इंजीनियर्स को CG PSC और व्यापमं के लिए तैयार करेगा CSVTU, अनुभवी शिक्षक देंगे नि:शुल्क कोचिंग

छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय अब इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स को लोक सेवा आयोग (सीजीपीएससी) की नि:शुल्क कोचिंग भी देगा। जो स्टूडेंट्स व्यापमं की तैयारी में जुटे हैं, उनकी भी मदद करेगा।

By: Dakshi Sahu

Published: 22 Nov 2020, 04:35 PM IST

भिलाई. छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय अब इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स को लोक सेवा आयोग (सीजीपीएससी) की नि:शुल्क कोचिंग भी देगा। जो स्टूडेंट्स व्यापमं की तैयारी में जुटे हैं, उनकी भी मदद करेगा। अनुभवी शिक्षक स्टूडेंट्स के डाउट क्लीयर करेंगे। इसकी शुरुआत हो चुकी है। सीएसवीटीयू प्रशासन ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए कहा है कि फिलहाल कक्षाएं ऑनलाइन मोड में चलेंगी। सबकुछ ठीक होने के बाद विवि इसको और विस्तार करेगा। विवि द्वारा यह कार्यक्रम टेक्यूप के तहत शुरू किया गया है। अभी इसमें शाम 7 से 8.30 बजे तक छत्तीसगढ़ विषय की पढ़ाई कराई जा रही है, जिसमें कोई भी स्टूडेंट्स शामिल होकर फायदा ले सकते हैं। उनको पढ़ाने के लिए अनुभवी शिक्षकों को रखा है। विवि ने इसके लिए शेड्यूल बना दिया है, जिसमें हर दिन के हिसाब से अलग-अलग विषय कवर किए जाएंगे।

क्यों पड़ी इसकी जरूरत
टेक्यूप कार्यक्रम के समन्वयक थानेश्वर साहू ने बताया कि विवि अपने स्तर पर कंपनियों से टाइ-अप करके स्टूडेंट्स को कैंपस प्लेसमेंट दिलाने की कोशिश भी कर रहा है। इसी कड़ी में स्टूडेंट्स को शासकीय नौकरियों की ओर मोडऩे का सोचा गया। यही वजह थी कि विवि की यूटीडी में या कॉलेज में पढ़ रहे स्टूडेंट्स को नि:शुल्क पीएससी और व्यापमं की कोचिंग कराने का निर्णय लिया गया है। इस तैयारी से स्टूडेंट्स खुद को अपडेट भी कर सकेंगे। इसका फायदा उनको प्रतियोगी परीक्षाओं में तो होगा ही साथ में कंपनियों के प्लेसमेंट के भी टाइम पर पढ़ी हुई जानकारियां काम आएंगी।

कैसे करेंगे नामांकन
फ्री कोचिंग में नामांकन करने की प्रक्रिया भी सामान्य है। विवि प्रशासन ने बताया कि कोचिंग की जानकारी कॉलेजों को भेजी जाएगी। हर कॉलेज में टेक्यूप कॉर्डिनेटर बनाए हैं जो पंजीयन की प्रक्रिया को पूरा करेंगे। स्टूडेंट्स को लिंक मिलेगा, जिसपर क्लिक करने पर वे विवि की वेबसाइट पर पहुंच जाएंगे, जहां अपनी जानकारी देकर पंजीयन करना है। अभी विवि 550 इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स को पढ़ा रहा है, जिनके दो बैच लिए जा रहे हैं। पूरी सिस्टम ऑनलाइन रखा गया है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned