BREAKING : एशिया के सबसे बड़े स्टील प्लांट में हादसा, सेल प्रबंधन ने जारी की मृत 10 कर्मियों की सूची

एशिया के सबसे बड़े स्टील प्लांट भिलाई नगर में हुए भयानक हादसे में मरने वाले कर्मियों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस हादसे में मरने वालों की संख्या कुल 10 हो गई है।

By: Satya Narayan Shukla

Updated: 09 Oct 2018, 09:31 PM IST

भिलाई. एशिया के सबसे बड़े स्टील प्लांट भिलाई नगर में हुए भयानक हादसे में मरने वाले कर्मियों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस हादसे में मरने वालों की संख्या कुल 10 हो गई है। वहीं झुलसे हुए सभी कर्मियों का सेक्टर हॉस्पिटल में उपचार चल रहा है। मरने वालों में चार फायर बिग्रेड कर्मी जो रेस्क्यू टीम में शामिल थे।

गैस पाइप लाइन फटने से लगभग 30 कर्मी इसकी चपेट में आए

मंगलवार सुबह भिलाई स्टील प्लांट के कोक ओवन बैटरी नंबर 11 के सीडीसीपी में गैस पाइप लाइप में जबर्दस्त विस्फोट हो गया। गैस पाइप लाइन फटने से लगभग 30 कर्मी इसकी चपेट में आ गए। जिसमें झुलसे कर्मियों को पंडित जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केंद्र सेक्टर 9 के बर्न यूनिट में स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की निगरानी में उन्हें रखा गया है।

इन कर्मचारियों की हुई मौत
बीएसपी में मेंटनेंस के दौरान गैस पाइप लाइन फटने से मरने वालों में गणेश राम, उदय पांडेय, एसए अहमद, इंद्ररमन दुबे, केआर ध्रुव, हेमंत उंरावे, संजय चौधरी, मलखान प्रसाद, बीएन राजपूत, देवनारायण तारण शामिल है।

इन झुलसे कर्मियों का बर्न यूनिट में चल रहा उपचार
बर्न यूनिट में भर्ती घायल कर्मियों में पीके चौहान, दिनेश बोमानिया, छत्रपाल राणा, सुकांत, लोकेंद्र, रंंजीत कुमार, हेमंत कुर्रे, टीएन जयसवाल, सोहन लाल, जितेंद्र कुमार, सत्या विजय, राठौर, नरेंद्र और विमल शामिल हैं। जिनका उपचार सेक्टर 9 अस्पताल में चल रहा है।

SAIL BSP

पूरा सेल परिवार इस घटना में प्रभावित परिवार के सदस्यों के साथ खड़ा है

नई दिल्ली/भिलाई. स्टील अथॉरिटी ऑफ इण्डिया लिमिटेड (सेल) के भिलाई इस्पात संयंत्र में आज सुबह करीब 10:30 बजे नियमित मरम्मत कार्य के दौरान कोक ओवन बैटरी कॉम्प्लेक्स नंबर 11 के गैस पाइप लाइन में आग लगने की एक दुखद घटना घटी है। इस स्थान पर कार्य कर रहे कुछ लोग जलने घायल हुए हैं।

घायल लोगों को तत्काल भिलाई जनरल अस्पताल इलाज के लिए पहुंचाया गया है। इस बीच आग को नियंत्रित कर लिया गया है। इस घटना में 10 लोगों के जीवन अपूरनीय क्षति हुई है। 14 लोगों का अस्पताल में इलाज किया जा रहा है। घायल लोगों के इलाज के लिए हर तरह की राहत और देखभाल से जुड़े संसाधन मुहैया कराये जा रहे हैं। पूरा सेल परिवार इस घटना में प्रभावित परिवार के सदस्यों के साथ खड़ा है और उनको हर तरह की सहायता उपलब्ध कराने में पूरी क्षमता से जुटा हुआ है।

SAIL BSP
Satya Narayan Shukla Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned