दिगर प्रदेश से आकर दुर्ग में फैला रहे कोरोना, 60 फीसदी की ट्रेव्हल हिस्ट्री

तीसरी लहर से बच्चों की हिफाजत में जुटे पालक.

 

By: Abdul Salam

Published: 10 Sep 2021, 10:40 PM IST

भिलाई. जिला में पिछले 7 दिनों के दौरान कोरोना के 16 नए मरीज मिले हैं। जिसमें 60 फीसदी मामले दूसरे राज्यों से आने से फैलने वाले हैं। त्योहारी सीजन में कोरोना के मामले में उझाल से तीसरी लहर की आशंका को बल मिल रहा है। बच्चों का टीका आने में अभी वक्त है, जिसकी वजह से पालक कोरोना महामारी से बच्चों की हिफाजत में जुटे हैं। रेलवे स्टेशनों में उतरने वाले मुसाफिरों की कोरोना जांच करने अलग-अलग शिफ्ट में टीम तैनात की गई है। वहीं सड़क मार्ग से आने वालों पर कोई रोक-टोक नहीं है। महाराष्ट्र और दिगर राज्यों से हर दिन लोगों का व्यापार के सिलसिरे में आना जाना लगा हुआ है।

आंद्र प्रदेश से लौटे
टाउनशिप में रहने वाले बुजुर्ग आंद्र प्रदेश से लौटे। लक्षण देखकर घर वालों ने कोरोना जांच करवाया। तब उसमें रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। तब हॉस्पिटल में दाखिल करना पड़ा। इसी तरह से एक परिवार के चार सदस्य तमिलनाडू से लौटे सभी की जांच की गई। सारे के सारे संक्रमित मिले। इनको भी हॉस्पिटल में दाखिल किया गया।

महाराष्ट्र से आया कोरोना
भिलाई में एक ही घर में रहने वाले पति और पत्नी दोनों ही संक्रमित मिले हैं। वे भिलाई में रहते हैं और सभी बच्चे महाराष्ट्र में रहते हैं। बच्चों का आना-जाना रहता है। ऐसे में घर पर ही रहने वाले बुजुर्ग संक्रमित हो गए। दोनों को होम आइसोलेशन में रखा गया है।

भुवनेश्वर से आए 2 और 4 को किया संक्रमित
पॉश कालोनी, तालपुरी में रहने वाले एक परिवार के दो बुजुर्ग सदस्य भुवनेश्वर से लौटे। लक्षण नजर आया तब घर के सारे सदस्यों ने जांच करवाया। जिसमें घर के पूरे 6 सदस्य संक्रमित मिले। परिवार के सदस्यों को बुजुर्गों को एहतियात के तौर पर अस्पताल में दाखिल किया और शेष सदस्य होम आइसोलेशन में हैं। निगम की टीम ने यहां स्टीकर चस्पा किया है और कंटेंनमेंट जोन घोषित किया गया है।

Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned