लॉकडाउन में अचानक घर से लापता हो गई 15 साल की नाबालिग लड़की, आठ दिन बाद जब मिली तो खुला अपहरण का राज

Bhilai police: कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच घर से लापता हुई नाबालिग लड़की को पुलिस ने बिलासपुर से बरामद किया है।

By: Dakshi Sahu

Published: 19 Apr 2021, 01:40 PM IST

भिलाई. कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच घर से लापता हुई नाबालिग लड़की को पुलिस ने बिलासपुर से बरामद किया है। खुर्सीपार के रहने वाली 15 वर्षीय नाबालिग को आठ दिनों तक आरोपी युवक ने अपने साथ बिलासपुर में रखा था। पुलिस ने उसे बिलासपुर से बरामद कर लिया। सकुशल परिजनों को सौंप दिया। आरोपी युवक सुमित दास के खिलाफ धारा 363 के तहत जुर्म दर्ज कर उसे जेल भेजा गया है। खुर्सीपार टीआई सुरेश ध्रुव ने बताया कि घटना 10 अप्रैल की है। 15 वर्षीय नाबालिग घर से अचानक लापता हो गई। अपहरण की अशंका पर परिजनों ने रिपोर्ट दर्ज कराया। मामले को संज्ञान में लेकर बच्ची की खोजबीन की गई। तेलहा नाला निवासी आरोपी सुमित दास (20 वर्ष) के बिलासपुर में होने का क्लू उसी के दोस्त से मिला। तत्काल टीम गठित कर बिलासपुर रवाना किया।

एक माह में 5 नाबालिग बच्चियां बरामद
खुर्सीपार पुलिस ने एक माह में 5 बच्चियों को विभिन्न प्रदेश व जिला से बरामद किया। उनके परिजनों को सकुशल सौंपा। पुलिस की तत्परता से इन परिवारों के घर में खुशियां लौट आई। पुलिस ने अपील की है अपनी नाबालिग बच्चियों को काउंसलिंग करके किसी भी युवक के बहकावे में आने से रोके। माता-पिता किशोर लड़के-लड़कियों की हर हरकतों पर नजर रखें।

स्पेशल साड़ी गुम होने से बुजुर्ग महिला ने किया आत्मदाह
दुर्ग केलाबाड़ी में रहने वाली भदइया बाई (80 वर्ष) ने रविवार की आधी रात करीब 1.30 बजे अपनी शरीर पर मिट्टी तेल उड़ेलकर आत्मदाह कर लिया। पुलिस की पूछताछ जो बात सामने आई वह यह थी कि भदइया बाई स्पेशल साड़ी गुम हो जाने से क्षुब्ध थी। इसी वजह से आत्मधाती कदम उठा लिया। पुलिस ने मामले में मर्ग कायम पर जांच में लिया है। पद्मनाभपुर चौकी प्रभारी युवराज देशमुख ने बताया कि भदइया बाई के पति बिसौहाराम का पहले ही निधन हो चुका है। बहू, नाती और नतनीन के साथ रहती थी। शनिवार को उसकी एक साड़ी जिसे वह स्पेशल बताती थी वह गुम हो गई। दिनभर उसकी खोजबीन की। बहू ने कहा भी कि दूसरी नई साड़ी ला देंगे। रात में सबके साथ खाना खाया और अपने कमरे में सोने चली गई। रात करीब 1.30 बजे मिट्टी तेल उड़ेलकर आग लगा लिया। आस-पास के लोगों ने मिलकर आग बुझाई, लेकिन तब तक बुजुर्ग महिला ने दम तोड़ दिया।

बड़े बेटे ने जनवरी में की थी खुदकुशी
मृत महिला के दो बेटे और 5 बेटियां है। सभी की शादी हो चुकी है। वह बड़े बेटे संजू के साथ रहती थी। छोटा बेटा कोडिय़ा में रहता है। जनवरी में संजू ने जहर सेवन कर सुसाइड कर लिया था। तब से वह बहू और बच्चों के साथ रहती थी। पुलिस फिलहाल इस मामले में मर्ग कायम कर जांच कर रही है। वहीं बुजुर्ग महिला के परिजनों से भी पूछताछ की गई है।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned