ठगों के निशानों पर वर्दी वाले, CSP की Facebook आइडी हैक कर ठग ने रिश्तेदारों से मांगे पैसे, दोस्तों से कहा हेल्प मी

CSP Facebook ID Hack: साइबर ठगों के हौसले इतने बुलंद हो गए है कि अब पुलिस अधिकारियों के साथ भी ठगी करने की कोशिश कर रहे है।

By: Dakshi Sahu

Published: 08 May 2021, 01:05 PM IST

भिलाई. साइबर ठगों (Cyber Thug) के हौसले इतने बुलंद हो गए है कि अब पुलिस अधिकारियों के साथ भी ठगी करने की कोशिश कर रहे है। एक ठग ने छावनी सीएसपी (CSP) विश्वास चंद्राकर की फेसबुक आईडी हैक (Facebook ID Hack) करके उनके दोस्तों और रिश्तेदारों से 20 से 30 हजार रुपए की मांग की। जब उन्हें इसकी जानकारी हुई तो साइबर सेल (Cyber Cell) में जानकारी देकर फेसबुक आईडी को ब्लॉक कराया। इसके बाद मामले की जांच शुरु की तो हैकर ने उनके नाम से बनाई फर्जी फेसबुक आईडी को डिलीट कर दिया।

सीएसपी चंद्राकर को मंगलवार की शाम से फोन आने लगे। फेसबुक आईडी से पैसे की मांग कर रहे हो। तब उन्हें पता चला कि उनकी फेसबुक आईडी हैकर ने हैक कर लिया है। सीएसपी ने बताया कि हैकर ने उनके नाम से फर्जी फेसबुक आइडी बनाया। उसमें परिवार वाली उनकी फोटो लगाया। इसके बाद दोस्तों से पैसों की मांग करने लगा। धमतरी, रायपुर, राजनांदगांव समेत अन्य जिलों से जब उनके मित्रों और रिश्तेदारों के फोन आने लगे तब ठग के कारनामों का पता चला।

हैकर ने डिलिट की फेसबुक आइडी
छावनी सीएसपी ने फेसबुक आइडी हैक होने की जानकारी साइबर सेल प्रभारी नरेश पटेल को दी। उन्होंने उनकी फेसबुक आइडी को चेक किया। बताया कि फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर ठगी के इरादे से यह कृत्य कर रहा है। नरेश पटेल ने सीएसपी की फेसबुक आइडी को ब्लाक कर दिया। इसके बाद मामले में जांच शुरु की। हैकर को अंदेशा हुआ और उसने तत्काल फर्जी फेसबुक आईडी को डिलीट कर दिया।

जानिए किस तरह से पैसे की किया डिमांड
हैकर - एक छोटा से काम पड़ गया है। अर्जेंट कुछ इमरजेंसी था।
सीएसपी का दोस्त- बोलिए सर...
हैकर- मेरा नेट बैंकिंग काम नहीं कर रहा है। कुछ पैसे ट्रांसफर करने थे। सुबह लैटा दूंगा।
सीएसपी दोस्त- कितना सर ..
हैकर- कुछ ज्यादा चाहिए था। आप बताओ कितना ट्रांसफर हो सकता है फिलहाल।
सीएसपी दोस्त- फिर भी ...
हैकर- अभी फिलहाल 30 या 20 हजार भेज दीजिए।
सीएसपी दोस्त- सर आप कहां हो....
हैकर- रायपुर में हूं। मुझे अपने रिश्तेदार को ट्रांसफर करना था। उनकी तबियत ज्यादा सीरियस है। हॉस्पिटल में भर्ती है।
सीएसपी का दोस्त- ओके रायपुर में किसी को बोल दूं क्या।
हैकर- किसी दूसरे बंदे से करा दो...। इसके बाद ऑफ लाइन हो गया।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned