Breaking news सीएमएचओ पद पर बने रहेंगे डॉक्टर गंभीर सिंह ठाकुर

डॉक्टर केके जैन के नाम को लेकर भी सुगबुगाहट.

By: Abdul Salam

Published: 02 May 2021, 11:27 PM IST

भिलाई. चीफ मेडिकल हेल्थ ऑफिसर, दुर्ग डॉक्टर गंभीर सिंह ठाकुर को चंद दिनों तक काम करने का मौका और मिल गया है। आदेश में साफ कहा गया है कि उपरोक्त संविदा नियुक्ति किसी भी एक पक्ष से एक माह की पूर्व सूचना या इसके एवज में एक माह का वेतन दिया जाकर समाप्त की जा सकेगी। इसके पीछे अहम वजह जिला में मौजूद सीनियर चिकित्सकों की नेताओं और अफसरों के मध्य पैठ को माना जा रहा है। सीएमएचओ, दुर्ग का नाम 30 अप्रैल 2021 से पहले तय हो जाना था। एक चिकित्सक का नाम तय किया जाता तो दूसरे नेता का फोन आ जाता और दूसरे चिकित्सक का नाम अंतिम मुहर के लिए पहुंचता, तब तक किसी बड़े अधिकारी का फोन आ जाता। इस तरह से इस मामले में पेंच आ गया है।

क्या है आज जारी आदेश में
छत्तीसगढ़ शासन, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग मंत्रालय उप सचिव सुरेंद्र सिंह बांधे ने जारी आदेश में कहा है कि वर्तमान में दुर्ग जिले में कोविड-19 संक्रमण के मामलों में हो रहे इजाफा के कारण स्वास्थ्य व चिकित्सा सुविधाएं निरंतर बनाए रखने की दृष्टि से राज्य शासन ने छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (संविदा नियुक्ति) नियम, २०१२ के तहत विशेष प्रकरण मानते हुए नियम ९ (३) व ४ (३) को नियम १७ के तहत शिथिल करते हुए डॉक्टर गंभीर सिंह ठाकुर, सेवानिवृत मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी, जिला दुर्ग को उनके द्वारा कार्यभार ग्रहण करने की तिथि से सीमित अवधि के लिए संविदा नियुक्ति प्रदान करता है तथा उन्हें मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी जिला दुर्ग के पर पर अस्थायी रूप से आगामी आदेश पदस्थ करता है। संविदा नियुक्ति के दौरान उन्हें संविदा नियुक्ति नियम 2012 के प्रावधानों तथा वित्त विभाग से समय-समय पर जारी निर्देशों के मुताबिक वेतन व भत्ते देय होंगे।

डॉक्टर केके जैन के नाम को लेकर भी सुगबुगाहट
वहीं दूसरी ओर पहले सीएस के तौर पर दुर्ग जिला अस्पताल में सेवा दे चुके डॉक्टर केके जैन का नाम भी सीएमएचओ के पद के लिए सामने आ रहा है। बताया जा रहा है कि वे राजधानी में मौजूद बड़े अफसरों के नजदीकी हैं। इसके साथ-साथ सीनियर डॉक्टर हैं। जिसकी वजह से उनके नाम पर मुहर लग सकती है। दूसरी ओर अन्य सीनियर चिकित्सक अब भी पूरी कोशिश में जुटे हैं।

दौड़ में यह है शामिल
चीफ मेडिकल हेल्थ ऑफिसर, दुर्ग पद की दौड़ में जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉक्टर पी बालकिशोर का नाम प्रमुखता से सामने आ रहा है। विधायक अरुण वोरा के करीबी है। इसके बाद डॉक्टर जेपी मेश्राम मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, बालोद का नाम कतार में है। विधायक अरुण वोरा के करीब रहने वाले हैं। इसी तरह से डॉक्टर एसके मंडल मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी, कबीरधाम को सीएम के करीबी बताया जाता है। इनके छोटे भाई प्रमुख सचिव छत्तीसगढ़ शासन चुके हैं। इसके साथ-साथ वे मंत्री मोहम्मद अकबर के भी करीबी है। डॉक्टर छाया तिवारी जॉइंट डायरेक्टर रायपुर में है, वह मार्च 2017 से सितंबर 2017 तक दुर्ग में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के पद पर काम कर चुके हैं। इस वजह से उनका भी नाम इस कतार में शामिल है। डॉक्टर सीबीएस बंजारे जिला मलेरिया अधिकारी भी इस दौड़ में शामिल हैं, वे गृहमंत्री के करीबी हैं।

COVID-19 Covid-19 in india
Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned