भिलाई फल मंडी में तीन किसानों को बेदम पीटा, धमधा के किसान नेता पहुंचे थाने, कृषि मंत्री से की गई शिकायत

भिलाई फल मंडी में तीन किसानों को बेदम पीटा, धमधा के किसान नेता पहुंचे थाने, कृषि मंत्री से की गई शिकायत
farmer hit by agent

Mohammed Javed | Publish: Apr, 24 2019 12:35:03 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

 

मसूरगोड़ी से खरबूजा लेकर सुबह ३.४५ बजे फल मंडी आए थे किसान, हम्मालों ने दिया घटना को अंजाम

भिलाई. पॉवर हाउस फल मंडी में बुधवार सुबह ४ बजे के करीब मासूरगोड़ी(धमधा) से खरबूजा लेकर आए किसानोंके साथ जमकर मारपीट की गई। एक किसान महेंद्र को इस कदर पीटा गया कि उसे खून से लतपत अस्पताल ले जाया गया। इसके साथ ही किसान के दो सहयोगी प्रकाश और शिव पटेल को भी गंभीर चोटे आई हैं। किसान हमेशा की तरह सुबह एक एजेंट की दुकान में माल उतार रहे थे, तभी कुछ हम्मलों ने किसानों के साथ गाली-गलौच कर दी। यह हम्मल एजेंट के बगल वाली दुकान में अंगुर का कैरेट उतार रहे थे। गाली-गलौच चल ही रही थी कि कुछ हम्मलों ने किसान महेंद्र के साथ मारपीट शुरू कर दी। इस घटना के कुछ हिस्से सीसीटीवी फुटेज में आ गए हैं, जिसे देखने के बाद छावनी छाना पुलिस ने कार्रवाई शुरू करते हुए ४ आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि बाबा नाम के एक दलाल ने महेंद्र व प्रकाश को लाठी से जमकर पीटा। फिलहाल पुलिस ने एक हम्माल को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

किसान नेता पहुंचे थाने
मामले की जानकारी मिलते ही धमधा ब्लॉक के किसान नेता सुबह करीब ९ बजे पॉवर हाउस मंडी पहुंच गए। यहां पीडि़त महेंद्र, शिव और प्रकाश को देखने के बाद थाने गए जहां अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करने लगे। बताया जा रहा है कि इस मामले में कृषि मंत्री रवींद्र चौबे ने संज्ञान लिया है। किसान नेताओं ने मंत्री चौबे को पूरे मामले की जानकारी दी है। किसान नेताओं का कहना है कि यदि पुलिस उचित कार्रवाई समय रहते नहीं करती है तो किसान चुप नहीं बैठेंगे।

दहशत में किसान, हंगामे की भी आशंका
किसान नेताओं का कहना है कि जिस तरह से किसानों के साथ मारपीट की घटना की गई है। इससे किसानों में खूब दहशत का माहौल बनेगा। किसान अपना माल बेचने के लिए मंडी पहुंचता है, लेकिन यदि ऐसी घटनाएं होंगी, तब उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी किसकी होगी।

आखिर फसाद की वजह क्या है?
मौके पर पहुंची पुलिस को पीडि़त महेंद्र व अन्य दो ने बताया कि वे सुबह ३.४५ के करीब खरबूजा के कैरेट उतार रहे थे। तभी एक युवक आया और यह कहकर गाली-गलौच करने लगा कि यहीं कैरेट क्यों उतारते हो। मंडी में हमेशा से ही जाम की स्थिति बनती रहती है, इसलिए यह कोई नई बात नहीं थी। बताया जा रहा है कि किसान बाहर के हैं, इसलिए उनसे मामूली विवाद पर इतनी पिटाई की संभावना कम है। यह प्लान बनाकर की गई घटना जैसा कहा जा रहा है। इस मामले के बाद सुबह से ही फल मंडी में गहमागहमी जैसा माहौल बन गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned