धारा-28 के इंटरव्यू लेने पहुंची टीम के साथ कॉलेज संचालक का हुआ विवाद, प्रक्रिया छोड़कर चले आई हेमचंद विवि की समिति

सदस्यों से अभद्र व्यवहार किए जाने का हवाला देकर दोबारा निरीक्षण कराने की सिफारिश की है।

By: Mohammed Javed

Published: 26 Dec 2019, 01:49 PM IST

भिलाई . भिलाई के एक निजी कॉलेज में धारा-28 के तहत उम्मीदवार शिक्षकों का इंटरव्यू लेने पहुंची हेमचंद विवि की टीम और कॉलेज संचालक के बीच विवाद हो गया। टीम इंटरव्यू अधूरा छोड़कर वापस चले आई। टीम ने विवि में जवाब दिया कि उक्त कॉलेज के द्वारा शिक्षक भर्ती के लिए दिए जा रहे दस्तावेज सही नहीं थे। इसके साथ ही सदस्यों से अभद्र व्यवहार किए जाने का हवाला देकर दोबारा निरीक्षण कराने की सिफारिश की है। विवि की टीम ने बताया कि उक्त कॉलेज एक साल पहले के शिक्षकों को वेरीफाई करने के लिए दवाब बना रहा था, जिसके बाद कॉलेज में ही टीम के सदस्यों के साथ बहस हुई।


बाद में कॉलेज संचालक ने भी की शिकायत
इस विवाद के बाद निजी कॉलेज संचालक ने भी इंटरव्यू के दल पर आरोप लगाए। इसकी शिकायत कुलपति ने की, कि समिति ने मानदेय लेने के बाद भी प्रक्रिया पूरी नहीं की। इस तरह अब विवि ने उक्त कॉलेज में धारा-२८ से शिक्षक रखने के इंटरव्यू की दोबारा प्रक्रिया के लिए नए सिरे से टीम तैयार करने की बात कही है। फिलहाल, मामला होने के बाद से प्रक्रिया अटकी है।

अब विवि नहीं कॉलेजों में ही इंटरव्यू
हेमचंद विवि में पहले कॉलेजों के लिए धारा-२८ से शिक्षकों की नियुक्तियां विवि परिसर के कक्ष में की जाती थी, बाद में विवि ने जगह की किल्लत और समितियों की दिक्कत दूर करने व्यवस्था बदली। नए नियम से परिनियम-२८ नियुक्ति के लिए अब विवि की टीम उस कॉलेज में जाकर इंटरव्यू लिया करती है।

शिक्षक रेश्यों में बड़ा गोलमाल
जिन कॉलेजों में परिनियम-28 से 16 प्राध्यापक रखने चाहिए थे, वहां महज दो या तीन प्राध्यापक ही नियुक्त किए गए हैं। इसी तरह करीब १५ कॉलेज बगैर प्राचार्य ही चलाए जा रहे हैं। सालभर पहले 20 कॉलेजों पर कार्रवाई करते हुए तत्कालीन रजिस्ट्रार ने इन्हें नोटिस थमाए थे। इस बार अपनी ही टीम के साथ हुए इस मामले के बाद विवि प्रशासन ने फिलहाल सभी प्रक्रिया रोक दी है।

Show More
Mohammed Javed Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned