केंद्रीय मंत्री की घोषणा के बाद भी बीएसपी गैस हादसे में अनुकंपा नियुक्ति नहीं

केंद्रीय मंत्री की घोषणा के बाद भी बीएसपी गैस हादसे में अनुकंपा नियुक्ति नहीं

Abdul Salam | Publish: Mar, 17 2019 12:14:24 PM (IST) | Updated: Mar, 17 2019 12:14:25 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

बीएसपी में 9 अक्टूबर को हुए गैस हादसे के बाद केंद्रीय मंत्री भिलाई पहुंचे,कर्मियों के बीच एलान किया, कि मृतक के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति दी जाएगी,

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र में 9 अक्टूबर 2018 को हुए गैस हादसे के बाद केंद्रीय मंत्री भिलाई पहुंचे और कर्मियों के बीच एलान किया, कि मृतक के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति दी जाएगी। इसके बाद भी अब तक ४ परिवार अनुकंपा नियुक्ति का इंतजार कर रहा है। यूनियन इस विषय को लेकर सड़क से लेकर एनजेसीएस की बैठक तक में आवाज उठा चुका है। बावजूद इसके प्रबंधन के कान में जूं नहीं रेंग रही है।

क्यों किया घोषणा
सेल के किसी भी संयंत्र में दुर्घटना के दौरान कार्मिक की मौत हो जाती है, तो उसके परिजन को नियम से अनुकंपा नियुक्ति दिया जाना है। मंत्री जब अनुकंपा नियुक्ति की घोषणा करते हैं, तो तमाम नियमों को शिथिल कर पीडि़त परिवार को अनुकंपा नियुक्ति का लाभ दिया जाना था। इसके विपरीत नियम के तहत ही अनुकंपा नियुक्ति देने की बात कहकर प्रबंधन ने केंद्रीय मंत्री की घोषणा के बाद भी चार परिवार को अब तक अनुकंपा नियुक्ति से दूर रखा है।

श्रमिक नेता उतरे सड़क पर
एचएमएस के राष्ट्रीय उपााध्यक्ष एचएस मिश्रा ने कहा कि सेल प्रबंधन गैस हादसे में मृत 4 परिवार के सदस्यों को जल्द अनुकंपा नियुक्ति दे, नहीं तो माहौल खराब हो सकता है। इसके पहले उन्होंने बताया कि बोकारो में 10 व 11 मार्च को स्टील मेटल व इंजीनियरिंग वर्कर्स फेडरेशन (स्मेफी) का राष्ट्रीय अधिवेशन हुआ। जहां अधिवेशन में राष्ट्रीय पदाधिकारियों व कार्यकारिणी के सदस्यों का चुनाव हुआ। जिसमें स्मेफी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर एसडी त्यागी, महासचिव पद पर संजय वढ़ावकर व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद पर भिलाई श्रमिक सभा यूनियन के अध्यक्ष एचएस मिश्रा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चुने गए।

बंद स्कीम को किया जाए शुरू
यूनियन ने मांग किया कि बीएसपी कर्मियों की जो योजना बंद कर दी गई है, उसे शुरू किया जाए। डेली रिवार्ड स्कीम, एचआरए को शुरू किया जाए। इससे कर्मियों के उत्साह में वर्धन हो सके। इस मौके पर अध्यक्ष प्रेम सिंह चंदेल, जी जोगिंदर राव, लखविंदर सिंह, हरी राम यादव, डीके सिंह, हेमंत महोबिया, वजी अहमद, वीके सिंह, रमेश तिवारी, अरूण चौबे, सुदीप सेन, अशोक पंडा, किताबुद्दीन, त्रिलोक मिश्रा शामिल थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned