scriptCenter ready to increase salary of workers, Chhattisgarh is not taking | केंद्र कर्मियों का वेतन बढ़ाने तैयार, छत्तीसगढ़ नहीं कर रहा पहल | Patrika News

केंद्र कर्मियों का वेतन बढ़ाने तैयार, छत्तीसगढ़ नहीं कर रहा पहल

दर्द सुनाया टीबी कर्मियों ने,

भिलाई

Published: February 18, 2022 11:11:02 pm

भिलाई. छत्तीसगढ़ को टीबी से मुक्त करने के कार्य में लगे कर्मियों की माली हालत खोखली हो चुकी है। कर्मियों ने बताया कि महंगाई के इस दौर में उनको दूसरे राज्य में यही काम करने वालों से पचास फीसदी कम वेतन मिल रहा है। केंद्र के अधिकारी जब भी राज्य में दौरा पर आते हैं, वे साफ कहते हैं कि छत्तीसगढ़ के अधिकारी जितना बजट मांगते हैं उतना दिया जा रहा है। अगर वे टीबी कर्मियों को नियमित कर्मियों की तरह वेतन देना चाहते हैं तो उतना वेतन दिया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को इसके लिए ठोस पहल करने की जरूरत है। राज्य और केंद्र के बीच टीबी के कर्मचारी जूझ रहे हैं।

केंद्र कर्मियों का वेतन बढ़ाने तैयार, छत्तीसगढ़ नहीं कर रहा पहल
केंद्र कर्मियों का वेतन बढ़ाने तैयार, छत्तीसगढ़ नहीं कर रहा पहल

19 साल काम करने के बाद हाथ आ रहा 17500
2023 तक प्रदेश को टीबी से मुक्त करने के काम में जुटे संविदा कर्मियों का कहना है कि 19 साल हो गए उनको काम करते। अब उनके हाथ में 17500 रुपए आ रहा है। महंगाई के दौर में परिवार के पांच सदस्यों का लालन-पालन इस पैसे में कैसे किया जा सकता है। इस रकम से घर का किराया और राशन ही आ पाता है।

एक पद और काम अनेक
एक पोस्ट में काम करने वाले को पहले मरीज का नाम कम्प्यूटर में दर्ज करना पड़ता है। तब वह डाटा एंट्री का काम करता है। इसके बाद रजिस्टर में मरीज का नाम दर्ज करता है। ऑन लाइन एकाउंट में उसे दर्ज करता है। एकाउंटेंट का काम करता है। इसके बाद मरीज को दवा देता है, तब वह फर्मासिस्ट बन जाता है। एक कर्मचारी से काम अनेक करवाया जाता है, लेकिन पैसा पचास फीसदी दिया जा रहा है।

बच्चों को नहीं दे पा रहे बेहतर एजुकेशन

राजीव कुमार सिंह, लैब टेक्नीशियन, भिलाई, ने बताया कि जिस तरह से बेसिक मानदेय मिल रहा है, उसमें बच्चों को बेहतर एजुकेशन नहीं दे पा रहे हैं। महंगाई में घर चलाना मुश्कल हो गया है। भविष्य पूरी तरह से अंधकार में है।

परिवार की है जिम्मेदारी

विनोद कुमार पटेल, लैब टेक्नीशियन, टीबी विभाग, अंबिकापुर ने बताया कि परिवार की जिम्मेदारी है, इतनी कम सैलरी में माता-पिता का इलाज, बच्चों के स्कूल की फीस कैसे हो पाएगा। विभाग की ओर से न वाहन मिलता है और न टीए, डीए।

पत्नी को है लाइलाज बीमारी
मदन विश्वकर्मा, एसटीएस, बलौदाबाजार ने बताया कि 20 साल से टीबी विभाग में काम कर रहा हूं, पत्नी को लाइलाज बीमारी है। जितना वेतन मिलता है, उसमें परिवार चलाना बहुत मुश्किल है। वेतन बढ़ाने के लिए जल्द पहल हो।

राज्य की ओर से करना है पहल
अशोक उइके, वरिष्ठ चिकित्सा पर्वेक्षक ने बताया कि परिवार में पांच सदस्य है, एक ही सैलरी पर सब निर्भर हैं, भरन पोषण करना चुनौती की तरह है। सेंट्रल से टीम आती है तो उनसे भी वेतन बढ़ाने मांग कर चुके हैं, उनका कहना होता है कि राज्य जितना मांगता है उतना बजट सेंक्शन करते हैं।

19 साल से एक ही पद पर कर रहे काम वेतन 17 हजार
अशोक कुमार ठाकुर, एसटीएस, भानुप्रतापपुर ने बताया कि टीबी विभाग में 2003 से काम कर रहे हैं। 19 साल में 6 हजार से वेतन 17 हजार में पहुंचा। एक ही पद पर कर रहे काम। बेहतर काम कर कांकेर को तीन-तीन बार प्रथम स्थान दिलाए। बदले में किसी ने सम्मानित तक नहीं किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

जापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.