लॉकडाउन: झुंड बनाकर खेल रहे थे लूडो पुलिस ने चार को भेजा जेल, बेवजह घूमने वालों को कान पकड़ाकर करवाई उठक-बैठक

जिले में लॉक डाउन, धारा-144 और लगातार समझाइश के बाद भी जो लोग बेवजह घर से बाहर निकल रहे है। ऐसे मामले में चार लोगों को जेल भेजा गया। पुलिस अब तक समझाइश के बाद चालानी कार्रवाई कर रही थी।

(Lock down in Chhattisgarh)

*भिलाई. जिले में लॉक डाउन, धारा-144 (Section 144) और लगातार समझाइश के बाद भी जो लोग बेवजह घर से बाहर निकल रहे है। ऐसे मामले में चार लोगों को जेल भेजा गया। (coronavirus in chhattisgarh)पुलिस अब तक समझाइश के बाद चालानी कार्रवाई कर रही थी। अब सीधे जेल भेजे जाने का यह पहला मामला है। एएसपी (ग्रामीण) लखन पटले ने बताया कि ग्राम धनोरा में लोग समूह बनाकर लूडो खेल रहे थे। सूचना पर पद्भनाभपुर चौकी प्रभारी एनु देवांगन को मौके पर भेजा गया। जहां लाउड स्पीकर से मुनादी कराने के बावजूद लोग झुंड बनाकर खेलते पकड़े गए। चार आरोपियों को गिफ्तार कर लिया गया। बाकी लोगों मौके से भाग गए। चारों आरोपियों के खिलाफ धारा 188 के तहत कार्रवाई की। न्यायिक रिमांड पर उन्हें जेल भेजा गया। (Chhattisgarh police)

लॉकडाउन: झुंड बनाकर खेल रहे थे लूडो पुलिस ने चार को भेजा जेल, बेवजह घूमने वालों को कान पकड़ाकर करवाई उठक-बैठक

बेवजह घूमने की सजा
तीन सवारी बाइक पर बैठकर घुमने वालों ने जब सही वजह नहीं बता सके तो उनसे कान पकड़कर सॉरी बुलवाया औक कईयों से उठक बैठक कराने के बाद घर भेजा। उन्हें हिदायत दी गई कि अब दोबारा पकड़े गए तो सीधे धारा 188 के तहत कार्रवाई कर जेल भेजा जाएगा। मंगलवार को सुबह से पुलिस के आला अधिकारियों के साथ जवान एक्शन मोड में नजर आए। कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए लगातार जगह-जगह प्वाइंट बनाकर लोगों को समझाइश दी गई।

हर थाना क्षेत्र के टीआई गाड़ी में लाउड स्पीकर से मुनादी करा रहे है। एएसपी रोहित कुमार शहर और एएसपी लखन पटले ग्रामीण क्षेत्रों का मोर्चा संभाला। जिले में थानेवार 41 नाकाबंदी पाइंट लगाए गए। कई थाना क्षेत्र में दो तो कइयों में तीन पाइंट बनाकर चेकिंग की गई। चार पहिया और दो पहियां सवारियों को रोककर पूछताछ की। लोगों ने तरह तरह के बचने के लिए बहाने बनाए। लेकिन पुलिस किसी की एक न सूनी। सब को वापस लौटा दिए।

विधायक की गाड़ी को रोका
खाद्य विभाग से हूं। पुलिस ने पहचान पत्र मांगा तो उनके पास नहीं था। तब पुलिस ने एक व्यक्ति पैदल जाने को कहा। पिताजी बालोद जेल में बंद है। वकील ने बुलाया था। पुलिस ने वकील का नाम पूछा तो नहीं बता सकते। मां के साथ सब्जी खरीदने जा रहा हूं। पुलिस ने कहा कि अकेले सब्जी नहीं खरीद सकते। विधायक विद्याचरण भसीन की गाड़ी को रोक दिया गया। वे रायपुर से घर लौट रहे थे। पूछताछ के बाद उनकी गाड़ी को जाने दिया गया।

अब दर्ज की जाएगी एफआईआर
एएसपी शहर रोहित झा ने बताया कि पुलिस द्वारा लगातार हिदायत दी जा रही है। इसके बावजूद नहीं मान रहे है तो उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज किया जा रहा है। इसके बाद भी लोग नहीं चेतेगें तो उनके खिलाफ सती बरती जाएगी।

धारा 144 की उल्लघन पर बरती जा रही सख्ती
एएसपी लखन पटले ने बताया कि सुबह से नाकीबंदी कर दी गई। ग्रामीण इलाके में भी धारा 144 लगू है। इसके बावजूद लोग आना जाना कर रहे थे। दूसरे जिला से आने वाली गाडिय़़ों को रोका गया। उन्हें घर लौटा दिया गया।

China Coronavirus outbreak
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned