भिलाई इस्पात संयंत्र BSP कर्मचारी निराश, इस माह भी नहीं मिला कोरोना भत्ता

संकट के समय जान जोखिम में डालकर किया संयंत्र में काम, अब भत्ता का इंतजार.

By: Abdul Salam

Updated: 28 May 2020, 09:52 PM IST

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र, हॉस्पिटल व टाउनशिप में कोरोना संकट के दौरान भी ड्यूटी करने वाले कार्मिकों को सेल प्रबंधन ने कोरोना भत्ता देने की घोषणा की है। यह राशि 1 से 19 अप्रैल 2020 के दौरान काम करने के बदले में दिया जाना है। बुधवार को बीएसपी कार्मिकों ने संयंत्र के इंट्रानेट में अपना-अपना पेमेंट स्लीप देखा। जिसमें कोरोना भत्ता की राशि का कोई जिक्र नहीं है। यह देख वे निराश हो गए। प्रबंधन को यह रकम कर्मियों के खाता में 1 जून 2020 को आने वाले वेतन में शामिल करना था। जिसका जिक्र 3 दिन पहले ही इंट्रानेट में जारी हो जाने वाले वेतन पर्ची में भी नजर आ जाता।

150 रुपए एक दिन का मिलना है नियमित कार्मिकों को
बीएसपी के नियमित कार्मिकों को लॉकडाउन के दौरान 1 से 19 अप्रैल 2020 के बीच ड्यूटी आने पर 150 रुपए हर दिन का मिलना है। इसी तरह से हॉस्पिटल के कर्मियों को भी 150 रुपए इस दौरान ड्यूटी करने के बदली में दिया जाना है। संयंत्र के बाहर और टाउनशिप में ड्यूटी करने वाले कार्मिकों को इस दौरान हर दिन का 100 रुपए दिया जाएगा। इसके साथ-साथ ठेका मजदूरों को प्रतिदिन 50 रुपए कोरोना भत्ता मिलना है।

सेल के हर मजदूर को मिलेगी यह रकम
बीएसपी समेत सेल के हर यूनिट में काम करने वाले नियमित व ठेका मजदूर को यह राशि दी जाएगी। यह राशि वास्तविक उपस्थिति के मुताबिक 1 से 19 अप्रैल तक के बीच में दी जानी है। निराशा की बात यह है कि प्रबंधन ने घोषणा करने के बाद कर्मियों से काम भी लिया। अब भत्ता देते समय उसे टाला जा रहा है।

कोरोना की महामारी के समय भी डिगे नहीं कार्मिक
विश्वभर में जब नोवल कोरोना वायरस की महामारी से लोग दहशत में है। तब संयंत्र की चिमनी सुलगती रहे, इसके लिए कार्मिकों ने जान जोखिम में डालकर ड्यूटी किया। इसी तरह से संयंत्र के बाहर सफाई कार्मिकों ने अपने काम को जारी रखा। हॉस्पिटल कर्मचारी रिस्क लेकर काम करते रहे। अब वेतन पर्ची देख रहे हैं, तो उसमें कोरोना भत्ता का कहीं जिक्र ही नहीं है। जिससे वे निराश हैं।

फैक्ट फाइल

पदनाम -- कोरोना भत्ता प्रतिदिन
संयंत्र में काम करने वाले कर्मचारी -- 150 रुपए
संंयंत्र में काम करने वाले अधिकारी -- 150 रुपए
संयंत्र में काम करने वाले ठेका मजदूर -- 50 रुपए
संयंत्र के बाहर काम करने वाले कर्मी -- 100 रुपए
संयंत्र के बाहर काम करने वाले अफसर -- 100 रुपए
संयंत्र से बाहर काम करने वाले मजदूर -- 50 रुपए
घर से काम करने वाले संयंत्र कार्मिकों -- 00

Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned