स्टूडेंट्स ध्यान दें, CBSE ने 10 वीं, 12 वीं बोर्ड परीक्षा के पैटर्न में किया बड़ा बदलाव, इसी साल से हुआ लागू

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कोरोना के चलते इस बार 10वीं और 12 वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा के पैटर्न में बड़ा बदलाव किया है। यह बदलाव इसी सत्र 2020-21 से लागू होगा।

By: Dakshi Sahu

Published: 01 Dec 2020, 04:27 PM IST

भिलाई. केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कोरोना के चलते इस बार 10वीं और 12 वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा के पैटर्न में बड़ा बदलाव किया है। यह बदलाव इसी सत्र 2020-21 से लागू होगा। स्टूडेंट्स और अभिभावक परीक्षा पैटर्न में यह बदलाव ऑफिशियल वेबसाइट पर जारी सैंपल पेपर के जरिए देख सकते हैं। बदलाव कई पेपरों में किया गया है। 10 वीं के हिन्दी विषय में अब केवल दो खंड में ही प्रश्न रहेंगे। प्रथम खंड में केवल वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न होंगे, जबकि द्वितीय खंड में लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे। अभी तक हिन्दी में चार खंड में प्रश्न पूछे जाते थे। हिन्दी के प्रथम खंड में 40 माक्र्स और द्वितीय खंड में 40 माक्र्स के सवाल रहेंगे। इसी तरह से 12वीं के इंग्लिश विषय में भी बदलाव किया है।

दो ही खंड में पूछे जाएंगे सवाल
अभी तक अंग्रेजी में तीन खंड में प्रश्न पूछे जाते थे, लेकिन अब दो खंड प्रश्न पूछे जाएंगे। पहले खंड में बहुविकल्पीय प्रकार के प्रश्न और दूसरे खंड में लघु तथादीर्घ उत्तरीय प्रश्न रहेंगे। 12वीं जीव विज्ञान के प्रश्न पत्र में पांच की जगह चार भाग होंगे और प्रश्नों की संख्या 27 से बढ़ाकर 33 कर दी गई है। इसी प्रकार मनोविज्ञान में इस साल वस्तुनिष्ठ प्रश्न की संख्या 17 से बढ़ाकर 21 की है।

प्रश्नों की संख्या घटाई
सीबीएसई बोर्ड ने कहा कि कला संकाय के कई विषयों में प्रश्न पत्र की संख्या घटाई है। बोर्ड 12 वीं कक्षा में मल्टीपल च्वाइस वाले प्रश्नों की संख्या 18 की जगह 15 कर दी गई है। इनमें से केवल 14 प्रश्नों के जवाब ही देने है। परीक्षा के पेपर्स में बदलाव की जानकारी सैंपल पेपर से दे दी गयी है, ताकि विद्यार्थियों को परेशानी नहीं हों।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned