OMG! हड्डी समझ कर कुत्ते ने खा लिया बम, धमाके में उड़ गए चीथड़े, मचा हड़कंप

कुत्ते ने विस्फोटक पदार्थ खा लिया। खाते ही जोरदार आवाज के साथ धमाका हुआ और कुत्ता ढेर हो गया। घटनास्थल देवी मंदिर के समीप की है।

By: Satya Narayan Shukla

Updated: 06 Jun 2018, 12:08 PM IST

राजनांदगांव/गंडई-पंडरिया. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में एक अजब-गजब मामला सामने आया है। यहां एक कुत्ते ने विस्फोटक पदार्थ खा लिया। विस्फोटक प्रदार्थ खाते ही जोरदार आवाज के साथ धमाका हुआ और कुत्ता ढेर हो गया। चूंकि घटनास्थल देवी मंदिर के समीप की है इसलिए यह खबर पूरे नगर सहित क्षेत्र में आग की तरह फैल गई।

दरअसल गंडई-पंडरिया नगर स्थित देवी गंगई मन्दिर जैसे सार्वजनिक जगह पर शाम को लगभग 5.30 बजे अचानक विस्फोट से हड़कंप मच गया। यह विस्फोट कुत्ते के जबड़े में हुआ था। इससे कुत्ते की मौत हो गई। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर इसी तरह का एक जिंदा विस्फोटक बरामद किया है।

आदमी के पहले कुत्ते की नजर पड़ी
बताया जाता है कि इस तरह के विस्फोटक पदार्थ का वनांचल क्षत्रों में खूंखार जंगली जानवरों को मारने के लिए उपयोग किया जाता है। लेकिन यह विस्फोटक प्रदार्थ नगर के भीड़ वाले इलाके में कैसे आया, किसने लाया और आदमी के पहले कुत्ते की नजर कैसे पहले पड़ी यह जांच का विषय है। बहरहाल पुलिस जिंदा मिले विस्फोटक को फोरेंसिक जांच के लिए भेजी है।

विस्फोट के बाद भी कुत्ता करीब 15 मिनट तक जिंदा था
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मंदिर के पास शाम 5.30 बजे प्लास्टिक के जार में रखे मिनी विस्फोटक प्रदार्थ से कुत्ते की मौत हो गई। तेज आवाज से आसपास बैठे व्यापारी व अन्य दंग रह गए। घटना नगर में आग की तरह फैल गई। मौके पर गंडई पुलिस पहुंचकर घटना स्थल से लोगों को हटाया और उक्त विस्फोटक प्रदार्थ को अपने कब्जे में लिया। बताया गया कि विस्फोट के बाद कुत्ता करीब १५ मिनट तक जिंदा था।

बड़ा हादसा टला
प्लास्टिक के जार में रखे विस्फोटक को कुत्ता खाने-पीने की चीज (यानि हड्डी) समझकर उठा ले गया। जार को मंदिर के समीप रखकर खाने लगा। जैसे ही इसे वह चबाया इसके बाद उसके जबड़े में ही जोर की आवाज के साथ विस्फोट हो गया। इससे कुत्ते की मौत हो गई। जानकार बताते हैं कि यदि यह विस्फोटक किसी बाइक के नीचे आता तो बाइक भी उड़ जाती। बच्चे उठा लेते तो बड़ा हादसा हो सकता था।

एक नग जिंदा विस्फोटक को कब्जे में लिया

एसआई व विवेचना अधिकारी गंडई योगेश अग्रवाल ने बताया कि सूचना मिलते ही घटना स्थल पहुंचा, जहां से भीड़ को हटाया। इसे जंगली व उत्पात मचाने वाले जानवरों को मारने वाले विस्फोटक प्रदार्थ बताते हैं। मौके से एक नग जिंदा विस्फोटक को कब्जे में लिया है, उसे फोरेंसिक जांच के लिए भेजा है।

Satya Narayan Shukla Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned