Breaking news पेस्ट कंट्रोल ठेके में गड़बड़ी की बीएसपी विजिलेंस में शिकायत की तैयारी

अब तक कितनी बार पेस्ट कंट्रोल के ठेकेदार को किए अर्थदण्ड और कितना.

By: Abdul Salam

Updated: 22 Jun 2021, 11:07 PM IST

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र के पीएचडी विभाग में वर्तमान इस वक्त चल रहे पेस्ट कंट्रोल के ठेके में गड़बड़ी को लेकर शिकायत की तैयारी की जा रही है। लाखों का ठेका सालभर से चल रहा था, इसके बाद भी टाउनशिप में दो-दो डेंगू के केस मिले हैं। वहीं पटरीपार में अब तक हालात टाउनशिप से बेहतर हैं। सूत्रों के मुताबिक शिकायतकर्ता तमाम दस्तावेज एकत्र कर ठेकेदार और अफसरों को लेकर शिकायत बीएसपी के विजिलेंस दफ्तर में करने की तैयारी कर रहा है। शिकायत में कुछ ऐसे दस्तावेज भी भेजे जा रहे हैं जिसमें ठेकेदारों को लाभ पहुंचाने के लिए शर्तों में समय-समय पर किए जाने वाले बदलाव शामिल हैं।

अब तक कितनी बार पेस्ट कंट्रोल के ठेकेदार को किए अर्थदण्ड और कितना
शिकायतकर्ता बीएसपी के विजिलेंस को यह बताने की कोशिश कर रहा है कि पीएचडी विभाग के तमाम दूसरे ठेकेदार को अधिकारी समय-समय पर अर्थ दण्ड करते हैं। इसके लिए अलग-अलग वजह भी बता दी जाती है। ठेकेदार उच्च प्रबंधन से मिलकर इस मामले में शिकायत कर चुके हैं। जिसमें वे तमाम दस्तावेज प्रस्तुत किए हैं। पीएचडी के अधिकारी क्या पेस्ट कंट्रोल के ठेकेदार को पिछले एक साल में अर्थदण्ड दिए हैं और कितना अर्थदण्ड दिए हैं।

बाहर के ठेकेदार पर मेहरबानी
शिकायकर्ता दस्तावेज में यह भी बता रहे हैं कि पेस्ट कंट्रोल का ठेका जिनको दिए हैं, वह दूसरे शहर का है। उसके स्थान पर कौन ठेका का संचालन कर रहा है। ठेकेदार ने पेस्ट कंट्रोल का काम सालभर किया होता तो लोगों के घर दवा पहुंचती। घर-घर में लार्वा नहीं मिलता। ठेकेदार का इस तरह से बचाव करने अधिकारी नहीं आते। अधिकारी इस तरह से बाहर के ठेकेदार के लिए परेशाना हो रहे हैं। इतनी मेहरबानी क्यों की जा रही है जांच करने मांग की जा रही है।

कितनी बोतल दवा का किए इस्तेमाल
शिकायकर्ता यह भी पूछने की तैयारी में है कि आखिर ठेकेदार ने कितनी बोतल टेमीफॉस दवा का इस्तेमाल किया है। उक्त दवा का खाली बोतल है या उसे नष्ट किया जा चुका है। ठेकेदार ने खुले मैदान में कितना काला तेल डाला। टाउनशिप में किस फॉंिगग मशीन का और कब-कब इस्तेमाल किए। वाहन कौन सा इस्तेमाल किए। अधिकारियों ने अब तक ठेकेदार को कितना भुगतान किया। पेस्ट कंट्रोल में लगे कर्मियों के खातों में कौन-कौन से माह कितनी-कितनी रकम डाली गई।

तबादले के नियम की कॉपी भेज रहा प्रबंधन को
इस विभाग के अफसरों के खिलाफ पहले भी बीएसपी के विजिलेंस में शिकायत हो चुकी है। बावजूद इसके पांच-पांच साल से अफसर जमे हुए हैं। शिकायत करने वाला केंद्र के तबादले की नियम से जुड़ी प्रति भी विजिलेंस को भेज रहा है। जिससे यह साफ हो जाए कि पीएचडी में अब तक जो शिकायत हुई है, उसकी हकीकत क्या है।

Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned