मासूम का क्या कसूर, पत्नी के चरित्र संदेह पर गुस्साए शराबी पिता ने बच्चे को जमीन पर पटक कर ले ली जान

मासूम का क्या कसूर, पत्नी के चरित्र संदेह पर गुस्साए शराबी पिता ने बच्चे को जमीन पर पटक कर ले ली जान

Satyanarayan Shukla | Publish: May, 19 2019 10:54:08 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

शक की बीमारी और शराब के नशे में पिता वहशी बन गया। उस दरिंदे ने पांच माह के अबोध मासूम को जमीन पर पटक कर मौत के घाट उतार दिया। । इस घटना के बाद पाच माह पहले संतान की सुख प्राप्त करने वाली मां का रो-रोकर बुरा हाल है वहीं शादी घर और गांव में शोक का माहौल है।

बालोद@Patrika. शक की बीमारी और शराब के नशे में पिता वहशी बन गया। उस दरिंदे ने पांच माह के अबोध मासूम को जमीन पर पटक कर मौत के घाट उतार दिया। इस घटना के बाद पाच माह पहले संतान की सुख प्राप्त करने वाली मां का रो-रोकर बुरा हाल है वहीं शादी घर और गांव में शोक का माहौल है।

घटना देवरी थाना अंतर्गत ग्राम मार्री की
यह दिलदहला देने वाली घटना शनिवार की जिले के देवरी थाना अंतर्गत ग्राम मार्री की है। आरोपी पिता चित्रकान्त सोनकर बैजनाथपारा दुर्ग का रहने वाला है। वह पत्नी नमिता और पांच माह के मासूम के साथ 17 मई को चाचा के घर शादी में आया था। घटना के वक्त घर में शादी हो रही थी। मां नमिता मासूम शौर्य को घर के एक कमरे में सुलाकर शादी में व्यस्त हो गई थी, तभी रात में शराब के नशे में चित्रकान्त उस कमरे में गया और बहुत देर से बच्चे की रोने की आवज सुनकर गुस्से में जमीन पर उठाकर पटक दिया। परिजन ने मासूम को निजी वाहन से रायपुर मेकाहारा ले गए जहां उपपचार के दौरान दम तोड़ दिया। मासूम की मौत के बाद से आरोपी पिता फरार बताया जा रहा है।

पिता इसलिए बना दरिंदा
दुर्ग बैजनाथपारा निवासी चित्रकांत की शादी 2018 में मार्री निवासी नमिता से हिन्दू रीति रिवाज से हुई थी। नमिता की शादी के कुछ माह बाद से ही पति उनके चरित्र पर शक करने लगा। इसी बात को लेकर पति-पत्नी के बीच झगड़ा शुरू हो गया। पति-पत्नी में झगड़े को देखते हुए मायका पक्ष वालों ने महिला सेल में काउंसिलिंग भी कराई थी। काउंसिलिंग के बाद भी उनकी शक की बीमारी दूर नहीं हुई। चरित्र पर संदेह को ही वहशी बनने का एक कारण माना जा रहा है।

पुलिस को रायपुर मेकाहारा डायरी का इंतजार,पीएम रिपोर्ट में होगा खुलासा
देवरी थाना प्रभारी नवल किशोर कश्यप ने बताया कि अभी रायपुर से डायरी नहीं आई है न ही मर्ग कायम हुआ है। इस मामले की बारीकी से जांच होगी। डायरी आने के बाद परिजन से पूछताछ की जायेगी। उन्होंने ने बताया कि पीएम रिपोर्ट भी इस मामले की जांच में अहम कड़ी होगी। डायरी के लिए रायपुर एक कर्मचारी को भेजा गया था, डायरी अधूरी होने के कारण उसे ला नहीं पाया। फिलहाल पुलिस ने मामले की आंतरिक जांच शुरू कर दी है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned