scriptFather-in-law shot and killed daughter-in-law with a gun | घरेलू विवाद में ससुर ने की बहू की देसी कट्टे से गोली मारकर हत्या, सास और पति भी था प्लानिंग में शामिल | Patrika News

घरेलू विवाद में ससुर ने की बहू की देसी कट्टे से गोली मारकर हत्या, सास और पति भी था प्लानिंग में शामिल

घर में सरिता काठले(29) का शव मिला था और पास ही एक ही देसी कट्टा बरामद किया था। पहले तो परिजनों ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन कड़ी पूछताछ में वे टूट गए।

भिलाई

Published: January 29, 2022 03:00:23 pm

कवर्धा. देसी कट्टे से बहू की हत्या कर बेड पर सुलाया। फिर खुद ही कुकदुर थाने पहुंचा और हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई। प्रार्थी पुलिस को गुमराह करता है, लेकिन पुलिस ने आरोपियों को धर दबोचा। मामले में पुलिस ने मृतिका के पति, ससुर और सास को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मामला थाना कुकदुर अंतर्गत ग्राम सनकपाट की है। घर में ही सरिता काठले(29) का शव मिला था और पास ही एक ही देसी कट्टा बरामद किया था। पहले तो परिजनों ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन कड़ी पूछताछ में वे टूट गए।
घरेलू विवाद में ससुर ने की बहू की देसी कट्टे से गोली मारकर हत्या, सास और पति भी था प्लानिंग में शामिल
घरेलू विवाद में ससुर ने की बहू की देसी कट्टे से गोली मारकर हत्या, सास और पति भी था प्लानिंग में शामिल
बिलासपुर से खरीदकर लाया देसी कट्टा
मृतिका के देवर की शादी होने वाली है जिसके शादी में लगने वाले सामान व खर्च का वहन मृतिका नहीं करना चाहती थी और घर से अलग होना चाहती थी। मृतिका कपड़ा सिलाई का काम कर धन अर्जित करती थी, तो घर में अपना हर कार्य अपने अनुसार करवाना चाहती थी। इस कारण मृतिका के पति गोलू उर्फ विजय काठले ने अपनी पत्नी के हत्या करने के नियत से देसी कट्टा बिलासपुर से खरीद कर लाया। मौका पाकर हत्या करने के लिए अपने मां-बाप के पास रखवा दिया। 21 जनवरी 2022 को मृतिका का विवाद अपने सास भगवंतिन के साथ होने से मृतिका के ससुर दाऊलाल काठले द्वारा देसी कट्टा से पीठ पर गोली मार कर हत्या करना स्वीकार किया।
इन्होंने किया आरोपियों को पकडऩे में मेहनत
पुलिस टीम ने आरोपी ससुर दाऊलाल काठले(55), सास भगवंतिन बाई (53) और पति गोलू उर्फ विजय काठले (38) को गिरफ्तार कर ज्यूडिशियल रिमांड पर न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर जेल भेज दिया। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी कुकदुर निरीक्षक मुकेश सोम, उनि रामकिशन मरकाम, सउनि राजकुमार चंद्रवंशी, प्रधान आरक्षक चन्द्रकुमार साहू, बालक दास टण्डन, महिला प्रधान आरक्षक रमसिया कवर, आरक्षक प्रकाश सिंदराम, दुजराम सिवराम, रामकुमार श्याम, सहायक आरक्षक शिवचरण यादव का योगदान रहा।
जांच करने दुर्ग की फोरेसिंग टीम भी पहुंची
मामले की गंभीरता को देखते हुए साइबर सेल टीम, डॉग स्क्वायड घटनास्थल पहुंचे। वरिष्ठ वैज्ञानिक अधिकारी दुर्ग यूनिट दुर्ग को बुलाया गया। उक्त टीम द्वारा घटना स्थल निरीक्षण शव पंचनामा कार्रवाई के दौरान मामला देसी कट्टा से मारकर मृतिका का हत्या करना पाया गया। मामले में धारा 302 भादवी, 27 आम्र्स एक्ट कायम कर विवेचना में लिया गया। मामला अत्यंत संवेदनशील होने से मामले की बारीकी से जांच के लिए अलग टीम बनाई थी। आरोपी के विरुद्ध उचित साक्ष्य प्राप्त कर पतासाजी किया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.