शिक्षा मंत्री जी, मैनेजमेंट में फेल हो गया CSVTU, शॉर्ट टर्म कोर्स में गिनती के स्टूडेंट, फीस भी ज्यादा

शिक्षा मंत्री जी, मैनेजमेंट में फेल हो गया CSVTU, शॉर्ट टर्म कोर्स में गिनती के स्टूडेंट, फीस भी ज्यादा

Dakshi Sahu | Publish: Sep, 05 2018 11:48:35 AM (IST) Bhilai, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय ने पुराने भवन (सेक्टर-8) में शॉर्ट टर्म कोर्स यानी कौशल विकास एवं अनौपचारिक शिक्षा केंद्र का शुभारंभ तो कर दिया, लेकिन इसके मैनेजमेंट में फेल हो गए।

भिलाई. छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय ने पुराने भवन (सेक्टर-8) में शॉर्ट टर्म कोर्स यानी कौशल विकास एवं अनौपचारिक शिक्षा केंद्र का शुभारंभ तो कर दिया, लेकिन इसके मैनेजमेंट में फेल हो गए। विवि ने टेली विथ जीएसटी सिखाने के लिए आवेदन मांगे, लेकिन 30 सीटों वाले इस कोर्स में गिनती के 4 लोगों ने बड़ी मुश्किल से आवेदन किया।

ऑटोकैड कोर्स को नहीं मिला एक भी छात्र
विवि को इनकी कक्षाएं मंगलवार से शुरू करानी थी, लेकिन यह भी नहीं हो पाया। विवि के ऑटोकैड कोर्स को तो एक भी छात्र नहीं मिला है। ३१ अगस्त तक कोर्स के लिए आवेदन करने थे, लेकिन किसी ने भी रुचि नहीं दिखाई।

उच्च शिक्षा मंत्री ने किया उद्घाटन
दरअसल, विवि ने यह कोर्स शुरू कराने का दावा तो कर दिया, लेकिन ग्राउंड स्तर पर जाकर विद्यार्थियों को लाने में असफल रहे। विवि सिर्फ कॉलेजों से मिलने वाले विद्यार्थियों के भरोसे बैठा रहा। विवि के अनौपचारिक शिक्षा केंद्र का उद्घाटन 30 जून को उच्च शिक्षा मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय ने किया था। कुलपति डॉ. एमके वर्मा भी मौजूद थे।

कौन ले सकता है प्रवेश, और कैसे
केंद्र में विवि लेटेस्ट सॉफ्टवेयर्स की पढ़ाई कराएगा। विवि ने कहा है कि इन कोर्स के लिए डिग्री, डिप्लोमा, आइटीआइ, हाई और हायर सेकंडरी स्कूल उत्तीर्ण होना जरूरी है।

फीस स्ट्रक्चर में बड़ा फर्क
टेली विथ जीएसटी और आटोकैड जैसे दोनों ही कोर्स डिमांड में है, बावजूद इसके विवि को आवेदन नहीं मिले। एक बड़ा कारण यह भी है कि विवि ने आटोकैड के लिए 60 घंटे का करिकूलम बनाया, जिसकी फीस ७ हजार रुपए निर्धारित कर दी। जबकि कोचिंग संस्थानों में यह कोर्स 5 से 6 हजार रुपए कराया जा रहा है।

विद्यार्थियों को उम्मीद थी कि विवि का अनौपारिक शिक्षा केंद्र कोर्स के लिए बाहरी संस्थानों की तुलना में कम शुल्क लेगा, लेकिन विवि ने इसका उलटा किया। इसी तरह टेली विथ जीएसटी की फीस भी 7 हजार रुपए रखी।

अधिसूचना जारी करेंगे
विवि का शुल्क निर्धारण कोर्स करने वालों को पसंद नहीं आया। रजिस्ट्रार सीएसवीटीयू डीएन सिरसांत ने बताया कि अनौपचारिक शिक्षा केंद्र में संचालित कोर्स के लिए आवेदन कम आए हैं। इसके लिए तिथि बढ़ाई जाएगी। जल्द इसकी अधिसूचना जारी करेंगे।

सीएसवीटीयू ने अनौपचारिक शिक्षा केंद्र में संचालित कोर्स के लिए अब आवेदन की तिथि बढ़ाने की बात कही है। विवि के अधिकारियों का कहना है कि फिलहाल दो कोर्स ही शुरू होंगे। बुधवार को तिथि में संशोधन की अधिसूचना जारी हो सकती है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned