सरकारी डॉक्टर को पीटने वाला NSUI शहर अध्यक्ष पुलिस गिरफ्त से बाहर, उल्टा काउंटर केस दर्ज कराने नेता पहुंचे CSP के पास

पुलिस दोनों मुख्य आरोपियों को फरार बता रही है। पुलिस का दावा है कि बहुत जल्द आरोपी को गिरफ्तार कर लेंगे।

By: Dakshi Sahu

Published: 22 Nov 2020, 12:03 PM IST

दुर्ग. जिला अस्पताल के मेडिकल ऑफिसर डॉ. जयंत चंद्राकर की बेरहमी से पिटाई करने वाले मुख्य आरोपी एनएसएसयूआई के शहर अध्यक्ष सोनू साहू और साइकिल स्टैंड के संचालक अमन दुबे को पुलिस 48 घंटे बाद भी गिरफ्तार नहीं कर सकी है। मामले में अन्य 6 आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया है। पुलिस दोनों मुख्य आरोपियों को फरार बता रही है। पुलिस का दावा है कि बहुत जल्द आरोपी को गिरफ्तार कर लेंगे।

एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने की डॉक्टर पर काउंटर केस दर्ज करने की मांग
दुर्ग टीआई राजेश बागड़े ने बताया कि शनिवार को एक और आरोपी आशीष सिंह को गिरफ्तार किया है। अब तक आरोपी रुस्तम नेताम, जलालुद्दीन कुरैशी, राहुल यादव, ओमप्रकाश साहू, लोकेश साहू सहित कुल 6 की गिरफ्तारी हो चुकी है। सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया जहां न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया। इधर एनएसयूआई शहर अध्यक्ष सोनू के पक्ष में एनएसयूआई के कार्यकर्ता सीएसपी कार्यालय पहुंचे। वे डॉक्टर पर काउंटर केस दर्ज करने की मांग कर रहे थे। यह सफाई भी दी कि सोनू इस तरह की गुंडागर्दी नहीं कर सकता।

सरकारी डॉक्टर को पीटने वाला NSUI शहर अध्यक्ष पुलिस गिरफ्त से बाहर, उल्टा काउंटर केस दर्ज कराने नेता पहुंचे CSP के पास

24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर नहीं किया तो फूंकेंगे गृहमंत्री का पुतला
दुर्ग भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकताओं ने सीएसपी विवेक शुक्ला से मुलाकात की। उन्हें ज्ञापन देकर मांग किया है कि आरोपी सोनू और अमन को 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार करें। गिरफ्तारी नहीं हुई तो दुर्ग में गृहमंत्री का पुतला जलाने की चेतावनी दी है। उनका कहना था कि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज तो कर लिया है, लेकिन 48 घंटे बीत गए, मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

सुलह के लिए लगा रहे चक्कर
दुर्ग जिला अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि कुछ लोग मामले में सुलह कराने के लिए अस्पताल का चक्कर लगा रहे हैं। डॉक्टरों ने कहा कि डॉक्टर पर हाथ उठाना बर्दास्त से बाहर है। इस मामले में सुलह नहीं होगी।

पुलिस कार्रवाई पर लोगों को शंका
डॉक्टरों का कहना है कि आरोपी सोनू और अमन अस्पताल में अपनी दबंगई दिखाने आए दिन विवाद करते रहते हैं। इतना ही नहीं दोनों को कई बार पुलिस के पीसीआर वैन में बैठा हुआ देखा गया है। दोनों पुलिस के साथ सेल्फी खिंचाते रहते हैं। पुलिस दोनों को गिरफ्तार करेगी, इसको लेकर डॉक्टरों ने संशय भी जताया।

साइकिल स्टैंड का ठेका किया निरस्त
डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर, सीएचएमओ दुर्ग ने बताया कि डॉक्टर के साथ बड़ी बेरहमी से मारपीट की गई है। यह उचित नहीं है। सीसीटीवी कैमरे में बदमाशों की करतूत कैद हो गई है। उसे पुलिस को सौंप दिया है। वाहन स्टैंड ठेका को निरस्त कर दिया है। स्टैंड पर गाड़ी खड़ी करने पर कोई पैसा नहीं लगेगा। इसके अलावा अस्पताल परिसर के अंदर कैंटीन संचालित होने की वजह से असमाजिक तत्वों का आना-जाना बढ़ गया है। इसलिए सभी को बंद कराने को कहा है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned