बीएसपी की यूनियन आखिर श्रमिकों का क्यों कर रही है सम्मान

मजदूर दिवस पर बीएसपी के 221 मजदूरों को सम्मानित किया जाएगा। पूरे साल खून पसीना बहाने वाले मजदूरों को एक दिन यूनियन सम्मानित करती है.

By: Abdul Salam

Published: 23 Apr 2018, 07:09 PM IST

भिलाई. बीएसपी के ठेका श्रमिकों का सम्मान मई दिवस पर किया जाएगा। बीएसपी वर्कर्स यूनियन की बैठक में यह फैसला लिया गया। विश्व का इस्पात बाजार मंदी के दौर से गुजर रहा था, तब भी संयंत्र कर्मियों ने अपना खून पसीना एक कर बीएसपी के बुलंदियों को विश्व में कायम रखा।


यूनियन की बैठक में पदाधिकारियों ने कहा कि दुर्भाग्य की बात है कि बीएसपी में नियमित व ठेका श्रमिकों को कड़ी मेहनत का फल नहीं मिलता। एक-एक कर संयंत्र कर्मियों की सुविधाओं को बंद किया जा रहा है। बीएसपी में लोकल एग्रीमेंट तो अब तक किया ही नहीं गया है।


नाम मात्र का रह गया है हॉस्पिटल
सेक्टर-9 हॉस्पिटल अब बस नाम मात्र का रह गया है। यहां जरूरत के मुताबिक चिकित्सक व कर्मचारी नहीं है। बीएसपी के कर्मियों को दूसरे हॉस्पिटल रेफर करा पाना भी आसान नहीं है। रेफर करना जंग जीतने की तरह है। यह साधरण कर्मियों के बस की बात नहीं है।


निजी स्कूलों के हवाले हो रही शिक्षा
टाउनशिप में शिक्षा के नाम पर मंहगे निजी स्कूल संयंत्र कर्मचारियों के बच्चों को मिले हैं। बीएसपी ने धीरे-धीरे कर शिक्षा व्यवस्था को समाप्त कर दिया है। बीएसपी प्रबंधन व जिम्मेदार यूनियन मिलकर रिटेंशन सुविधा तक बंद करवा चुके हैं। संयंत्र के लिए जीवन देने वाले कर्मचारी मकान खाली कर रहे हैं, उनके सामने उन्ही के सड़को पर रह रहे गैर कर्मी थर्ड पार्टी के नाम पर जीवन भर के लिए जमे हुए हैं।


कर्मियों को मिला बायोमैट्रिक
बीएसपी कर्मियों को पिछले कुछ वर्षों में सुविधा के नाम पर महज बायोमैट्रिक मिला है। संयंत्र में प्रबंधन व यूनियन मिलकर आंतरिक तबादले करवा रहे हैं। ड्यूटी पहुंचने वाले कर्मियों को पता ही नहीं होता, कि उसे किस विभाग में आज भेज दिया जाएगा। एक विभाग में वर्षों से काम करने वाले कर्मियों को रातों-रात बिना सूचना दिए तबादला किया जा रहा है। इससे कर्मियों के बीच दहशत कायम है। विभाग के अधिकारी इस तरह के तबादले बदले की भावना से भी कर रहे हैं। बीमार कर्मियों को ब्लास्ट फर्नेस-8 व एसएमएस-3 भेजा जा रहा है।


221 श्रमिकों का किया जाएगा सम्मान
बीएसपी के 221 श्रमिकों को बेहतर कार्य केलिए मई दिवस पर श्रमिक नेता स्व. रोबिन दत्ता की स्मृति पुरस्कृत किया जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी इस मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद रहेंगे। यूनियन के कार्यालय का भी इस मौके पर उद्घाटन किया जाएगा। बैठक में उज्जवल दत्ता, खूबचंद वर्मा, शिव बहादुर सिंह, दिलेश्वर राव, चंद्रशेखर जनबंधु उपस्थित थे।

Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned