18 वीं राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता : जर्जर और उबड़-खाबड़ मैदान में 1400 खिलाड़ी दिखाएंगे प्रतिभा

जिला मुख्यालय में रविवार से 18वीं राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता का आगाज हो रहा है। इस खेल स्पर्धा में प्रदेश के 12 जोन के कुल 1400 खिलाड़ी भाग लेंगे।

By: Chandra Kishor Deshmukh

Published: 24 Nov 2018, 11:30 PM IST

बालोद@Patrika. जिला मुख्यालय में रविवार से 18वीं राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता का आगाज हो रहा है। इस खेल स्पर्धा में प्रदेश के 12 जोन के कुल 1400 खिलाड़ी भाग लेंगे। इस प्रदेश स्तरीय आयोजन को लेकर इस शहर और जिला प्रशासन का दुर्भाग्य ही कहा जाएगा कि यह आयोजन करोड़ों की लागत से निर्मित स्टेडियम में ना होकर अन्य खेल मैदानों में होगा।
बता दें कि राज्य और जिला बनने के बाद यहां खेल प्रतिभा और खिलाडिय़ों की कमी नहीं है। यहां के खिलाडिय़ों ने राज्य से लेकर नेशनल स्तर की स्पर्धाओं में भाग लेकर ना सिर्फ बेहतर खेल प्रतिभा का प्रदर्शन किए बल्कि हजारों मेडल भी जीत चुके हैं। इनमें गोल्ड से लेकर सिल्वर और कांस्य पदक शामिल है। इसके बाद भी खेलने लायक मैदान ना होना बहुत की शर्मनाक है।

आयोजन समिति की रहेगी जवाबदारी
राज्य स्तरीय आयोजन की मेजबानी में जिला कलक्टर आयोजन समिति का अध्यक्ष होता है। यह उनकी जिम्मेदारी बनती है कि वे तय करें कि मैदान मानक स्तर पर हैं या नहीं?

18 वीं राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता में 14 सौ खिलाड़ी लेंगे भाग
रविवार से जिला मुख्यालय में स्कूल खेल विभाग द्वारा 18 वीं राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इस खेल स्पर्धा में प्रदेश के 12 जोन के कुल 1400 खिलाड़ी भाग लेंगे। इस प्रतियोगिता में रस्साकशी, फुटबॉल, टेनिस, म्युथाई, टेनिस बाल क्रिकेट आदि स्पर्धा होंगे। यह खेल स्पर्धा सरदार पटेल मैदान, संस्कार शाला मैदान और कॉलेज ग्राउंड में होगा।

इन खेलों के राज्य व राष्ट्रीय खिलाड़ी
जिले में योंगमुडो, चोईक्वांग डो, हैण्डबाल, टेनिस बाल क्रिकेट, साफ्टबॉल, खो-खो, टेबल साकर, रोल बाल, थाई बॉक्सिंग, थ्रो बाल, ड्राप रो बाल आदि खेल के राज्य व राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी है।

नाम का स्टेडियम, सामाजिक जलसों का मैदान
जिला मुख्यालय में करोड़ों की लागत से निर्मित सरयूप्रसाद अग्रवाल स्टेडियम में राज्य स्तरीय स्पर्धाएं नहीं होंगी। स्टेडियम में सिर्फ 15 अगस्त और 26 जनवरी को राष्ट्रीय पर्व मनाया जाता है। इसके बाद सामाजिक कार्यक्रमों में उपयोग होता है। मरम्मत और देखरेख की चिंता किसी को नहीं रहती है। मैदान के पवेलियन से पूरा शेड गायब हो गया है। भीतर बने कमरे जर्जर स्थिति में है। जिले के प्रभारी मंत्री बृजमोहन अग्रवाल भी इसी उजड़े मैदान में आकर सलामी लेते हैं और इसकी दुर्दशा पर कुछ नहीं बोलते। अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाके लिएखिलाड़ी तैयार करने जिला मुख्यालय में एक बेहतर और सर्वसुविधा स्टेडियम की जरूरत है।

 

balod patrika

नहीं लेते एथलेटिक्स खेल की मेजबानी
जिला खेल अधिकारी दुर्गेश नंदनी साहू ने बताया कि जिले में प्रतिभावान खिलाडिय़ों की कमी नहीं है। जिला मुख्यालय में बेहतर खेल मैदान नहीं है। करोड़ों की लागत से निर्मित शहर का सबसे बड़ा स्टेडियम जर्जर और खराब है। स्टेडियम अपनी बदहाली स्वयं बयां कर रही है। मैदान नहीं होने की वजह से ही एथेलिटिक्स खेल की मेजबानी नहीं लेते है। राज्य से इन खेलों की मेजबानी दी जाती है है, पर उपयुक्त मैदान नहीं होने की वजह से मेजबानी से मना कर देते हैं। सरयू प्रसाद अग्रवाल बड़ा स्टेडियम और बहुत से खेल यहां हो सकते हैं। थोड़ी राशि खर्च कर मैदान की मरम्मत और देखरेख से खेलने लायक मैदान तैयार किया जा सकता है। इधर खेल प्रतियोगिता के आयोजन से पहले खेल विभाग के कर्मचारियों ने तो सरदार पटेल मैदान पर उग आए खरपतवार और बिखरी बजरी गिट्टियों को हटाकर खेलने लायक बनाया गया है।

प्रदेश में बालोद के खिलाडिय़ों का दबदबा, हर बार जीतते हैं गोल्ड
बालोद स्कूली खेल विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक बालोद जिला बनने के बाद से जिले में लगातार अच्छे खिलाड़ी समाने आ रहे है। न सिर्फ खेल प्रतिभा का बेहतरीन प्रदर्शन कर रहें बल्कि मैडल की संख्या भी बढ़ रही है। पिछले साल 2017 में मेतो जिले के खिलाडिय़ों ने 19 गोल्ड मैडल व 17 सिल्वर सहित कुल 42 मैडल जीते थे।

राज्य व राष्ट्रीय स्पर्धा में भाग लेने वाले खिलाडिय़ों व पदक
वर्ष राज्य राष्ट्रीय रा. पदक
2014 428 55 08
2015 597 72 08
2016 678 83 09
2017 720 125 37
2018 1074 128 42

प्रतिभाओं की कमी नहीं
जिला खेल अधिकारी शिक्षा विभाग दुर्गेश नंदिनी साहू ने कहा जिले में खेल प्रतिभाओं की कमी नहीं है। अगर जिला मु?यालय में खेलने लायक मैदान मिल जाए तो और अच्छे से खेल प्रतियोगिता का आयोजन कराएंगे। मैदान नहीं होने से आयोजन को लेकर परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

Chandra Kishor Deshmukh Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned