ देखकर हैरान थे। उनका कहना है कि भीड़ लगेगी यह तो मालूम था पर ऐसी भीड़ जुट जाएगी यह हैरान करने वाला थ। रिकार्ड बिक्री हुई है। कई लोगों को शाम चार बजे दुकान का शटर गिरने के बाद मायूस लौटना पड़ा। ठीक चार बजे दुकानें बंद कर दी गई। तब बहुत से लोग शराब खरीदने के लिए दुकान के सामने लाइन में खड़े थे।

कोरोना के रेड जोन जिले में पहले दिन 3 करोड़ के शराब का कारोबार, भीड़ देख पुलिस और प्रशासन के छूटे पसीने

बारिश में भी डटे रहे
कंटनमेंट जोन की तीन शराब दुकानें नहीं खुली। यह दुकानें जामुल एरिया में है। इस क्षेत्र में एक कोरोना पॉजिटिव मिलने के कारण पूरे क्षेत्र के सील कर दिया गया है। जिसमें तीनों शराब दुकानें भी शामिल है। जिले में शराब दुकानें सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक खुली थी। बटालियन के पास शराब दुकान में तेज गर्मी के समय शराब खरीदने वालों ने अपनी जगह खाली बोतल की लाइन लगा दी और खुद छांव में खड़े रहे। दोपहर तेज हवा के साथ बारिश हुई तब भी शराब खरीदने वाले टस से मस नहीं हुए। वे दुकान के सामने डटे रहे। क्योंकि उनको यह डर था कि शाम चार बजे के बाद दुकान बंद हो जाएगी और वे वंचित न रह जाएं।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned