विधायक बोले: घटिया निर्माण के लिए ठेकेदार को नोटिस से कुछ नहीं होगा, अफसर के खिलाफ भी कार्रवाई हो

उरला में निर्माण के दो माह के भीतर पहली बारिश में नाली ढह जाने के मामले में विधायक अरुण वोरा का गुस्सा निगम प्रशासन पर जमकर फूटा।

By: Satya Narayan Shukla

Updated: 05 Jun 2018, 09:37 PM IST

दुर्ग. उरला में निर्माण के दो माह के भीतर पहली बारिश में नाली ढह जाने के मामले में विधायक अरुण वोरा का गुस्सा निगम प्रशासन पर जमकर फूटा। विधायक ने निगम प्रशासन पर घटिया निर्माण और भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए विरोध में निगम कार्यालय के सामने करीब चार घंटे धरना दिया। इसके बाद कलक्टोरेट पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। इस दौरान विधायक ने निगम की 11 गड़बडिय़ां गिनाकर जांच की मांग की।

25 लाख से बनाई नाली पहली बारिश में ही ढई गई
गौरतलब है कि उरला में करीब 25 लाख से बनाई गई नाली शनिवार को पहली बारिश में ही ढई गई थी। इस दौरान विधायक ने मौका मुआयना कर जांच की मांग उठाई थी। इस पर निगम प्रशासन ने ठेकेदार को नोटिस जारी कर दिया था। जबकि कांग्रेसी मामले की देखरेख करने वाले अफसर पर भी कार्रवाई चाह रहे थे। मांग की अनदेखी से नाराज विधायक अरुण वोरा मंगलवार को कांग्रेस पार्षद दल के साथ11 से 3 बजे तक निगम कार्यालय के सामने धरना दिया।

निर्माणों में गड़बड़ी के साथ सामग्रियों की खरीदी में भी भ्रष्टाचार

इस दौरान सभा में कांग्रेस नेताओं ने कहा कि निगम के अधिकारी निर्माणों में गड़बड़ी के साथ सामग्रियों की खरीदी में भी भ्रष्टाचार कर रहे हैं। धरना प्रदर्शन में शहर अध्यक्ष आरएन वर्मा, नेता प्रतिपक्ष लिखन साहू, अलताफ अहमद, अजय मिश्रा, राजकुमार पाली, जमुना साहू, दान बाई तामस्कर, अब्दुल गनी, अब्दुल वहीद चौहान, मदन जैन, अमृत लोढ़ा, परमजीत सिंह भुई, शंकर सिंह ठाकुर, शकुन ढीमर, प्रकाष गीते मौजूद थे।

 

Prev Page 1 of 2 Next
Satya Narayan Shukla Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned