भिलाई: जामुल TI के नाम पर रिश्वत मांगते कांस्टेबल का ऑडियो सोशल मीडिया में वायरल, पुलिस विभाग में हड़कंप

मारपीट के एक मामले को रफा दफा करने के लिए टीआई के नाम पर एक आरक्षक के रिश्वत मांगने का आडियो वायरल हो रहा है।

By: Dakshi Sahu

Published: 18 Dec 2020, 12:12 PM IST

बीरेंद्र शर्मा @भिलाई. मारपीट के एक मामले को रफा दफा करने के लिए टीआई के नाम पर एक आरक्षक के रिश्वत मांगने का आडियो वायरल हो रहा है। एक कंपनी के पर्सनल डिपार्टमेंट के अधिकारी से लेनदेन का ऑडियो वायरल हुआ है। मामला जामुल थाना का है। दो दिन पूर्व 18 नम्बर रोड स्थित पेट्रोल पंप पर कार पर सवार चार युवकों ने एक कर्मचारी से मारपीट की थी कि तकनीकी खराबी के कारण उसने पेट्रोल भरने में असमर्थता जताई। मामला जामुल थाना पहुंचा। दोनों पक्ष एक दूसरे के पहचान वाले निकल गए तो आपस में ही समझौता कर लिया और शिकायत भी वापस ले लिया। आरक्षक कंपनी के अधिकारी की इनवॉल्मेंट की वजह से रिश्वत वसूलने में जुट गया। एक युवक पर जामुल थाना पुलिस ने 25 आम्र्स एक्ट के तहत कार्रवाई कर दी। दबाव बनाने उसे दिनभर और रातभर थाने में बैठाकर रखा।

ऑडियो में बातचीत के अंश
आरक्षक- मामले में चार लोग हैं। उसमें से एक पर कार्रवाई होगी। तीन को सेफ जोन में कर रहे हंै। इनका रेकॉर्ड और आगे नहीं बढ़ेगा। यहीं तक रहेंगा।
कंपनी अधिकारी- इस मामले में फिर क्या कर रहे हैं।
आरक्षक- मेरी बात सुनो.. देखो तीन को सेफ कर दे रहे है। बोले है एक के रेकार्ड को आगे मैं नहीं बढ़ाऊंगा। यहीं क्लोज रहेगा। मैं बोला हूं ठीक है भैय्या से बात कर लेता हूं।
कंपनी आधिकारी- एक पर क्या कार्रवाई करेंगे?
आरक्षक- इसके उपर 25 आम्र्स एक्ट कर रहे हैं।
कंपनी अधिकारी - यह क्या होता है भैय्या?
आरक्षक- होता है यह, शाम को कोर्ट से जमानत हो जाएगा।
कंपनी अधिकारी- कोर्ट से जमानत होगा।
आरक्षक- हां कोर्ट से जमानत हो जाएगा। तीन को सेफ कर दे रहे हैं, नहीं तो तीनों के खिलाफ कार्रवाई करते।
कंपनी अधिकारी- क्या खर्च जाएगा।
आरक्षक- अब वो देख लो भैय्या, आप तो खुद जानते होंगे।
कंपनी अधिकारी- फिर भी बता दो, मैं उस हिसाब से लूंगा न..।
आरक्षक- अब वो .. मैं क्या बोलू। कहीं वो ज्यादा बोल दिए तो फंसने वाला बात हो जाता है। सर का लम्बा लम्बा मुंह खुलता है न...।
कंपनी अधिकारी- इन लोग रोड के आदमी है। उतना नहीं दे पाएंगे।
आरक्षक- उन लोग तो नहीं समझते भाई। आप तो जानते हो थाना आते रहते हो।
कंपनी अधिकारी- फिर भी क्या लगेगा बताओ।
आरक्षक- 25 से 30 करवा लो और क्या बताऊं।
कंपनी अधिकारी- कुछ कम नहीं होगा।
आरक्षक - नहीं होगा। मेरे को कौन सा मिलना जुलना है।
कंपनी अधिकारी- हां, वह मैं जानता हूं। और एक का...।
आरक्षक- नहीं यहां से उसका रिकार्ड आगे नहीं बढ़ेगा। उसको यहीं से खतम करा देंगे।
कंपनी अधिकारी- बेल कहा से होगा। थाना से या कोर्ट से..।
आरक्षक- नहीं नहीं कोर्ट से होगा भाई काहे को झूठ बोलना। उसका रिकार्ड यहां से ही आगे नहीं बढ़ेगा। साहब यह बोल रहे हैं।
कंपनी अधिकारी- ठीक है मैं देखता हूं।

जानिए किसने क्या कहा
प्रशांत कुमार ठाकुर, एसपी दुर्ग ने कहा कि लेनदेन के मामले में वायरल ऑडियो की जांच कराई जाएगी। जांच के बाद कार्रवाई होगी। विभाग की छवि खराब करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। विशाल सोम, टीआई थाना जामुल ने बताया कि मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। रायपुर में राम वन गमन पथ में ड्यूटी लगी है। वहां पर आया हूं। थाना पहुंच कर जानकारी लेंता हूं।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned