कड़ाके की ठंड: 10 साल में पहली बार पारा 7 डिग्री सेल्यिस पर अटका, शीतलहर की चपेट में दुर्ग जिला

इस बार देर से ही सही पर ठंड ने रिकॉर्ड तोड़ा है। शहर में यह 10 वर्षों में पहली बार हुआ है जब पारा लगातार 7 डिग्री सेल्सियस पर अटका हुआ है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले 48 घंटे में पारा और नीचे आएगा।

By: Dakshi Sahu

Published: 24 Dec 2020, 12:57 PM IST

भिलाई. इस बार देर से ही सही पर ठंड ने रिकॉर्ड तोड़ा है। शहर में यह 10 वर्षों में पहली बार हुआ है जब पारा लगातार 7 डिग्री सेल्सियस पर अटका हुआ है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले 48 घंटे में पारा और नीचे आएगा। साथ ही शहर में शीतलहर का भी असर रहेगा। उत्तर पूर्व से आ रही ठंडी हवा के असर से दिन में भी शीतलहर की स्थिति रहेगी। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिनों में प्रदेश के कई हिस्सों में शीतलहर चलेगी और न्यूनतम तापमान सामान्य से काफी कम होगा। हालांकि प्रदेश में बुधवार को अधिकांश शहरों का न्यूनतम तापमान 7 से 10 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा।

और कम होगा तापमान
मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा ने बताया कि प्रदेश में फिर से उत्तर पूर्व हवा का असर है। जिसकी वजह से सभी संभाग में न्यूनतम तापमान और कम होगा। खासकर अंबिकापुर, जगदलपुर और दुर्ग में पारा और नीचे उतरेगा। हालांकि दुर्ग में दिसंबर के अंतिम सप्ताह में ही हर साल रिकार्ड ठंड दर्ज की जाती है। अब तक जिले में सबसे कम तापमान 5.4 डिग्री सेल्सियस 2014 में 29 दिसंबर और 2018 में 30 दिसंबर को दर्ज किया गया था

अलाव का सहारा
कड़ाके की ठंड के बीच भिलाई शहर में कई जगहों पर लोगों ने अलाव जलाकर ठंड से निजात पाने की कोशिश की। फुटपाथ और खुले आसमान के नीचे रहने वाले लोगों को कुछ स्वयंसेवी संगठनों ने कंबल और चादर भी बांटे। ताकि किसी तरह उन्हें कड़ाके की ठंड में थोड़ी राहत मिल सके।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned