Corona news update जिले में आज 34 कोरोना से संक्रमित, 3 ने तोड़ा दम, अब 998 एक्टिव केस, 168 डिस्चार्ज

अंतिम संस्कार करने जिला प्रशासन को नहीं मिल रहे आदमी.

By: Abdul Salam

Published: 24 Aug 2020, 12:31 AM IST

भिलाई. जिले में रविवार को शाम तक करीब 34 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है। पावर हाउस के एक युवक की कोरोना संक्रमण से मौत भी हुई है। हॉस्पिटल पहुंचने से पहले ही युवक ने दम तोड़ दिया था। इसके बाद कोरोना जांच की गई, तो जांच रिपोर्ट पॉजिटिव रही। वहीं एक अन्य की भी मौत कोरोना संक्रमण से हुई है। खुर्सीपार के एक बुजुर्ग की भी रविवार को रायपुर के एम्स में उपचार के दौरान मौत हो गई। जिले में इस वक्त करीब 998 केस एक्टिव हैं। वहीं रविवार को 168 मरीजों को ठीक होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया।

यहां मिले मरीज
कोविट केयर सेंटर के इंचार्ज डॉक्टर अनिल शुक्ला ने बताया कि रविवार को उतई ब्लाक निकुम से एक 8 साल का बालक कोरोना पॉजिटिव रहा, संतोषी पारा, भिलाई से एक बुजुर्ग, भिलाई से ही एक 71 साल के बुजुर्ग की रिपोर्ट भी पॉजिटिव रही है। हॉटल मालवा, दुर्ग से एक 25 साल के युवक को, उमरपोटी से एक 30 साल के युवक को, जामगांव से एक व्यक्ति को, पाटन से एक 56 साल के बुजुर्ग को, बोरई से एक 59 साल के बुजुर्ग को, आदर्शन नगर, दुर्ग से एक 59 साल के बुजुर्ग को, तकिया पारा, दुर्ग से दो को जिसमें 29 साल की युवती और व 24 साल का युवक को, सुपेला से एक युवक को जिसकी मौत हो गई। धमधा से एक युवक को, दिगंबर जैन मंदिर के समीप, दुर्ग से एक 59 साल के बुजुर्ग को, न्यू आदर्श नगर, दुर्ग से एक 60 साल के बुजुर्ग को, दुर्ग से एक 67 साल के बुजुर्ग को संक्रमित पाया गया है।

खारून ग्रीन के एक ही परिवार की दो महिलाएं एक पुरुष कोरोना संक्रमित
कृपाल नगर, कोहका से एक व्यक्ति को, सेक्टर-2 से एक युवक को, सेक्टर-11 से एक युवती को, सेक्टर-6 से एक व्यक्ति को, दो महिलाएं महेश कॉलोनी, दुर्ग से, 2 महिलाएं गंजपारा, दुर्ग से, 2 पुरुष भिलाई से, एक पुरुष वार्ड-31 खुर्सीपार से संक्रमित पाया गया है। इसके अलावा एक छत्तीसगढ़ सशस्त्र बटालियन का जवान भी संक्रमित मिला है। सेक्टर-6 कंट्रोल रूम से एक जवान को, खारून ग्रीन कुम्हारी से दो महिला की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव रही है। महेश कॉलोनी, दुर्ग से दो महिलाएं जिसमें एक 54 साल व दूसरी 28 साल की हैं, भिलाई से एक युवक पॉजिविट, बटालियन से एक 13 साल की बालिका पॉजिटिव, भिलाई से एक 17 साल का युवक, खुर्सीपार से 62 साल के बुजुर्ग, गंजपारा से एक महिला डॉक्टर, गंजपारा से ही एक 55 साल की महिला भी पॉजिटिव पाई गई हैं।

तीन की हुई मौत
पावर हाउस में रहने वाले एक ३२ साल के कोरोना संक्रमित व्यक्ति ने दम तोड़ दिया। रविवार की सुबह उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। तब पत्नी ने अपने देवर को फोन किया। देवर ने कहा कि वह भाई को लेकर एंबुलेंस से सीधे लाल बहादुर शास्त्री हॉस्पिटल पहुंचे। पीडि़त का भाई उनके आने से पहले ही हॉस्पिटल पहुंचकर स्टेचर तैयार रखा था। स्टेचर में डालकर हॉस्पिटल के भीतर लेकर गए, तो डॉक्टरों ने बताया कि उसकी मौत हो चुकी है। तब शव को मारच्यूरी में रख दिया गया। इसके बाद कोरोना जांच करने की टीम पहुंची, शव का कोरोना टेस्ट किया गया। जो पॉजिटिव रहा। मृतक शादी शुदा था, उसके कोई बच्चे नहीं है। अमलेश्वर, पाटन में रहने वाले 55 साल के एक व्यक्ति को १७ अगस्त को हॉस्पिटल में दाखिल किए थे। जहां रविवार को उसकी मौत हो गई।

बुजुर्ग ने तोड़ा दम
इसी तरह से खुर्सीपार, भिलाई के 81 साल के बुजुर्ग जो मेलिगनेन्ट उच्च रक्तचाप, डायबीटिज से पीडि़त थे, श्वसन की तकलीफ व कोविड प्रभावित होने से 22 अगस्त 2020 को उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल, रायपुर में दाखिल किए गए। जहां आईसीयू में थे, उनकी रविवार को मौत हो गई।

अंतिम संस्कार करने जिला प्रशासन को नहीं मिल रहे आदमी
शहर में कोरोना पॉजिटिव से होने वाली मौत का अंतिम संस्कार जिला प्रशासन की देख-रेख में अधिकारियों को करवाना है। पीडि़त परिवार को शव दिया नहीं जाता। परिवार के सदस्यों की मौजूदगी में जिला प्रशासन अपने लोगों से जो पीपीई किट पहने होते हैं, अंतिम संस्कार करवाया जाता है। पिछले कुछ दिनों में जिला प्रशासन को अंतिम संस्कार करने के लिए समय पर आदमी नहीं मिल रहे हैं। जिसके लिए खासी मशक्कत करनी पड़ रही है। यह काम करने वाले कोरोना संक्रमण के डर से मोटी रकम लेकर भी अंतिम संस्कार करने तैयार नहीं हो रहे हैं। पीडि़त परिवार ने अधिकारियों से कहा कि शव उन्हें सौंप दे, वे अंतिम संस्कार कर लेंगे। इस पर अधिकारियों ने मना कर दिया है। अब सोमवार की सुबह 11 बजे उक्त शव को जिला प्रशासन सीधे मुक्तिधाम लेकर पहुंचेगा। जहां अंतिम संस्कार की रस्म अदा की जाएगी।

सीएम ने अत्याधुनिक कोविड लैब का किया लोकार्पण
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने जन्मदिन पर रविवार को शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज, जुनवानी में आधुनिक उपकरणों से लैस स्व. अभिषेक मिश्रा की स्मृति में वायरोलॉजी व डायग्नॉस्टिक कोविड-19 लैब का रायपुर निवास कार्यालय से ऑनलाइन लोकार्पण किया। इस मौके पर गंगाजली एजुकेशनल सोसायटी के चेयरमैन आईपी मिश्रा व मेडिकल कॉलेज के डीन मौजूद थे। उन्होंने बताया कि इस कोविड लैब की क्षमता अभी करीब 800 है। जिसे बढ़ाकर 1400 तक करने की योजना है।

COVID-19
Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned