बीएसपी कर्मचारियों का जज्बा, हाथ से पलटा रहे 1560 किलो वजनी रेलपांत

बीएसपी कर्मचारियों का जज्बा, हाथ से पलटा रहे 1560 किलो वजनी रेलपांत

Bhuwan Sahu | Publish: Jul, 14 2018 12:52:05 AM (IST) Bhilai, Chhattisgarh, India

आरसीएल में 13 और 26 मीटर रेल पांत की जांच कर रहे राइट्स की इंस्पेक्शन टीम।

भिलाई . भिलाई इस्पात संयंत्र के रेल स्ट्रक्चर मिल (आरएसएम) में अधिकारी से लेकर कर्मचारी सब मुस्तैद हैं। जिनके जो जिम्मेदारी मिली है उसे पूरा करने में जुटे हैं। क्योंकि राइट्स की इंस्पेक्शन टीम पहुंच चुकी है। बीएसपी के अधिकारी अपने उत्पाद की जांच करवाने की तैयारी में जुटे हैं। यह नजारा है, संयंत्र के आरसीएल का। यहां १३ व २६ मीटर रेलपांत की जांच किया जाएगा। अपने संयंत्र में तैयार हुए रेलपांत के इंस्पेक्शन के समय बीएसपी कर्मचारियों का जज्बा साफ झलक रहा है। वे हाथ से १५६० किलो वजनी रेलपांत को बेड के भीतर बेहद सलीके से पलटते हैं। उनके एक रेलपांत से दूसरे रेलपांत में जाते ही आरसीएल का एक कर्मचारी रेलपांत के दूसरे हिस्से की जांच करवाने के लिए उसे पलटने में जुट जाता है। जांच अधिकारी इसके उस हिस्से की जांच करते हैं। इस तरह वे रेलपांत को चारों तरफ से देखकर संतुष्ट होने के बाद ही पास कर रहे हैं।
बीएसपी के आरसीएल में रेलपांत की जांच मैनुअली की जा रही है। अधिकारी खुद मौजूद रहकर रेलपांत पर पहले चलकर देख लिए। अब गेज से जांच कर रहे हैं। रेल को ठंडा करने के बाद सीधा किया जाता है, जिसे रेल स्टेटनिंग कहते हैं। इस दौरान रेल में किसी तरह की खराबी तो नहीं आ गई, इसे अधिकारी जांच रहे हैं। इसके लिए आउट ऑफ स्क्वायर दोनों एंड का ०.६६ एमएम होना चाहिए। इसके बाद अधिकारियों ने रेलपांत का अप शिप व डाउन शिप की जांच की। रेलपांत के उपरी सतह के बेड एण्ड की जांच की।

ढलती उम्र में भी अपने संयंत्र में तैयार सामान को दिखाने का जज्बा

बीएसपी के आरसीएल में कर्मचारी हाथ में सिल्टर लिए जांच अधिकारी को रेलपांत इस तरह पलटा-पलटा कर चारों ओर से दिखा रहे हैं,जैसे दुकानदार अपनी दुकान की चादर को कभी इस ओर से कभी उस ओर से दिखाता है। राइट्स के अधिकारियों को रेलपांत का एक-एक किनारा दिखा रहे हैं। इसकी कटिंग से लेकर बनावट में किस तरह की फिनिशिंग है। कर्मियों की उम्र बढ़ गई पर जज्बा कम नहीं है। ५० साल पार कर चुके कर्मचारी भी हाथ में शिल्ट लिए इस काम में जुटे हैं।

अकेले कर्मचारी ने पलट दिए 100 रेलपांत

बीएसपी के कर्मचारी ने हाथ से ही एक रेलपांत को ४ बार पलट दिया। २५ रेलपांत की जांच करवाने वाले इस कर्मी ने रेलपांत को १०० बार पलटा। इसके बाद भी कर्मचारी के माथे पर शिकन नहीं है। वह पूरे बेड पर एक नजर घुमाने के बाद अधिकारी से रेलपांत की तारीफ करने में जुट गया।

३५० से अधिक रेलपांत का किए इंस्पेक्शन

राइट्स के अधिकारियों ने पहले शिफ्ट में सुबह ९ से १.३० बजे के बीच रेलपांत की जांच पूरी की। इस दौरान करीब ३५० से अधिक रेलपांत की उन्होंने इंस्पेक्शन किया है। विभाग के करीब दस कर्मचारी रेलपांत को पलटाने की ड्यूटी कर रहे हैं।

१५६० किलो एक रेलपांत का वजन

बीएसपी में अकेले कर्मचारी जिस १३ मीटर का एक रेलपांत सिल्ट से पल्टी कर रहा है, उसका वजह ७८० किलो है। वहीं २६ मीटर की रेलपांत का वजन १५६० किलो होता है। १०० रेलपांत की जांच करवाने के लिए कर्मचारियों ने ४०० बार रेलपांत को पल्टी किया। दोपहर भोजन के बाद फिर वे इस काम में जुट जाएंगे।

आठ बेड बनकर था तैयार

इंस्पेक्शन के लिए ८ बेड बनकर तैयार था। एक बेड में करीब ८० रेलपांत रखा जाता है। अधिकारियों ने इस बेड में मौजूद रेलपांत पर चलने के बाद उसकी बारिकी से फिजिकल जांच की। बीच-बीच में कर्मियों से वे बात करते और रेलपांत के दोनों कोने को हाथ से पकड़कर देखते। रेलपांत की उपरी सतह में कितना घुमाव है,यह वे देखने के बाद आगे बढ़े अधिकारियों से चर्चा की।

Ad Block is Banned