क्या हो रहा है इस नगर में : कुत्ते के बाद बैल के मुंह में फटा बम, पढि़ए पूरी खबर

गंडई-पंडरिया नगर में बुधवार को फिर एकबार मंदिर परिसर के आसपास विस्फोट हुआ है। इस बार विस्फोट के चपेट में बैल आ गया।

By: Satya Narayan Shukla

Published: 06 Jun 2018, 11:34 PM IST

राजनांदगांव/गंडई-पंडरिया. नगर में बुधवार को फिर एकबार मंदिर परिसर के आसपास विस्फोट हुआ है। इस बार विस्फोट के चपेट में बैल आ गया। कचरे के ढेर में चारा खाने के बाद बैल के मुंह में जोरदार विस्फोट हो गया। इससे उसके मुंह से अधिक मात्रा में खून बह गया। घटना दोपहर २.३० बजे की बताई गई है। घायल बैल को इलाज के लिए अंजोरा के वेटरनरी हॅास्पिटल ले जाया गया है। इससे पहले मंगलवार को इसी तरह के विस्फोटक पदार्थ खाने से कुत्ते के मुंह में धमाका हो गया था। इससे उसकी मौत हो गई थी। लगातार दो दिनों में इस तरह की घटना से नागरिको सहित पशु प्रेमियों में दहशत का माहौल है।

नगर के धार्मिक स्थल के पास यह दूसरी घटना
नगर के धार्मिक स्थल देवी गंगई मंदिर परिसर के पास यह दूसरी घटना है। अंदाजा लगाया जा रहा है कि यह किसी शरारती तत्वों की कारस्तानी हो सकती है, जो विस्फोटक पदार्थ को आटे या अन्य खाने-पीने के सामान में डालकर कूड़े में फेंक दे रहे होंगे। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बैल के मुंह में इतना खतरनाक विस्फोट हुआ है कि बैल का पूरे जबड़े के चीथड़े उड़ गए और जीभ भी फट गई। इस घटना के बाद से गंडई एसडीओपी ने सफाई कर्मियों को कचरे को सावधानी पूर्वक उठाने और लोगों को खुले में कचरा नहीं फेंकने के साथ ही सावधानी बरतने कहा है। घरों और दुकानों में डस्टबिन रखने की हिदायत दी है।

आखिर कहां से आ रहा विस्फोटक
नगर में दो दिनों तक बम फुटने की घटना और कुत्ते व बैल के चपेट में आने की खबर को सभी चटखारे
ले रहे हैं। किसी का ध्यान इस ओर नहीं जा रहा है कि आखिर यह विस्फोटक पदार्थ कहां से आ रहा है। कौन ला रहा है। इसकी तह तक जिम्मेदार लोग नहीं पहुंच पाए हैं। इस पर समय रहते अंकुश नहीं लगा तो आने वाले दिनों में बच्चों सहित नगरवासी भी बम की चपेट में आ सकते हैं।

Read more: OMG! हड्डी समझ कर कुत्ते ने खा लिया बम, धमाके में उड़ गए चीथड़े, मचा हड़कंप

सफाई कर्मियों को खतरा
जिस प्रकार लगातार दो दिनों से कचरे में विस्फोट हुआ है। इससे सफाई कर्मियों में भी भय का माहौल है। नगर के सभी जगह की सफाई और कचरा उठाने का काम ये लोग ही करते हैं। बच्चे भी खेलते हुए इस तरह के हादसे का शिकार हो सकते हैं। इस ओर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया गया, तो कोई अप्रिय घटना हो सकती है।

एक जिंदा बम जब्त
घटना की जानकारी मिलते ही एसडीओपी जितेंद्र खूंटे ने स्टाफ के साथ घटना स्थल का जायजा लिया और एक जिंदा बमनुमा वस्तु को जब्त कर जांच के लिए भेजा है। घायल बैल को प्रारंभिक उपचार के बाद पुलिस विभाग, पशुचिकित्सक और युवा जनजागरण समिति के श्यामपाल ताम्रकार, भिगेश यादव के सहयोग से दुर्ग अंजोरा भेजा गया है। बताया गया कि जहां घटनाएं हुई है, उस क्षेत्र में असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगा रहता है।

 

Satya Narayan Shukla Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned