scriptBSP officers will get more PRP than last time | बीएसपी अफसरों को पिछली बार से ज्यादा मिलेगा पीआरपी | Patrika News

बीएसपी अफसरों को पिछली बार से ज्यादा मिलेगा पीआरपी

इस बार के फॉर्मूला में 50 फीसदी कंपनी सेल का, 30 फीसदी यूनिट और 20 प्रतिशत व्यक्तिगत परफॉरमेंस पर है। इस तरह व्यक्तिगत गे्रडिंग का फर्क अब कम पड़ेगा। एमाउंट भी ज्यादा आएगा क्योंकि सेल को वित्तीय वर्ष 2020-21 में प्रॉफिट ज्यादा हुआ है।

भिलाई

Published: April 26, 2022 07:09:15 pm

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र के अफसरों को वर्ष 2020-21 का परफॉरमेंस रिलेटेड पे (पीआरपी) जल्द ही मिलेगा। सेल के स्वतंत्र और सरकार की ओर से नियुक्त निदेशकों की कमेटी एनआरसी ने इसकी मंजूरी दे दी है। हालांकि भुगतान की तारीख निर्धारित नहीं हुई है, लेकिन माना जा रहा है कि मई के दूसरे सप्ताह तक अफसरों के बैंक खाते में पीआरपी के रूप में एकमुश्त मोटी रकम पहुंच जाएगी।
स्टील एक्जीक्यूटिव फेडरेशन ऑफ इंडिया (सेफी) के चेयरमैन व बीएसपी ऑफिसर्स एसोसिएशन के प्रेसीडेंट नरेंद्र कुमार बंछोर ने बताया कि भारत सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक इंटरप्राइजेज (डीपीई) की ओर से महारत्न कंपनी सेल सहित अन्य सार्वजनिक लोक उपक्रम में ग्रेडिंग जारी करने के बाद साल 2020-21 के पीआरपी भुगतान का निर्णय लिया गया है। तारीख अभी तय नहीं हुई है मगर एनआरसी से क्लियर हो गया है।
व्यक्तिगत गे्रडिंग का फर्क अब कम पड़ेगा
बंछोर ने बताया कि इस बार के फॉर्मूला में 50 फीसदी कंपनी सेल का, 30 फीसदी यूनिट और 20 प्रतिशत व्यक्तिगत परफॉरमेंस पर है। इस तरह व्यक्तिगत गे्रडिंग का फर्क अब कम पड़ेगा। एमाउंट भी ज्यादा आएगा क्योंकि सेल को वित्तीय वर्ष 2020-21 में प्रॉफिट ज्यादा हुआ है। पिछली बार हर ग्रेड में 20 प्रतिशत का अंतर था इस बार मात्र 4 फीसदी रहेगा। इससे सभी अफसरों को पीआरपी के रूप मेंं अच्छी-खासी रकम मिलेगी।
इस बार मिलेगा सेल के पीबीटी का 5 फीसदी पीआरपी
लंबे समय बाद बीएसपी अफसरों को इंक्रीमेंटल पीआरपी मिलने जा रहा है। इसकी वजह है कि वित्त वर्ष 2019-20 में सेल का कर पूर्व लाभ (पीबीटी) 3171 करोड़ था। जबकि वित्त वर्ष यानी 2020-21 में सेल का कर पूर्व लाभ 6879 करोड़ रहा। यानि पिछले वर्ष कंपनी को अधिक लाभ हुआ। सेफी चेयरमैन बंछोर के मुताबिक पिछली बार नार्मल प्रॉफिट था इसलिए 3 प्रतिशत पीआरपी मिला। इस बार इन्क्रीमेंटल प्रॉफिट है, इसलिए अफसरों को कंपनी के पीबीटी का 5 प्रतिशत पीआरपी मिलेगा।
बीएसपी अफसरों को पिछली बार से ज्यादा मिलेगा पीआरपी
बीएसपी अफसरों को पिछली बार से ज्यादा मिलेगा पीआरपी
जीएम, सीजीएम को मिलेंगे चार से पांच लाख रुपए
यदि महाप्रबंधक व मुख्य महाप्रबंधक स्तर के अधिकारियों की बात करें तो उन्हें वर्ष 2020-21 के पीआरपी मद में चार से पांच लाख रुपए मिलने का अनुमान है। इससे नीचे के अफसरों को दो से तीन लाख रुपए मिलेंगे। बीएसपी के लगभग ढाई हजार सहित सेल की अलग-अलग इकाई में कार्यरत लगभग 13 हजार अधिकारी लाभान्वित होंगे। इससे कंपनी के खजाने पर लगभग 160 करोड़ रुपए का भार आएगा।
उत्पादन-उत्पादकता और और परफॉरमेंस
के आधार पर मिलता है पीआरपी
बीएसपी कर्मियों को बोनस दिए जाने का प्रावधान नहीं है, ऐसे में सेल प्रबंधन बेहतर कार्मिकों को दूसरे तरीके से आर्थिक लाभ देकर प्रोत्साहित करता है। इसके लिए उत्पादन-उत्पादकता और और परफॉरमेंस को आधार बनाया जाता है। कर्मचारियों को बीते वित्तीय वर्ष के साथ-साथ मौजूदा वित्त वर्ष की पहली छमाही के प्रदर्शन के आधार पर बोनस के रूप में एक्सग्रेसिया दिया जाता है। वैसे ही अफसरों को पीआरपी यानि परफॉरमेंस रिलेटेड पे दिया जाता है।
इस बार पीआरपी पिछली बार से बेहतर ही आएगा
थर्ड पीआरपी में काफी कुछ बदल गया है। अफसरों को अच्छा-खासा एमाउंट मिलेगा, कितना मिलेगा यह कहना अभी उचित नहीं होगा, लेकिन इस बार पीआरपी पिछली बार से बेहतर ही आएगा। पिछली बार हर ग्रेड में 20 प्रतिशत का अंतर था इस बार मात्र 4 फीसदी रहेगा, क्योंकि इस बार का फॉर्मूला अलग है।
नरेंद्र कुमार बंछोर, चेयरमैन, स्टील एक्जीक्यूटिव फेडरेशन ऑफ इंडिया (सेफी)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: संजय राउत का बड़ा दावा, कहा-मुझे भी गुवाहाटी जाने का प्रस्ताव मिला था; बताया क्यों नहीं गएक्या कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी में होने वाले हैं शामिल?कानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशानाआतंकी सोच ऐसी कि बाइक का नम्बर भी 2611, मुम्बई हमले की तारीख से जुड़ा है नंबर, इसी बाइक से भागे थे दरिंदेपाकिस्तान में चुनावी पोस्टर में दिख रहीं सिद्धू मूसेवाला की तस्वीरें, जानिए क्या है पूरा मामला500 रुपए के नोट पर RBI ने बैंकों को दिए ये अहम निर्देश, जानिए क्या होता है फिट और अनफिट नोटनूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट लिखने पर अमरावती में दुकान मालिक की हुई हत्या!Maharashtra Politics: उद्धव और शिंदे के बीच सुलह कराना चाहते हैं शिवसेना के सांसद, बीजेपी का बड़ा दावा-12 एमपी पाला बदलने के लिए तैयार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.