बीएसपी के सेक्टर-9 हॉस्पिटल का डीएनबी डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव

प्रबंधन ने उठाए एहतियात के तौर पर ठोस कदम.

By: Abdul Salam

Updated: 14 Jun 2020, 09:12 PM IST

भिलाई. पंडित जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केंद्र, सेक्टर-9 हॉस्पिटल के डीएनबी डॉक्टर की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है। वे सेक्टर-9 हॉस्पिटल के रेडियोलॉजी विभाग के सोनोग्राफी कक्ष में सेवा दे रहे थे। सूचना मिलने के बाद हॉस्पिटल प्रबंधन ने रेडियोग्राफी कक्ष जाने वाले रास्ते को सील कर दिया है।

48 घंटे बंद रखने की योजना
हॉस्पिटल प्रबंधन के मुताबिक सेक्टर-9 के उस रास्ते को 48 घंटे बंद रखने की तैयारी की जा रही है। जिस राह में रेडियोलॉजी विभाग है। जिससे यहां के दूसरे डॉक्टर या कर्मचारी तक कोरोना वायरस न फैले। इसके लिए खास तरह से तैयारी जानकारी मिलने के बाद से ही शुरू कर दी गई है।

सोनोग्राफी कक्ष को किया जा रहा सैनिटाइज
डीएनबी डॉक्टर की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद सेक्टर-9 हॉस्पिटल प्रबंधन सोनोग्राफी रूम को खास तौर पर सैनिटाइज करने में जुटा है। इसके साथ-साथ दूसरे कक्ष को भी सैनिटाइज किया जाएगा। इसके लिए टीम को लगा दिया गया है। रक्त की जांच, रक्तदान भी इस राह में ही होता है।

कर्मियों को उस राह से गुजरने किया मना
प्रबंधन ने हॉस्पिटल के किसी भी कर्मचारी को इस राह से गुजरने से रविवार को ही मना कर दिया। सेक्टर-9 में सैकड़ों कर्मचारी काम करते हैं। जिससे इस वायरस से कोई और प्रभावित न हो। अब एहतियात के तौर पर ठोस कदम उठाने को लेकर चर्चा की जा रही है।

हर माह आते हैं एक लाख मरीज
सेक्टर-9 हॉस्पिटल में हर माह करीब एक लाख मरीज आते हैं। हर दिन करीब 3 हजार से अधिक मरीज यहां पहुंचते हैं। इनको किसी तरह से परेशानी न हो। इसका ध्यान भी प्रबंधन रख रहा है। प्रबंधन के मुताबिक डीएनबी डॉक्टर रिसाली, इस्पात नगर से आना-जाना करता था। बीएसपी के पं. जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय, सेक्टर-9 में उपचार के लिए बीएसपी कर्मचारियों का परिवार व आसपास लगे हुए गांव, शहर से मरीज पहुंचते हैं। सेक्टर-9 अस्पताल में प्रतिवर्ष गैर बीएसपी मरीज लगभग 12 लाख पहुंच रहे हैं। इनकी संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है। वहीं हर वर्ष चिकित्सकों की संख्या घटते जा रही है।

रहना होगा अल्र्ट
कोरोना पॉजिटिव मरीज सेक्टर-9 हॉस्पिटल में मिलने से कर्मियों में हड़कंप है। बीएसपी के तकरीबन 860 बिस्तरों वाले इस चिकित्सालय में रोगियों का दबाव हमेशा बना रहता है। इसमें 55 फीसदी अगर बीएसपी के मरीज आते हैं, तो 45 फीसदी नान बीएसपी वाले। इस तरह से बड़ी संख्या में मरीजों के आने वाले आसपास के सबसे बड़े हॉस्पिटल प्रबंधन को अब अल्र्ट रहना होगा।

रास्ते को किया है सील

भिलाई इस्पात संयंत्र जनसंपर्क के मुताबिक सेक्टर 9 हॉस्पिटल के रेडियोलोजी विभाग के प्रशिक्षु डीएनबी डॉक्टर के कोविड पॉजिटिव रिजल्ट आने से आज जवाहरलाल नेहरु चिकित्सालय सेक्टर 9 हॉस्पिटल के रेडियोलॉजी डिपार्टमेंट को राज्य शासन के निर्देशानुसार पूर्ण रूप से सैनिटाइज किया गया व सील कर दिया गया है। अत: रेडियोलोजी विभाग सील रहने तक वहां कोई भी कार्य नहीं किया जा सकेगा। सेक्टर 9 अस्पताल के प्रबंधन ने लोगों से अपील की है की अति आवश्यक ना होने से हॉस्पिटल में ना आए क्योंकि हॉस्पिटल में संक्रमण फैलने के अधिक संभावना है।

Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned