script5 lakh loss to retired SAIL personnel due to gratuity ceiling | ग्रेच्युटी सीलिंग होने से रिटायर्ड BSP कर्मियों को 3 से 5 लाख का नुकसान, SAIL प्रबंधन के फैसले कर्मचारी हुए नाराज | Patrika News

ग्रेच्युटी सीलिंग होने से रिटायर्ड BSP कर्मियों को 3 से 5 लाख का नुकसान, SAIL प्रबंधन के फैसले कर्मचारी हुए नाराज

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL) प्रबंधन के एकतरफा ग्रेच्युटी सीलिंग करने संबंधी आदेश से सेवानिवृत्त हो रहे बीएसपी कर्मचारियों को 3 से 5 लाख रुपए तक का नुकसान हो रहा है।

भिलाई

Published: February 17, 2022 03:16:31 pm

भिलाई. स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL) प्रबंधन के एकतरफा ग्रेच्युटी सीलिंग करने संबंधी आदेश से सेवानिवृत्त हो रहे बीएसपी (Bhilai steel plant) कर्मचारियों को 3 से 5 लाख रुपए तक का नुकसान हो रहा है। स्टील एंप्लाइज यूनियन इंटक के कार्यालय में हुई अपेक्स कमेटी की बैठक में सेल प्रबंधन के इस फैसले का एकमत से सभी ने विरोध किया। यूनियन नेताओं ने कहा कि इस्पात मंत्रालय के निर्देश पर एनजेसीएस की बिना सहमति या समझौता के लिया गया यह निर्णय सेल प्रबंधन के कथित तानाशाही रवैया को दर्शाता है। बैठक में सभी ने इस बात को स्वीकारा कि असीमित ग्रेच्युटी सेल कर्मियों के लिए एक विशेष उपलब्धि है, जिसे किसी भी स्थिति में छोड़ा नहीं जा सकता है।
ग्रेच्युटी सीलिंग होने से रिटायर्ड BSP कर्मियों को 3 से 5 लाख का नुकसान, SAIL प्रबंधन के फैसले कर्मचारी हुए नाराज
ग्रेच्युटी सीलिंग होने से रिटायर्ड BSP कर्मियों को 3 से 5 लाख का नुकसान, SAIL प्रबंधन के फैसले कर्मचारी हुए नाराज
सेल प्रबंधन का यह है आदेश
सेल प्रबंधन के आदेश के मुताबिक 1 जुलाई 2014 के बाद भर्ती कर्मचारियों का 20 लाख का सीलिंग और उसके पहले के भर्ती कर्मचारियों का 31 अक्टूबर 2021 को पुराने बेसिक प्लस डीए के आधार पर ग्रेच्यूटी को फिक्स कर दिया गया है। जब डीए 50 फीसद से ज्यादा होगा तो 20 लाख का 25 फीसद बढ़ाकर उसमें 5 लाख और जोड़कर 25 लाख कर दिया जाएगा।
रिटायर्ड कर्मियों को हो रहा नुकसान
इंटक के महासचिव एसके बघेल ने कहा कि अभी सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों को 28 लाख की जगह उसे 24 से 25 लाख रुपए तक ग्रेच्युटी मिल रही है। इससे वरिष्ठ कर्मियों को काफी आर्थिक नुकसान होगा। बैठक में पीयूष कर, पूरण वर्मा, एनएस बंछोर, एसके खिचरिया, मदनलाल सिन्हा, संजय साहू, चंद्रशेखर, पीवी राव, शेखर शर्मा, अनिमेष पसीने, विपिन मिश्रा, संतोष साव ,जयंत बराठे, के राजशेखर, दीनानाथ सिंह सार्वा, जीआर सुमन, रेशम राठौर उपस्थित थे।
सेल प्रबंधन जल्द बुलाए एनजेसीएस की बैठक
बघेल ने कहा कि सेल के कर्मचारियों का वेतन समझौता अभी अधूरा है और इसे पूर्ण करने के लिए सेल प्रबंधन 2 माह हो गए बैठक आयोजित नहीं कर रहा है। सेल इस साल 10 हजार करोड़ से ज्यादा लाभ कमाने की ओर अग्रसर है। ऐसे में कर्मचारियों का 39 महीने का एरियर एवं ओपन एंडेड पे स्केल का निर्धारण के लिए जल्द एनजेसीएस की बैठक बुलाकर वेतन समझौते को पूर्ण किया जाए।
जो यूनियनें कुछ नहीं कर सकती
वह सिर्फ विरोध करती है
बघेल ने कहा कि इंटक यूनियन के प्रयास से ही आज मूल वेतन एवं पर्क का निर्धारण हो पाया है। इससे कर्मचारियों के वेतन में 20 से 25 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है। टाउनशिप में आवास एवं अस्पताल में बेहतर व्यवस्था बनाने के लिए इंटक यूनियन प्रयास कर रही है। कुछ यूनियन है जो वेतन समझौते को लटकाकर रखना चाहती थी और इसे लंबा खींचना चाह रही थी। वे लोग सिर्फ विरोध की राजनीति करते हैं। उन्हें श्रमिकों की समस्या से कोई लेना-देना नहीं है। न ही आज तक उनकी कोई उपलब्धि है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थाकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मMenstrual Hygiene Day 2022: दुनिया के वो देश जिन्होंने पेड पीरियड लीव को दी मंजूरी'साउथ फिल्मों ने मुझे बुरी हिंदी फिल्मों से बचाया' ये क्या बोल गए सोनू सूदभाजपा प्रदेश अध्यक्ष का हेमंत सरकार पर बड़ा हमला, कहा - 'जब तक सत्ता से बाहर नहीं करेंगे, तब तक चैन से नहीं सोएंगे'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.