बीएसपी के नए मिल यूआरएम ने तोड़ा रिकार्ड, 1 माह में किया सर्वाधिक रेलपटरी की सप्लाई

लक्ष्य को किया जाएगा पूरा.

By: Abdul Salam

Published: 01 Jan 2020, 11:33 AM IST

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र के यूनिवर्सल रेल मिल ने दिसंबर 2019 में रेल पटरी की आपूर्ति में नया कीर्तिमान दर्ज किया है। यूआरएम व रेल स्ट्रक्चर मिल (आरएसएम) ने अक्टूबर 2019 में मिलकर 58 रेक लांग्स रेलपटरी की आपूर्ति किया था। दिसंबर 2019 में इस रिकार्ड को तोड़ते हुए यूआरएम ने 50 रेक लांग्स रेल पटरी व आरएसएम ने 12 रेक लांग्स रेलपटरी की आपूर्ति किया है। यह अब तक किए गए रेल पटरी में नया कीर्तिमान है। बीएसपी ने इसके अलावा 13 मीटर के 18 रेक और 6 मीटर के 4 रेक रवाना किया है।

यूआरएम ने तोड़ा एक माह का रिकार्ड
दिसंबर 2019 में यूआरएम ने लांग्स रेल पटरी की आपूर्ति का नया रिकार्ड कायम किया है। अक्टूबर 2019 में यूआरएम से 45 रेक लांग्स रेलपटरी की आपूर्ति की गई थी। वहीं दिसंबर में 50 रेक लांग्स रेलपटरी की आपूर्ति भारतीय रेल को की गई है। यह अब तक किए गए रेल आपूर्ति में यूआरएम का नया रिकार्ड है।

लक्ष्य को किया जाएगा पूरा
बीएसपी वित्त वर्ष 2019-20 में रेल पटरी के उत्पादन का लक्ष्य पूरा करने कमर कस चुका है। अब तक करीब पौने 9 लाख टन रेल पटरी की आपूर्ति भारतीय रेल को कर चुका है। वहीं करीब 10 लाख टन रेल पटरी का उत्पादन किया है।

3.5 लाख टन करना है उत्पादन
भारतीय रेल को बीएसपी वित्त वर्ष 2019-20 में 13.5 लाख टन रेल पटरी की आपूर्ति करना है। अब तक करीब 10 लाख टन रेल पटरी का उत्पादन किया जा चुका है। इस तरह से अंतिम चौंथाई (जनवरी से मार्च 2020) के दौरान बीएसपी को 3.5 लाख टन रेल पटरी का उत्पादन करना है। बीएसपी हर माह 1.20 लाख टन से 1.40 लाख टन तक रेल पटरी का उत्पादन करता है। जिससे यह तय है कि इस साल 13.5 लाख टन रेल पटरी के लक्ष्य को बीएसपी पूरा कर लेगा, यह उम्मीद की जा रही है।

62 रेक लांग्स रेल पटरी इस माह किए रवाना
बीएसपी ने इस माह में दिसंबर 2019 में भारतीय रेल को 62 रेक लांग्स रेल पटरी की आपूर्ति की है। जिसकी वजह से अक्टूबर 2019 का रिकार्ड टूटा है।

Show More
Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned