BSP : 1100 कर्मियों ने मर्चेंट मिल का किया कैपिटल रिपेटर, अब होगा उत्पादन

BSP : 1100 कर्मियों ने मर्चेंट मिल का किया कैपिटल रिपेटर, अब होगा उत्पादन

Bhuwan Sahu | Updated: 13 Jun 2019, 11:59:51 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन ने मर्चेंट मिल के कैपिटल रिपेयर का काम पूरा कर लिया है। शुक्रवार से उत्पादन शुरू हो जाएगा। रिपेयर के काम में संयंत्र के करीब सारे ही विभाग लगे रहे।

भिलाई . भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन ने मर्चेंट मिल के कैपिटल रिपेयर का काम करीब पूरा कर लिया है। उम्मीद है कि शुक्रवार से उत्पादन शुरू हो जाएगा। मेंटनेंस काम समय पर पूरा हो, इसके लिए प्रबंधन ने पूरी ताकत झोंक दी। मेंटनेंस काम को तीनों शिफ्ट में करवाया गया। रिपेयर के काम में संयंत्र के करीब सारे ही विभाग लगे रहे।
बीएसपी प्रबंधन लगातार हो रही दुर्घटनाओं से निपटने के लिए मेंटनेंस काम पर संजीदगी दिखा रहा है। इसके पहले उत्पादन अधिक से अधिक हो, इस दिशा में प्रबंधन काम कर रहा था। जिससे मेंटनेंस के अभाव में ब्रेक डाउन आना शुरू हो गया था।

६ दिनों में काम पूरा करने का था टारगेट

मेंटनेंस विभाग को प्रबंधन ने विशाल मर्चेंट मिल के मेंटनेंस काम को पूरा करने महज ६ दिनों का समय दिया था। मेंटनेंस टीम ने ९ जून २०१९ को इस काम शुरू किया। टारगेट १४ जून तक इस कार्य को पूरा कर लेने का है। काम जल्द पूरा हो, इस वजह से तीनों सिफ्ट में जरूरत के मुताबिक कर्मचारियों को लगा दिया गया। यहां करीब ११ सौ कर्मियों की ड्यूटी लगा दी गई। इस टीम ने तेजी से काम को अंजाम दिया।

यह काम कर रहे मेंटनेंस में

बीएसपी प्रबंधन मेंटनेंस के दौरान इलेक्ट्रिक मोटर की मरम्मत का काम पूरा किया है। इसके अलावा यहां की जर्जर हो चुकी पाइप लाइन को भी बदला गया है। जिससे बेहतर उत्पादन लगातार लिया जा सके। मर्चेंट मिल को रिपेयर में लेने के दौरान गैस लाइन का भी मेंटनेंस किया गया।

मर्चेंट मिल में इसका होता है उत्पादन

बीएसपी के मर्चेंट मिल में टीएमटी सरिया, एंगल चैनल, टीएमटी बार और राउंड का निर्माण किया जाता है। इसकी सप्लाई पूरे देश में मांग के मुताबिक सेल मार्केटिंग व एजेंसी के माध्यम से सेल प्रबंधन करता है।

११ सौ कर्मियों ने किया काम

वायर रॉड मिल के कैपिटल रिपेयर को महज ९ दिनों में पूरा किया जाना है। इस वजह से प्रबंधन इसके लिए पूरी ताकत लगा रहा है। इसमें आरईडी, सीएसएम, इलेक्ट्रिक, सीआरएम, सीएचएम, स्ट्रूमेंटेशन, वायर रॉड मिल समेत अन्य विभाग के करीब ७५० कर्मचारियों को काम में लगाया जा रहा है। इस काम को बीएसपी प्रबंधन आंतरिक संसाधनों से पूरा करने की तैयारी कर चुका है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned