सलाखों के पीछे कट गई सारी जिंदगी, जब कोरोना ने दामन थामा तो अपनों ने छोड़ दिया बुजुर्ग महिला कैदी का साथ

गांजा बेचने के जुर्म पर सेंट्रल जेल दुर्ग में सजा काट रही 62 बुजुर्ग महिला कैदी कोरोना की चपेट में आ गई है। महिला को उपचार के लिए शंकराचार्य कोविड केयर सेंटर जुनवानी में दाखिल किया गया है।

By: Dakshi Sahu

Published: 17 Oct 2020, 01:44 PM IST

भिलाई. गांजा बेचने के जुर्म पर सेंट्रल जेल दुर्ग में सजा काट रही 62 बुजुर्ग महिला कैदी कोरोना की चपेट में आ गई है। महिला को उपचार के लिए शंकराचार्य कोविड केयर सेंटर जुनवानी में दाखिल किया गया है। जहां उसका हालचाल पूछने परिवार का कोई नहीं आ रहा है। बुजुर्ग को सांस लेने में तकलीफ हो रही है इस वजह से अस्पताल में रखा गया है। वहीं अस्पताल से कैदी फरार न हो जाए, इसके लिए 24 घंटे जवानों की यहां तैनाती कर दी गई है। मिली जानकारी के अनुसार महिला की हालत को देखते हुए उसके परिवार को सूचना दी गई है, लेकिन अभी तक कोई भी सदस्य अस्पताल नहीं पहुंचा है उसे देखने।

लंबे समय से है जेल में बंद
बुजुर्ग करीब 6 साल से जेल में बंद है। सजायाफ्ता कैदी से मिलने उनके परिवार के सदस्य आते हैं। मगर इस बुजुर्ग कैदी से मिलने न जेल में कोई आ रहा है और न अस्पताल में उनके तबीयत के संबंध में कोई जानकारी लेने तैयार है। बुजुर्ग कैदी अब कमजोर हो चुकी है। अस्पताल प्रबंधन उसकी खास देखभाल कर रहा है।

अस्पताल से निकाले तो बिगड़ी तबीयत
कोरोना संक्रमित महिला कैदी को शंकराचार्य, कोविड केयर सेंटर, जुनवानी से ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। जब कैदी को अस्पताल से लेकर जाने की तैयारी की जा रही थी, तब अस्पताल से बाहर लाते वक्त उसका ऑक्सीजन लेवल घट गया। चिकित्सकों ने फौरन उसे ऑक्सीजन लगाकर वापस वार्ड में दाखिल किया। अब बुजुर्ग महिला कैदी की तबीयत पहले से बेहतर है।

24 घंटे जवानों की तैनाती
अस्पताल में उक्त महिला कैदी पर नजर रखने जवानों की अलग-अलग ड्यूटी में 24 घंटे तैनाती की गई है। वहीं सजायाफ्ता कैदी को एक टैग लगा दिया गया है, जिससे उसकी अलग से पहचान हो सके। बुजुर्ग महिला की इस मुश्किल घड़ी में अस्पताल की नर्स और पूरा स्टाफ उनकी परिवार की तरह सेवा कर रहे हैं।

coronavirus Coronavirus Deaths
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned